Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

चित्रा मुद्गल सहित 12 को हिंदी सेवी सम्मान...

हिंदी सेवी सम्मान की शुरुआत आगरा स्थित केंद्रीय हिंदी संस्थान द्वारा साल 1989 में की गई थी. हिंदी भाषा और साहित्य के क्षेत्र में विद्वानों को उनके योगदान के लिए 12 विभिन्न श्रेणियों में पुरस्कार दिए जाते हैं. पुरस्कृत विद्वानों को प्रशस्तिपत्र, दुशाला और पांच लाख रुपये नकद दिए जाते हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
चित्रा मुद्गल सहित 12 को हिंदी सेवी सम्मान...

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने मंगलवार को राष्ट्रपति भवन में आयोजित एक समारोह में जानीमानी कथाकार चित्रा मुद्गल सहित 12 शख्सियतों को हिंदी सेवी सम्मान प्रदान किए. समारोह में केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर व अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे. हिंदी सेवी सम्मान की शुरुआत आगरा स्थित केंद्रीय हिंदी संस्थान द्वारा साल 1989 में की गई थी. हिंदी भाषा और साहित्य के क्षेत्र में विद्वानों को उनके योगदान के लिए 12 विभिन्न श्रेणियों में पुरस्कार दिए जाते हैं. पुरस्कृत विद्वानों को प्रशस्तिपत्र, दुशाला और पांच लाख रुपये नकद दिए जाते हैं.

हिंदी सेवी सम्मान के तहत गंगाशरण सिंह पुरस्कार प्रो. एस. शेषारत्नम, डॉ. एम. गोविंदराजन, प्रो. हरमहिंदर सिंह बेदी, प्रो. एच. सुवदनी देवी को दिया गया. गणेश शंकर विद्यार्थी पुरस्कार : नेशनल बुक ट्रस्ट के अध्यक्ष बल्देव भाई शर्मा और टीवी पत्रकार राहुल देव को, आत्माराम पुरस्कार डॉ. गिरीश चंद्र सक्सेना और डॉ. फणि भूषण दास को दिया गया.

सुब्रह्मण्य भारतीय पुरस्कार प्रो. सूर्य प्रसाद दीक्षित और कथाकार चंद्रकांता को तथा महापंडित राहुल सांकृत्यायन पुरस्कार कथा लेखिका चित्रा मुद्गल व दलित साहित्य के क्षेत्र में नामचीन हस्ती डॉ. जयप्रकाश कर्दम को दिया गया.


इसी क्र में डॉ. जॉर्ज ग्रियर्सन पुरस्कार प्रो. फुजिइ ताकेशि (जापान), प्रो. गब्रिएला निक इलिएवा (अमेरिका) को और पद्मभूषण डा. मोटूरि सत्यनारायण पुरस्कार डॉ. पुष्पिता अवस्थी (नीदरलैंड्स) व डॉ. पद्मेश गुप्त (ब्रिटेन) को दिया गया.

टिप्पणियां

सरदार वल्लभ भाई पटेल पुरस्कार प्रो. बी.आर. छीपा, दयाप्रकाश सिन्हा को, स्वामी विवेकानंद पुरस्कार श्रीधर पराडकर व डॉ. श्रीरंजन सूरिदेव को तथा पंडित मदन मोहन मालवीय पुरस्कार प्रो. नित्यानंद पांडेय व जगदीश प्रसाद सिंघल को दिया गया. राजर्षि पुरुषोत्तम दास टंडन पुरस्कार प्रो. शिवदत्त शर्मा और प्रो. अशोक कुमार शर्मा के हाथ आया.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... Zomato का डिलीवरी बॉय 'सोनू' बना इंटरनेट सेंसेशन, कंपनी ने ट्विटर पर लगाई DP, लोग बोले- इसकी सैलरी बढ़ा दो प्लीज

Advertisement