NDTV Khabar

आम आदमी पार्टी ने कहा- दिल्ली में बीजेपी और कांग्रेस के बीच हुआ अघोषित गठबंधन

दिल्ली सरकार के मंत्री गोपाल राय ने कहा- कांग्रेस अप्रत्यक्ष रूप से भाजपा को फायदा पहुंचाने का काम कर रही

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
आम आदमी पार्टी ने कहा- दिल्ली में बीजेपी और कांग्रेस के बीच हुआ अघोषित गठबंधन

दिल्ली के मंत्री गोपाल राय ने कहा है कि दिल्ली में कांग्रेस और बीजेपी का अघोषित गठबंधन हो गया है.

खास बातें

  1. दिल्ली में अकेले लोकसभा चुनाव लड़ेगी कांग्रेस
  2. दिल्ली में बीजेपी विरोधी गठबंधन की संभावना खत्म
  3. 'आप' ने कहा कांग्रेस के लिए देश से बड़ी उसकी पार्टी
नई दिल्ली:

दिल्ली के केबिनेट मंत्री एवं आम आदमी पार्टी के दिल्ली प्रदेश संयोजक गोपाल राय ने कहा कि देश की भावनाएं कुछ और हैं और कांग्रेस की भावनाएं कुछ और हैं. कांग्रेस ने दिल्ली में आम आदमी पार्टी के साथ किसी भी प्रकार का गठबंधन न करने की बात की है. इसी प्रकार से उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल में अपने प्रत्याशी उतारने का ऐलान भी कांग्रेस की मंशा पर एक प्रश्नचिन्ह लगाता है. कहीं कांग्रेस का बीजेपी के साथ अघोषित गठबंधन तो नहीं हो गया है.

गोपाल राय ने मंगलवार को एक प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि पिछले चार साल से दिल्ली में कांग्रेस वही भाषा बोल रही है जो बीजेपी बोलती है. बीजेपी की पिछले पांच साल की तानाशाही को देखते हुए देश की जनता में लोकतंत्र को बचाने की भावना जगी. जनता ने चाहा कि देश का पूरा विपक्ष एकजुट होकर मोदी और शाह की इस तानाशाही से देश को बचाए. कांग्रेस ने देश के करोड़ों लोगों की उस मंशा का गला घोंटने का काम किया है.

राय ने कहा कि कांग्रेस जिस तरह से पूरे देश में विपक्षी पार्टियों के खिलाफ अपने प्रत्याशी चुनाव में उतार रही है, उसको देखकर यही प्रतीत होता है कि कांग्रेस अप्रत्यक्ष रूप से बीजेपी की मदद करने का काम कर रही है.ऐसा लगता है कि जिस प्रकार से पंजाब में बीजेपी ने आम आदमी पार्टी को हराने के लिए अप्रत्यक्ष रूप से कांग्रेस को जिताने में उसका साथ दिया, उसी अहसान का बदला चुकाने के लिए कांग्रेस दिल्ली में आम आदमी पार्टी को हराने के लिए अप्रत्यक्ष रूप से बीजेपी की मदद कर रही है.


गठबंधन से इनकार के बाद अरविंद केजरीवाल का कांग्रेस पर हमला, कही यह बात- Twitter पर यूं आए रिएक्शन

गोपाल राय ने कहा कि 2015 के इलेक्शन में आम आदमी पार्टी ने जनता के साथ मिलकर दिल्ली का चुनाव लड़ा और कांग्रेस एवं बीजेपी के अघोषित गठबंधन की जमानत जब्त कराने का काम किया था. उसी तर्ज पर एक बार फिर आम आदमी पार्टी पूरे दमखम के साथ दिल्ली के लोकसभा चुनाव में अपने प्रत्याशी उतारेगी और बीजेपी-कांग्रेस के इस अघोषित गठबंधन का कड़ा जवाब देगी.

गोपाल राय ने कहा कि कांग्रेस का राष्ट्रीय संगठन अभी तक यह दलील दे रहा था कि राज्य का संगठन गठबंधन के लिए राजी नहीं है, परंतु आज राष्ट्रीय संगठन एवं राज्य संगठन की बैठक के बाद कांग्रेस का गठबंधन न करने का जो बयान आया वह इस बात को दर्शाता है कि कांग्रेस के लिए पार्टी देश से बड़ी है.

आप को नहीं मिला कांग्रेस का साथ, तो कुमार विश्वास ने उड़ाया अरविंद केजरीवाल का मजाक

बीजेपी को घेरते हुए गोपाल राय ने कहा कि वह देश की सेना को चुनावी मुखौटा बनाकर जनता को बहकाने का काम कर रही है. पिछले पांच साल में बीजेपी ने केवल और केवल देश की अर्थव्यवस्था को नुकसान पहुंचाने और देश को आगे बढ़ाने के बजाय पीछे ले जाने का काम किया है. उन्होंने कहा कि अगर सचमुच बीजेपी ने जनता के हित में कोई काम किए हैं, तो सेना के नाम का सहारा लेना छोड़कर अपने कामों के आधार पर जनता से वोट मांगे. जनता उसे इसका जवाब दे देगी.

उन्होंने कहा कि मोदी जी ने देश और दिल्ली की जनता से झूठ बोला. बीजेपी के 2014 के घोषणा पत्र में साफ तौर पर उन्होंने दिल्ली की जनता से वादा किया था, कि अगर दिल्ली की सातों सीटों पर बीजेपी के सांसद जीतकर आते हैं तो दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिलाएंगे. परंतु जीत के बाद एक भी सांसद ने संसद में दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिलाने की चर्चा तक नहीं की. आम आदमी पार्टी का दिल्ली को पूर्ण राज्य बनाने का एजेंडा बरकरार है.

VIDEO : कांग्रेस को 'आप' के साथ गठबंधन मंजूर नहीं

टिप्पणियां

उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी अपनी 1000 टीमें बनाकर दिल्ली में उतारेगी. यह टीमें दिल्ली के कोने-कोने में जाकर जनता को बीजेपी और कांग्रेस की असली सूरत से रूबरू कराएंगी.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement