अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के लिए जारी किया AAP का घोषणा पत्र, किए ये 8 अहम वादे

आम आदमी पार्टी (Aam Adami Party) के प्रमुख व दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करके दिल्ली के लिए घोषणापत्र जारी की.

खास बातें

  • अरविंद केजरीवाल ने जारी की घोषणा पत्र
  • दिल्ली के लोगों से की ये अपील
  • जानें ये 8 खास बातें
नई दिल्ली:

आम आदमी पार्टी (Aam Adami Party) के प्रमुख व दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करके दिल्ली के लिए घोषणापत्र जारी की. इस दौरान उनके अलावा मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia), गोपाल राय, संजय सिंह और सभी सात उम्मीदवार भी मौजूद रहे. घोषणा पत्र जारी करते हुए अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने कहा, ''2019 का यह चुनाव किसी एक पार्टी या मैनिफेस्टो का चुनाव नहीं, भारत के इतिहास में यह टर्निंग पॉइंट साबित हो सकता है. 2019 का यह चुनाव भारत के संविधान को बचाने का चुनाव है. अगर भारत बचेगा तो पार्टियां बचेंगी, मैनिफेस्टो बचेगा.'' 

उत्तर प्रदेश के इटावा में किसका पलड़ा है भारी, क्या कहते हैं आंकड़े, पढ़ें- ग्राउंड रिपोर्ट

अरविंद केजरीवाल ने कहा, ''2019 का यह चुनाव बीजेपी की इस लाइन को हटाने का चुनाव है. आम आदमी पार्टी का बस एक एजेंडा है- अमित शाह और मोदीजी की जोड़ी को केंद्र में सरकार बनाने से रोकना. जो भी सरकार बने इनके अलावा, आम आदमी पार्टी उसका समर्थन करेगी. 

70 साल पुरानी दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिलाएगी, उसके लिए जो भी करना पड़ेगा करेंगे. दिल्ली की सातों सीटें अहम है.'' केजरीवाल ने दिल्ली वालों से अपील है कि पीएम बनाने के लिए वोट मत देना, दिल्ली को पूर्ण राज्य बनाने के लिए वोट देना.

केजरीवाल के मुताबिक, यदि दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा मिलेगा तो इन चीजों का मिलेगा लाभ-

  1. यदि दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा मिलेगा तो महिलाएं सुरक्षित होंगी. दिल्ली पुलिस के अंदर दो तिहाई पोस्ट खाली पड़ी है उसे भर जाएगा. दिल्ली पुलिस का आधुनिकीकरण किया जाएगा.
  2. दिल्ली कॉलेज में बच्चों को दाखिल नहीं मिलता, दिल्ली के बच्चों के लिए 85 फीसदी सीट आरक्षित कर देंगे. 
  3. दिल्ली में कॉलेज खोलने, 60 फीसदी नंबर आने वाले बच्चों को भी दाखिला मिलेगा.
  4. दिल्ली सरकार की नौकरी में दिल्ली के लोगों के लिए 85 फीसदी नौकरी आरक्षित की जाएगी.
  5. पूर्ण राज्य बनने के बाद कर्मचारियों को पक्का किया जाएगा. 
  6. दिल्ली के इलाकों को हरा भरा किया जाएगा. 
  7. 10 साल में दिल्ली वालों को सस्ती और आसान किश्तों में घर बनाकर दिया जाएगा. 
  8. डीडीए भ्रष्टाचार का अड्डा बन चुकी है. एंटी करप्शन ब्रांच (एसीबी) को वापस दिल्ली सरकार के अंदर लेकर आएंगे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

Video: दिल्ली के बस यात्रियों ने बताया, लोकसभा चुनाव में किन मुद्दों पर देंगे वोट