मकर संक्रान्ति ही नहीं पूरी सर्दियां खाएं तिल के लड्डू, मिलेंगे ये फायदे

तिल में भरपूर मात्रा में कैल्शियम, आयरन, ऑक्जेलिक एसिड, अमीनो एसिड, प्रोटीन, विटामिन बी, सी और ई होता है. वहीं, गुड़ में भी सुक्रोज, ग्लूकोज और खनिज तरल पाया जाता है. जब इन दोनों का कॉम्बिनेशन मिलता है तो इस लड्डू के गुण और बढ़ जाते हैं. 

मकर संक्रान्ति ही नहीं पूरी सर्दियां खाएं तिल के लड्डू, मिलेंगे ये फायदे

तिल के लड्डू खाने के फायदे

खास बातें

  • सर्दी करे दूर
  • अस्थमा में दिलाए राहत
  • कमज़ोरी करे दूर
नई दिल्ली:

मकर संक्रान्ति के मौकै पर तिल और गुड़ के लड्डू खाए जाते हैं. ये ना सिर्फ खाने में स्वादिष्ट होते हैं बल्कि यह कई गुणों से भी भरपूर होते हैं. तिल में भरपूर मात्रा में कैल्शियम, आयरन, ऑक्जेलिक एसिड, अमीनो एसिड, प्रोटीन, विटामिन बी, सी और ई होता है. वहीं, गुड़ में भी सुक्रोज, ग्लूकोज और खनिज तरल पाया जाता है. जब इन दोनों का कॉम्बिनेशन मिलता है तो इस लड्डू के गुण और बढ़ जाते हैं. 

मकर संक्रांति 2018: पूजा व‍िधि, मंत्र, स्‍नान का शुभ मुहूर्त, महत्‍व और मान्‍यताएं​

1. सर्दी करे दूर   
गर्म तासीर की वजह से ये लड्डू सर्दियों में होने वाली दिक्कतों जैसे सर्दी-खांसी और जोड़ों में दर्द में आराम दिलाता है. इसके साथ ही जिन लोगों को ज़्यादा ठंडी लगती है उनके लिए ये लड्डू बहुत फायदेमंद होते हैं. इसे लगातार खाने से शरीर में गर्मी बनी रहती है और ठंड का लगना कम हो जाता है.

Makar Sankranti 2018: इस मकर संक्रान्ति अपने दोस्तों को SMS, Facebook और WhatsApp पर भेजें ये 5 स्पेशल मैसेज​

2. पेट करे ठीक
अगर आपको कब्ज की परेशानी हो या खाने को पचाने में दिक्कत आती हो तो रोज़ाना इन लड्डुओं को खाएं. जिन्हें तिल पसंद नहीं वो लोग सिर्फ गुड़ खाने से भी इस परेशानी से राहत पा सकते हैं. 

मकर संक्रांति 2018: अपने चाहने वालों को ये मैसेज भेजकर दें शुभकामनाएं​

3. अस्थमा में दिलाए राहत
सर्दियां अस्थमा के मरीज़ों के लिए काफी दिक्कत लेकर आती है. हवा में ऑक्सीजन की कमी और बढ़ता प्रदूषण उन्हें सांस लेने में दिक्कत देता है. सर्दियों में खांसी और कफ की वजह से भी सांस लेने में दिक्कत आती है. ऐसे में उनके शरीर को गर्म रखने के लिए और कफ को बाहर निकालने के लिए रोज़ाना तिल के लड्डू असरदार साबित हो सकते हैं. आप चाहे तो इन लड्डुओं को दूध के साथ भी ले सकते हैं. 

4. जोड़ों में दर्द
रोज़ाना तिल के लड्डू का सेवन जोड़ों के दर्द में बहुत राहत देता है. क्योंकि गुड़ और तिल में मौजूद आइरन जोड़ों को मज़बूत बनाता है. आप इन लड्डुओं को रोज़ाना रात को दूध के साथ खाएं. क्योंकि दूध की मदद से कैल्शियम और विटामिन डी भी आपको मिलेगा, जो हड्डियों के लिए और भी फायदेमंद होता है. 

5. कमज़ोरी करे दूर
अगर आप हल्का-सा दौड़ने पर थक जाते हैं या फिर सीढ़ियां चढ़ने से आपकी सांसे फूल जाती हैं तो ये लड्डू आपके लिए कमाल का साबित हो सकता है. इन्हें रोज़ाना खाने से शरीर छोटी-छोटी बीमारियों से बचेगा जिससे आपको एनर्जी मिलेगी. 

नोट - इस लड्डुओं को गर्मी के मौसम में खाने से बचें. शरीर में ज़्यादा गर्माहट से आपको नाक से खून निकलना, चोट के वक्त खून का ज़्यादा बहना और हर वक्त गर्मी लगना जैसी दिक्कतें हो सकती हैं.  

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

देखें वीडियो - जयपुर में मकर संक्रांति से जुड़ी कुछ खास परंपराएं...​