Happy Holi 2017: इस बार दीवारों पर बाहरी रंग टिकने ना दें...

Happy Holi 2017: इस बार दीवारों पर बाहरी रंग टिकने ना दें...

होली पर केवल बाहरी दीवारों का ही नहीं, घर के इंटीरियर को बचाना भी ज़रूरी है

आप होली पर बच्चों को मस्ती करने से तो नहीं रोक सकते. लेकिन अपनी दीवारों पर उनकी शरारत की छाप पड़ने से ज़रूर बचा सकते हैं.

होली के दिन केवल आप ही नहीं, बल्कि आपके घरों की दीवारें भी रंग जाती हैं, जिन्हें साफ करना कई बार काफी मुश्किल होता है. इसलिए होली से पहले और बाद में थोड़ी एहतियात बरतकर आप इस मुश्किल से छुटकारा पा सकती हैं. इन आसान तरीकों से आप आपकी दीवारों के रंगों को बरकरार रख सकते हैं... 

दीवारों पर दाग-रोधी रंगों का इस्तेमाल करें
बाजार में दीवारों के लिए (मैट, सेमी-ग्लास और ग्लॉसी) कई तरह के फिनिशेस (रंग के प्रकार) मौजूद हैं. दीवारों पर दाग-रोधी रंगों के इस्तेमाल करना चाहिए, क्योंकि इससे दीवारों पर लगे धब्बे आसानी से साफ किए जा सकते हैं. 

दाग मिटाने के लिए दीवारों को अधिक न रगड़ें. 
दीवारों पर लगाए गए सिंथेटिक रंगों पर सामान्यत: गहरे दाग पड़ जाते हैं. इसलिए दागों को छुड़ाने के लिए उसे ज्यादा रगड़ने से बचें. रंगों को खराब होने से बचाने के लिए नरम टॉवल से दाग छुटाएं. 

इंटीरियर का भी रखें ख्याल
होली पर केवल बाहर की दीवारों पर नहीं घर के अंदर भी ध्यान दें. घर के अंदर की दीवारों, लकड़ियों के सामानों और फर्नीचर को ढंक लें. पानी युक्त एनेमल की मदद से आप छत, खिड़कियों, दरवाजों की सुरक्षा कर सकते हैं. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

पर्यावरण अनुकूल रंगों का इस्तेमाल करें
रसायन रहित पर्यावरण अनुकूल रंगों के इस्तेमाल से आप घर की दीवारों की सुरक्षित रख सकते हैं. इनसे आपकी सेहत पर बुरा असर नहीं पड़ता और ये दिखने में भी काफी इंप्रेसिव होते हैं.

एजेंसी से इनपुट