NDTV Khabar

प्रेमचंद और रूसी लेखक दोस्तोएवेस्की की कहानियों पर बनी फिल्म

राज ने फिल्म प्रेमचंद और दोस्तोएवेस्की कहानियों की दुनिया का विलय करने के बारे में बताया, "दोनों लेखक दुनिया के दो अलग हिस्सों से ताल्लुक रखते हैं, इसलिए तुरंत इसे मिलाने का प्रयास नहीं किया."

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
प्रेमचंद और रूसी लेखक दोस्तोएवेस्की की कहानियों पर बनी फिल्म

भारतीय लेखक मुंशी प्रेमचंद की कहानी 'बिन्नी' और रूस के लेखक फ्योदोर दोस्तोएवेस्की की किताब 'द ड्रीम ऑफ ए रिडिक्यूलस मैन' और 'व्हाइट ड्रीम्स' की कहानियों ने शरद राज को एक स्वतंत्र फिल्म निर्माण की प्रेरणा दी है. इससे पहले टेलीविजन उद्योग से जुड़े रहे और दो लघुफिल्मों में काम कर चुके शरद राज 'एक बेतुके आदमी की अफरा रातें' फिल्म के जरिए निर्देशन के क्षेत्र में कदम रख रहे हैं. राज ने फिल्म प्रेमचंद और दोस्तोएवेस्की कहानियों की दुनिया का विलय करने के बारे में बताया, "दोनों लेखक दुनिया के दो अलग हिस्सों से ताल्लुक रखते हैं, इसलिए तुरंत इसे मिलाने का प्रयास नहीं किया."

उन्होंने कहा, "विषयवस्तु की दृष्टि से दोनों कहानियां मुझे अपील करती हैं. फिल्म का अधिकांश हिस्सा दोस्तोएवेस्की की कहानी पर आधारित है और प्रेमचंद की कहानी का छोटा सा हिस्सा है, वास्तव में मैं गहरे सामाजिक जुड़ाव की तलाश कर रहा था और मुझे यह प्रेमचंद की कहानी से मिला."

कुल मिसाकर प्यार इस कहानी का सार है, जिसके लिए राज विशबेरी प्लेटफॉर्म के जरिए लोगों से फिल्म के निर्माण के लिए 26 लाख रुपये की राशि इकट्ठी कर रहे हैं. फिल्म की कहानी उत्तर प्रदेश की पृष्ठभूमि पर आधारित है. 


टिप्पणियां

भारतीय फिल्म एवं टेलीविजन संस्थान (एफटीटीआई) के पूर्व छात्र राज का कहना है कि साहित्यिक रचनाओं को अपनाना उनके लिए स्वभाविक बात रही. राज उम्मीद करते हैं कि फिल्म महोत्सवों में फिल्म को जगह मिलेगी और इसे सराहा जाएगा. 

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement