NDTV Khabar

अमेठी में बूथ कैप्चरिंग का मामला: पीठासीन अधिकारी को हटाया गया, बुजुर्ग महिला ने लगाया था कांग्रेस को वोट दिलाने का आरोप

अमेठी के एक पोलिंग बूथ पर एक बुजुर्ग महिला ने आरोप लगाया था कि उनसे जबरन कांग्रेस के पक्ष में वोट डलवाया गया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अमेठी में बूथ कैप्चरिंग का मामला: पीठासीन अधिकारी को हटाया गया, बुजुर्ग महिला ने लगाया था कांग्रेस को वोट दिलाने का आरोप

लोकसभा चुनाव 2019 के लिए पांचवें चरण में 51 सीटों पर वोटिंग हो रही है.

नई दिल्ली:

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की संसदीय सीट अमेठी में कथित 'बूथ कैप्चरिंग' मामले में चुनाव आयोग (Election Commission) ने बड़ी कार्रवाई की है. चुनाव आयोग ने अमेठी का पीठासीन अधिकारी को हटा दिया है. अमेठी के एक पोलिंग बूथ पर एक बुजुर्ग महिला ने आरोप लगाया था कि उनसे जबरन कांग्रेस (Congress) के पक्ष में वोट डलवाया गया. बुजुर्ग महिला की वीडियो सामने आने के बाद भाजपा उम्मीदवार स्मृति ईरानी ने वीडियो शेयर करते हुए कांग्रेस पर निशाना साधा था. बीजेपी ने आरोप लगाया है कि एक बुजुर्ग महिला से जबरदस्ती कांग्रेस के निशान वाले बटन को बदवाया गया. इस वीडियो को अमेठी के बीजेपी (BJP) आईटी सेल के संयोजक ने शेयर किया है, जिसे केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने भी शेयर कर राहुल गांधी पर बूथ कैप्चरिंग का आरोप लगाया है और चुनाव आयोग से संज्ञान लेने को कहा था. 

बता दें, लोकसभा चुनाव 2019 के लिए पांचवें चरण में 51 सीटों पर वोटिंग हो रही है. इस चरण में अमेठी और रायबरेली की सीटों पर सबकी नजरें हैं, क्योंकि इस बार राहुल गांधी और स्मृति ईरानी के बीच कांटे की टक्कर की उम्मीद है. यूपी के 16 जिलों की 14 लोकसभा सीटों के लिए हो रही वोटिंग के बीच बूथ कैप्चरिंग की घटना सामने आई है.


'हम देहे जात रहिन कमल पर, हाथ पकड़के पंजा पर धर दिहिन': VIDEO शेयर कर स्मृति ईरानी ने लगाया बूथ कैप्चरिंग का आरोप

स्मृति ईरानी ने जिस वीडियो को अपने ट्विटर पर शेयर किया है, उसमें एक बुजुर्ग महिला कैमरे के सामने कहती है 'हाथ पकड़कर हमार जबरदस्ती पंजा पर धर दिहिन. हम देहे जात रहिन कमल पर ( कमल पर देना चाहती थी, जबरदस्ती पंजा पर डलवा दिया). हम धरे जात रहिन कमल पर, मगर अपने हाथे पंजा पर दबा दिहिन.' बीजेपी नेता विवेक महेश्वरी ने इस वीडियो के साथ जानकारी भी दी है कि यह मामला गौरीगंज के गूजरटोला बूथ नंबर 316 का है जहां पीठासीन अधिकारी ने जबरदस्ती कांग्रेस को वोट डलवा दिया. हालांकि, यह वीडियो कितना सही है और कितना गलत, इसकी पुष्टि अभी तक नहीं हो पाई है. 

टिप्पणियां

बिहार में बूथ कैप्चरिंग का मामला, चुनाव आयोग ने की बड़ी कार्रवाई, 20 कर्मियों को किया निलंबित

Video: बीजेपी उम्मीदवार लॉकेट चटर्जी ने लगाया बूथ कैप्चरिंग का आरोप



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement