जरूरतमंदों की मदद के लिए किचन में तबदील हुआ ये पुलिस थाना, रोज 8 अफसर बनाते हैं खाना

इस पहल को पुलिस ने उस वक्त शुरू किया जब एक शख्स ने अपनी बेटी को कैंसर की वजह से खो दिया और पुलिस अधिकारियों को खाने का सामान जरूरदमंदों की मदद के लिए दिया. 

जरूरतमंदों की मदद के लिए किचन में तबदील हुआ ये पुलिस थाना, रोज 8 अफसर बनाते हैं खाना

गुजरात की पुलिस जरूरतमों को खाना खिला कर रही है मदद.

नई दिल्ली:

मजदूर और जरूरतमंद लोगों को लॉकडाउन के दौरान सबसे ज्यादा परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. कई लोग पैदल ही अपने घर जाने को मजबूर हैं. हालांकि, ऐसे में कई दूसरे लोग जरूरमदों की मदद के लिए भी आगे आ रहे हैं. इसी तरह का एक मामला गुजरात के वडोदरा में भी सामने आया है. दरअसल, वडोदरा पुलिस ने अपने थाने को जरूरदमों को खाना खिलाने के लिए किचन में परिवर्तित कर दिया है. 

टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के मुताबिक, जरूरतमंद लोगों की मदद के लिए वडोदरा पुलिस ने उन्हें खाना खिलाने के जिम्मेदारी उठाई है और इसके लिए पुलिस ऑफिसर पुलिस स्टेशन में ही कम्युनिटी किचन चला रहे हैं. इस पहल को पुलिस ने उस वक्त शुरू किया जब एक शख्स ने अपनी बेटी को कैंसर की वजह से खो दिया और पुलिस अधिकारियों को खाने का सामान जरूरदमंदों की मदद के लिए दिया. 

पुलिस अधिकारी पहले से ही बहुत से जरूरमंद लोगों की परेशानी जानते थे और इस वजह से उन्होंने अपने पुलिस स्टेशन में ही खाना बनाना शुरू कर दिया. डीसीपी सरोज कुमारी ने 8 पुलिस अधिकारियों की एक टीम बनाई जो ड्यूटी खत्म होने के बाद किचन में काम करते हैं. शुरुआत में सीनियर पुलिस अधिकारी ही राशन के लिए पैसे दान करते रहे और खाना बनाने वाले पुलिसकर्मी इस बात को निश्चित नहीं थे कि वो कितने लंबे वक्त तक इस कम्युनिटी किचन को चला पाएंगे.

हालांकि, जब लोगों को इसकी जानकारी मिली तो वे राशन और पैसे किचन के लिए दान करने लगे. डीसीपी सरोज ने कहा, "संस्कारीनगर के कुछ लोगों ने राशन और पैसों के जरिए पुलिस की मदद की है. इस किचन में रोजाना कम से कम 600 लोगों के लिए पुलिस द्वारा खाना तैयार किया जाता है. इसके बाद वो खाना पैक कर जरूरतमंदों तक इसे पहुंचाते हैं." 
 

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com