NDTV Khabar

चुनाव नजदीक आते BJP की भाषा का स्तर और गिरेगा, देश नया PM चाहता है: अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सोमवार को सपा-बसपा गठबंधन से भाजपा निराश और कुंठाग्रस्त है. चुनाव करीब आते-आते भाजपा के लोगों की भाषा में अभी और गिरावट दिखेगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
चुनाव नजदीक आते BJP की भाषा का स्तर और गिरेगा, देश नया PM चाहता है: अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (फाइल फोटो).

खास बातें

  1. अखिलेश यादव का बीजेपी पर निशाना
  2. कहा- चुनाव नजदीक आते BJP की भाषा का स्तर और गिरेगा
  3. उन्होंने कहा कि देश नया पीएम चाहता है
लखनऊ:

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सोमवार को सपा-बसपा गठबंधन से भाजपा निराश और कुंठाग्रस्त है. चुनाव करीब आते-आते भाजपा के लोगों की भाषा में अभी और गिरावट दिखेगी. अखिलेश ने बसपा मुखिया मायावती पर अभद्र टिप्पणी करने वाली भाजपा की महिला विधायक साधना सिंह की भाषा पर यह बयान दिया. उन्होंने एक बार फिर दोहराया कि देश की जनता अगले चुनाव के बाद नया प्रधानमंत्री चाहती है. उन्होंने कहा कि देश नए प्रधानमंत्री का इंतजार कर रहा है. क्या भाजपा के पास प्रधानमंत्री पद के लिए कोई नया चेहरा है? अखिलेश ने सपा प्रदेश कार्यालय में पार्टी की छात्र इकाई के पदाधिकारियों से भेंट करने के बाद पत्रकार वार्ता में भाजपा सरकार पर झूठ बोलने का आरोप लगाते हुए कहा कि सुनने में आया है कि भारत का डंका दुनिया में बज रहा है. चलो..कम से कम ठोको नीति से डंके पर तो आ गए.

यूपी के लिए क्या है अमित शाह का प्लान, आंकड़ों में देखिए BJP मजबूत या SP-BSP गठबंधन?


उन्होंने कहा कि इतना बड़ा झूठ बोलने में भी भाजपा को शर्म नहीं आ रही है. हकीकत यह भी है कि भुखमरी और बेरोजगारी सबसे ज्यादा भारत में है. यही नहीं हेल्थ इंडीकेटर्स पर जाएं और बीमारियों पर चर्चा करें तो कई स्टडी बताती हैं कि दुनिया में सबसे ज्यादा बीमारी भारत में फैल रही हैं. अखिलेश ने कहा कि दुनिया में कहीं भी भीड़ आदमी को मार रही हो. इसका भी तो डंका बज रहा होगा. उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में ही नहीं दुनिया में सबसे ज्यादा झूठ भाजपा ने बोला है. उनकी राजनीतिक भाषा, व्यवहार जनता ने देख लिया है. अब तो चुनाव के दिन कम बचे हैं अब उन्हें जनता बताएगी.

समय-समय पर PM मोदी की तारीफ करने वाले अमर सिंह क्या ज्वाइन करेंगे BJP? जानिये क्या मिला जवाब

भाजपा विधायक द्वारा बसपा मुखिया मायावती पर की गई अभद्र टिप्पणी पर अखिलेश ने कहा कि कोई राजनीतिक दल यह ट्रेनिंग नहीं देता होगा कि क्या भाषा होगी. भाजपा के लोग जो भारतीय संस्कृति की दुहाई देते हैं, सोचिए उनकी भाषा क्या है. उनकी विधायक ने बसपा मुखिया मायावती के लिए जिस स्तर की घटिया भाषा का इस्तेमाल किया, वह गलत है. क्या राजनीति में ऐसी भाषा का इस्तेमाल नहीं होना चाहिए. अखिलेश ने कहा कि भाजपा विधायक की भाषा से तो लग रहा है कि यह लोग फ्रस्टेट (कुंठाग्रस्त) और हताश हैं. कहा कि भाजपा वाले अपने काम ना बताकर दूसरी तरफ चुनाव ले जाना चाहते हैं. उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर इशारा करते हुए कहा कि बड़ी कुर्सी वाले की भी भाषा बदल गई है. अभी तो चुनाव करीब आ रहा है. अभी इनकी भाषा का स्तर और गिरेगा.

अखिलेश यादव पर अमर सिंह का हमला, 'थ्री-C' की थ्योरी पर हुआ SP-BSP गठबंधन, जानें क्या हैं इसके मायने...

एक सवाल पर उन्होंने कहा, "भाजपा ने 40 से ज्यादा पार्टियों के साथ गठबंधन किया है. कोलकाता में तो अभी 20-22 दल के नेता ही साथ नजर आए हैं. हमारे पास तो प्रधानमंत्री के कई दावेदार हैं, लेकिन भाजपा के पास कोई नया नाम नहीं है. जीत का दावा कर रही भाजपा के पास अगर इस पद के लिए कोई दूसरा चेहरा हो तो बताए. गठबंधन तो अपना प्रधानमंत्री आसीन करने की तैयारी में लगा है." उन्होंने कहा कि एक बात तो तय है कि देश नया प्रधानमंत्री का बेसब्री से इंतजार कर रहा है. नया प्रधानमंत्री ही सारी समस्याएं दूर कर देगा. 

ममता के मंच से गरजे अखिलेश यादव: चुनाव के समय मोदी सरकार CBI और ED से गठबंधन कर रही है

उन्होंने कहा कि सपा-बसपा नेतृत्व ने गठबंधन के बाद सीट बंटवारे के मामले में उत्तर प्रदेश की कई सीटों पर निर्णय ले लिया है. इसका एलान भी जल्द होगा. सपा सरंक्षक मुलायम सिंह के चुनाव लड़ने के सवाल पर अखिलेश ने कहा कि नेता जी (मुलायम सिंह) जहां से चाहें वहां से चुनाव लड़ेंगे. 

टिप्पणियां

VIDEO: कोलकाता में विपक्ष की संयुक्त रैली में बोले अखिलेश यादव- नए साल में नया प्रधानमंत्री हो



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement