NDTV Khabar

लोकसभा चुनाव: पिता मुलायम सिंह की आजमगढ़ सीट से चुनाव लड़ेंगे अखिलेश यादव, जानें कहां से लड़ेंगे आजम खान

उत्तर प्रदेश: सपा प्रमुख अखिलेश यादव आजमगढ़ तो आजम खान रामपुर से लड़ेंगे लोकसभा चुनाव

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. आजमगढ़ से लोकसभा चुनाव लड़ेंगे अखिलेश यादव.
  2. मुलायम सिंह यादव की सीट है आजमगढ़.
  3. आजम खान को रामपुर से लड़ाया जाएगा.
नई दिल्ली:

समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव किस सीट से लोकसभा चुनाव लड़ेंगे इसका फैसला हो गया है. समाजवादी पार्टी ने जो नई लिस्ट जारी की है, उसके मुताबिक अखिलेश यादव आजमगढ़ से चुनाव लड़गें और वहीं आजम खान रामपुर से चुनाव लड़ेंगे. इससे पहले खबरें थीं कि समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अगला लोकसभा चुनाव अपनी पत्नी की सीट कन्नौज से लड़ सकते हैं. मगर अब समाजवादी पार्टी ने ऐसी खबरों पर से विराम लगा दिया है और अब यह तय हो गया है कि सपा प्रमुख अखिलेश यादव आजमगढ़ से ही चुनाव लड़ेंगे.

समाजवादी पार्टी ने लोकसभा  चुनाव में जीत का परचम लहराने के लिए अपने स्टार प्रचारकों की टीम का भी ऐलान कर दिया है. समाजवादी पार्टी ने अपने स्टार कैंपेनर्स की लिस्ट जारी की है. इस लिस्ट में अखिलेश यादव, राम गोपाल यादव, आजम खान, डिंपल यादव और जया बच्चन समेता कईओं के नाम हैं. हैरान करने वाली बात है कि इस लिस्ट में मुलायम सिंह यादव का नाम नहीं है. स्टार प्रचारकों की लिस्ट में 40 नेताओं के नाम हैं.


दरअसल, अखिलेश यादव ने कन्नौज सीट से 2009 का आम चुनाव जीता था. 2012 में मुख्यमंत्री बनने के बाद कन्नौज की सीट खाली हो गई थी. अब यहां से उनकी पत्नी डिंपल यादव यहां से चुनाव लड़ेंगी जो अभी वर्तमान सांसद हैं. अखिलेश यादव के पिता मुलायम सिंह यादव आज़मगढ़ के मौजूदा सांसद हैं, जिनके पास एक बड़ा मुस्लिम-यादव वोट बैंक है. समाजवादी पार्टी के संरक्षक को मैनपुरी में स्थानांतरित कर दिया गया है, जो समाजवादी पार्टी का गढ़ भी है. 

टिप्पणियां

इससे पहले समाजवादी पार्टी ने अपने उम्मीदवारों की कई लिस्ट जारी कर दी है, जिसमें उनके उन नेताओं के नाम हैं जिन्हें जहां से चुनाव लड़ने हैं. बात 2014 के लोकसभा चुनाव की करें तो भाजपा ने 71 सीटों पर जीत हासिल की थी और उसे 42.63 फीसदी मत हासिल हुए थे. भाजपा की सहयोगी अपना दल ने दो सीटें जीती थीं.सपा ने पांच सीटें जीती थीं और उसकी वोट हिस्सेदारी 22.35 प्रतिशत थी. बसपा एक भी सीट नहीं जीत पायी थी और उसका वोट प्रतिशत 19 . 77 था. कांग्रेस 2014 में दो सीटें जीत पायी थी और उसे 7.53 फीसदी मत मिले थे. कांग्रेस के खाते में अमेठी (राहुल गांधी) और रायबरेली (सोनिया गांधी) की सीटें गयी थीं. 

Video: सपा-बसपा गठजोड़ से कांग्रेस बाहर क्यों?



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement