NDTV Khabar

रोटी या चावल? जानिए वजन कम करने के लिए दोनों में से क्या है बेहतर

हर 120 ग्राम गेंहू के आटे में 190 मिलीग्राम सोडियम होता है. लेकिन चावलों में कोई सोडियम नहीं होता.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
रोटी या चावल? जानिए वजन कम करने के लिए दोनों में से क्या है बेहतर

रोटी या चावल? क्या है बेहतर

खास बातें

  1. रोटी से पूरे दिन पेट भरा रहता है
  2. चावल जल्दी पच जाते हैं
  3. रोज़ाना चार हल्की रोटियां दिन में खाएं
नई दिल्ली: बात जब भारतीय खाने की हो तो तमाम तरह के पकवान दिमाग में आ जाते हैं. चिकन, शाही पनीर, आलू, हरी सब्ज़ियां, दाल, राजमा इन तमाम खानों की हज़ारों वेराइटी यहां मिलती है. लेकिन खास बात इन्हें खाया सिर्फ दो चीज़ों के साथ जाता है और वो है रोटी और चावल. कार्ब्स और कैलोरीज़ से भरी इन दोनों चीजों को हर भारतीय परिवार में रोज़ाना खाया जाता है. 

वजन घटाने के लिए पी रहे नींबू पानी तो आपके लिए ये जानना है जरूरी

ऐसे में जिन लोगों को भी अपना वजन कम करना होता है वो रोटी और चावल दोनों को अपनी डाइट से हटा देते हैं. लेकिन इन्हें अपनी डाइट से एकदम हटा देने से शरीर में कमज़ोरी आती है. क्योंकि दोनों ही अपने-अपने गुणों की वजह से हेल्दी डाइट चार्ट को पूरा करते हैं. जहां रोटी से पूरा दिन पेट भरा रहता है वहीं चावल में मौजूद स्टार्च की वजह से वो जल्दी डाइजेस्ट हो जाता है. 

ये हैं कुकिंग के वो 5 तरीके जो आपके खाने को बना रहे हैं जहरीला

अब ऐसे में वज़न कम करने के लिए कौन-सी छोड़नी चाहिए और कौन-सी नहीं, जानिए यहां.
 
roti rice

1. रोटी ज़्यादा पोषण से भरपूर होती है. लेकिन इसमें सोडियम भी पाया जाता है. हर 120 ग्राम गेंहू के आटे में 190 मिलीग्राम सोडियम होता है. लेकिन चावलों में कोई सोडियम नहीं होता. तो अगर आप अपनी डाइट से सोडियम खत्म करना चाहते हैं तो रोटियां अवॉइड करें.   

खजूर खाने के ये हैं 12 बड़े फायदे, आसपास भी नहीं फटकेंगी बीमार‍ियां​

2. चावल में लोअर डाइटरी फाइबर होता है, जबकि रोटी में प्रोटीन और फाइबर की मात्रा ज़्यादा होती है. 

3. रोटी में फाइबर की मात्रा ज़्यादा होने की वजह से यह आपकी छोटी-छोटी भूख को खत्म कर ओवरइटिंग से बचाती है. यानी ये आपको ज़्यादा खाने से रोककर मोटापे से बचाती है.     

भरपूर खाएं और इन 3 Steps से कम करें अपना मोटा पेट​

4. चावल में प्रचूर मात्रा में कैलोरी होती है और इसमें स्टार्च भी अधिक होता है, इसीलिए यह जल्दी पच जाते हैं. इसी वजह से चावल खाने के बाद आपको जल्दी भूख लगती है. 

5. रोटी के हर एक निवाले से कैल्शियम, पोटेशियम, आइरन, फॉस्फोरस शरीर में पहुंचता है. हालांकि, चावल में कैल्शियम नहीं होता और इसमें पोटेशियम और फॉस्फोरस भी कम मात्रा में होता है. 

6. रोटी पचने में ज़्यादा वक्त लेती हैं इसीलिए यह ब्लड शुगर लेवल नॉर्मल रखने में मदद करती है. 

स्वास्थ्य के लिए यह दोनों चीज़ें बहुत लाभदायक हैं. इसीलिए ज़रूरी है कि इन्हें सही मात्रा में खाया जाए. 

1. रोज़ाना चार हल्की रोटियां दिन में खाएं. आप चाहें तो अनाजों से भरपूर रोटी भी खा सकते हैं. 
2. रात में कोशिश करें कि डिनर 7.30 से पहले ही खा लें, ताकि रोटियां आपके सोने से पहले पच सकें.
3. अगर आप चावल खा रहे हैं तो ब्राउन राइस खाएं. 

टिप्पणियां
देखें वीडियो - डब्बावालों का रोटी बैंक, भूख मिटाने की मुहिम
 

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement