NDTV Khabar

अरविंद केजरीवाल बोले- कांग्रेस को गठबंधन के लिए मना-मना कर थक गए, वे दिल्ली और यूपी में BJP को जिताना चाहते हैं

केजरीवाल ने जनता को संबोधित करते हुए कहा, 'हम कांग्रेस को मना मना कर थक गए कि गठबंधन कर लो गठबंधन कर लो. उनकी समझ में नहीं आ रहा. आप से पूछना चाहता हूं कि गठबंधन होना चाहिए कि नहीं?' इस जनसभा में मौजूद लोगों ने कहा, 'होना चाहिए.'

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. अरविंद केजरीवाल बोले- कांग्रेस को मनाकर थक गए
  2. कहा- कांग्रेस नहीं कर रही गठबंधन
  3. केजरीवाल ने साथ ही कांग्रेस पर बोला हमला
नई दिल्ली:

आम आदमी पार्टी (AAP) के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने कहा कि हम कांग्रेस (Congress) से गठबंधन की बात करते-करते थक गए हैं, लेकिन उसने हमारे साथ गठबंधन नहीं किया. सीएम केजरीवाल ने चांदनी चौकी में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, 'गठबंधन के लिए हम कांग्रेस से बात कर-कर के थक गए. लेकिन कांग्रेस ने हमारे साथ गठबंधन नहीं किया. कांग्रेस दिल्ली और उत्तर प्रदेश में भाजपा को जिताना चाहती है.'

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अगर मुझे ये भरोसा हो जाए कि दिल्ली में बीजेपी को कांग्रेस हरा देगी तो मैं सातों सीटें छोड़ दूंगा.


केजरीवाल ने जनता को संबोधित करते हुए कहा, 'हम कांग्रेस को मना मना कर थक गए कि गठबंधन कर लो गठबंधन कर लो. उनकी समझ में नहीं आ रहा. आप से पूछना चाहता हूं कि गठबंधन होना चाहिए कि नहीं?' इस जनसभा में मौजूद लोगों ने कहा, 'होना चाहिए.'

AAP से हाथ मिलाने के लिए विपक्षी दलों ने राहुल से की पैरवी तो दिया यह जवाब

बता दें, अरविंद केजरीवाल ने हालही कहा था कि दिल्ली में गठबंधन को लेकर कांग्रेस ने 'लगभग मना कर दिया.' उनका यह बयान विपक्षी दलों के साथ बैठक के बाद आया था. इस बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) भी शामिल थे. केजरीवाल ने कहा था, ' हमारे मन में देश को लेकर बहुत ज्यादा चिंता है. इसी वजह से हम लालायित हैं. उन्होंने (कांग्रेस) लगभग मना कर दिया.'

कांग्रेस के साथ गठबंधन के सवाल पर बोले CM केजरीवाल- उन्होंने लगभग मना कर दिया

आगामी लोकसभा चुनाव के लिए विपक्ष की रणनीति के लिए एनसीपी नेता शरद पवार के घर हुई बैठक में अरविंद केजरीवाल शामिल थे. इस बैठक में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी थे. बैठक के बाद राहुल गांधी के बयान से संकेत मिला है कि पश्चिम बंगाल और दिल्ली में कांग्रेस अकेले चुनाव लड़ेगी. पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी की टीएमसी और दिल्ली में अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी की सरकार है. राहुल गांधी ने कहा था, 'एक दूसरे के खिलाफ भी चुनाव लड़ेंगे.'

अरविंद केजरीवाल बोले- दिल्ली पर आक्रमण का सपना पाकिस्तान देखता है, मगर मोदी जी आप भी यही कर रहे हैं

वहीं सूत्रों के मुताबिक विपक्षी दलों की इस बैठक मे यह तय किया गया कि चुनाव के पहले गठबंधन किया जाएगा. बैठक में न्यूनतम साझा कार्यक्रम पर भी बात हूई. सूत्रों के मुताबिक महागठबंधन नेताओं की बैठक में दिल्ली और यूपी पर भी चर्चा हुई है. उनके मुताबिक महागठबंधन के नेताओं ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से कहा की दिल्ली में अगर आम आदमी पार्टी- कांग्रेस मिलकर नहीं लड़ेंगी तो इससे भाजपा को सीधा फायदा होगा. दिल्ली में त्रिकोणीय मुकाबला है. अगर आप और कांग्रेस ने मिलकर चुनाव नहीं लड़ा तो बाजी भाजपा निकाल लेगी. इस बात पर राहुल गांधी ने कहा कि मेरी दिल्ली की स्टेट यूनिट इस गठबंधन के खिलाफ है. चर्चा आगे चली तो राहुल गांधी ने कहा 'ठीक है मैं बात करके बताता हूं.' 

दिल्ली में 'दीदी' की हुंकार: राष्ट्रीय स्तर पर कांग्रेस और लेफ्ट के साथ मिलकर बीजेपी से लड़ेंगे

टिप्पणियां

VIDEO- जंतर-मंतर पर दिखी विपक्ष की ताकत

 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement