पूर्ण राज्य के दर्जे को लेकर अरविंद केजरीवाल का बीजेपी पर हमला, कहा- अटल जी के ही सपने को तो...

अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने लिखा कि अटल जी दिल्ली को पूर्ण राज्य बनाने के लिए संसद में बिल लाए थे. भाजपा अटल जी की अस्थियों को देश भर में घुमाकर वोट मांग रही है पर अटल जी के अधूरे सपने को पूरा नहीं करना चाहती.

पूर्ण राज्य के दर्जे को लेकर अरविंद केजरीवाल का बीजेपी पर हमला, कहा- अटल जी के ही सपने को तो...

अरविंद केजरीवाल ने की पूर्ण राज्य के दर्जे की मांग

खास बातें

  • विजय गोयल के ट्वीट के जवाब में किया सीएम केजरीवाल ने ट्वीट
  • कहा- अटल जी भी चाहते थे दिल्ली को पूर्ण राज्य बनाना
  • स्कूल की फीस को लेकर भी रखी अपनी बात
नई दिल्ली:

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिलाने को लेकर एक बार फिर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर हमला बोला है. उन्होंने (Arvind Kejriwal) बुधवार को अपनी इस मांग को लेकर एक ट्वीट भी किया. अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने लिखा कि अटल जी दिल्ली को पूर्ण राज्य बनाने के लिए संसद में बिल लाए थे. भाजपा अटल जी की अस्थियों को देश भर में घुमाकर वोट मांग रही है पर अटल जी के अधूरे सपने को पूरा नहीं करना चाहती. खास बात यह है कि अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने यह ट्वीट बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री विजय गोयल के उस ट्वीट के जवाब में किया था जिसमें उन्होंने लिखा था कि न ममता बनर्जी ने संसद में कभी पूर्ण राज्य का मुद्दा उठाया, और न बीस साल में कभी उन्होंने दिल्ली के पूर्ण राज्य का समर्थन किया. जिन विपक्ष दलों के साथ केजरीवाल हाथ खड़े करते हुए दिखते हैं वह पहले उन नेताओं से तो पूर्ण राज्य पर समर्थन की बात कहलवा दे.

बता दें कि इससे पहले अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में स्कूल के फीस को लेकर कई ट्वीट किया था. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा था कि दिल्ली हाई कोर्ट के फैसले के बाद पिछले एक हफ्ते में दिल्ली के कई प्राइवेट स्कूलों ने फीस बढ़ा दी थी. हजारों रुपये के एरियर मांग रहे थे. पेरंट्स में भारी रोष था. आपकी सरकार ने अपील की. आज हाई कोर्ट ने स्कूलों को बढ़ी फीस लेने से रोक लगा दी है. दिल्ली के सभी पेरंट्स को बधाई.

इसके बाद उन्होंने एक और ट्वीट किया. इसमें उन्होंने लिखा कि आज अगर कोई बेईमान सरकार होती तो स्कूलों से पैसे खाकर कोर्ट में कभी अपील ना करती. मैं सभी पैरंट्स को आश्वासन देना चाहता हूं कि अब दिल्ली में आपकी अपनी सरकार है, ईमानदार सरकार है. हर हालत में आपकी और आपके हितों की रक्षा करेगी.

गौरतलब है कि दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिलाने को लेकर अरविंद केजरीवाल पहले कहा था कि दिल्ली में पूर्ण सरकार होने पर दस साल के भीतर प्रत्येक परिवार को सस्ती और आसान किश्तों पर घर मुहैया कराया जाएगा. अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने पश्चिमी दिल्ली संसदीय क्षेत्र के जनकपुरी में एक जनसभा को संबोधित करते हुये कहा था कि 70 साल पहले दिल्ली विकास प्राधिकरण (डीडीए) बना था. डीडीए केन्द्र सरकार के अंतर्गत है. डीडीए का काम था दिल्ली के प्रत्येक परिवार को सस्ती और आसान किश्तों में घर बना कर देना. डीडीए ने लोगों को घर बनाकर देने के बजाय सिर्फ प्लॉट काटकर बिल्डरों को दिये. डीडीए भ्रष्टाचार का अड्डा बन गया है."    

अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने कहा था कि दिल्ली पूर्ण राज्य बनेगी और दस साल के अंदर दिल्ली के प्रत्येक परिवार को सस्ती और आसान किश्तों पर घर बनाकर देगी. अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने कहा था कि वह इसके लिये पूरी तैयारी करके आये हैं इसीलिये इस वादे के पूरा करने के लिये दस साल का समय मांगा है. उन्होंने कहा था कि ऐसा होने पर दिल्ली में सभी मकान मालिक होंगे कोई किरायेदार नहीं होगा. 

अब भी जारी है गठबंधन की कवायद, कांग्रेस ने आम आदमी पार्टी को दिया यह आखिरी फॉर्मूला!

अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने कहा था कि दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा मिलने पर बहुत ऐसे काम होंगे जो पूर्ण राज्य नहीं होने के कारण नहीं हो पा रहे हैं. केजरीवाल ने कहा था कि पिछले चुनाव में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रामलीला मैदान की रैली में कहा था कि सभी सात सीट भाजपा के खाते में जाने पर दिल्ली को पूर्ण राज्य बना दिया जायेगा. उन्होंने कहा कि इस चुनाव में अब मोदी से हम पूछ रहे हैं कि पांच साल हो गये, पूर्ण राज्य का वादा पूरा करने के बजाय अब वह इस वादे से ही मुकर गये हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: NDTV से बोले अरविंद केजरीवाल, 'एयर स्ट्राइक का चुनाव पर असर नहीं'