NDTV Khabar

बैन हटते ही फूट-फूटकर रोने लगे आजम खान, बोले- आतंकी की तरह हो रहा सलूक, वश चले तो मुझे गोली से मरवा दे

लोकसभा चुनाव 2019 में बीजेपी कैंडिडेट जयाप्रदा के खिलाफ आपत्तिजनक बयान देने पर चुनाव आयोग का बैन खत्म होने के बाद सपा नेता आजम खान एक रैली के दौरान भावुक हो गए और रोते नजर आए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बैन हटते ही फूट-फूटकर रोने लगे आजम खान, बोले- आतंकी की तरह हो रहा सलूक, वश चले तो मुझे गोली से मरवा दे

आजम खान हुए भावुक....

नई दिल्ली:

लोकसभा चुनाव 2019 में बीजेपी कैंडिडेट जयाप्रदा के खिलाफ आपत्तिजनक बयान देने पर चुनाव आयोग का बैन खत्म होने के बाद सपा नेता आजम खान एक रैली के दौरान भावुक हो गए और रोते नजर आए. रामपुर में एक रैली को संबोधित करते हुए समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान भावूक हो गए और नम आंखों से उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि प्रशासन उनके समर्थकों और परिचितों को परेशान कर रही है. रामपुर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए आजम खान ने रोते हुए कहा कि मेरे साथ ऐसा सलूक हो रहा है, जैसे मैं दुनिया का सबसे बड़ा आतंकवादी हूं, देशद्रोही हूं. सरकार का वश चले तो मुझे गोलियों से छलनी करवा दे.' 

लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण के लिए प्रचार खत्म, राज बब्बर समेत कई बड़े उम्मीदवारों के किस्मत को होगा फैसला

आजम खान ने कहा कि 'मैं सरकार से और उसके प्रशासन से कहना चाहता हूं कि मेरे घर के दरवाजे तोड़ दो, मुझे गोली मारो, मुझे मार दो ताकि चुनाव से पहले ही ये किस्सा खत्म हो जाए. मेरा जीना जमीन के लिए बोझ बन गया है. मुझे मार कर खत्म कर दो, मुझे नहीं लडऩा चुनाव. मैं जुल्म से नहीं घबराऊगा, लेकिन कमजोरों के साथ जुल्म करोगे तो मुझसे बर्दाश्त नहीं होगा. भाषण के दौरान यह कहते हुए आजम रोने लगे और बोले मैं पूरे रास्ते रोता हुआ आया हूं. मैं क्या कर सकता हूं. बस यही मेरा अपराध है कि मैंने आपके बच्चों की किस्मत संभालने की कोशिश की. '


आजम आजम खान को भड़काऊ भाषण के लिए चुनाव आयोग का एक और नोटिस

चुनाव आयोग द्वारा बैन किये जाने पर आजम खान ने कहा कि लोकसभा चुनाव के दौरान तीन दिन के लिए चुनाव आयोग द्वारा बैन किए जाने का मतलब है कि वे क्या चाहते हैं. इस बैन के दौरान न मैं कहीं जा सका, न किसी से मिल सका और न ही किसी रैली या जनसभा को संबोधित कर सका. 

आजम खान पर क्यों लगा चुनाव आयोग का 'बैन', बेटे अब्दुल्लाह ने बताई वजह...

आजम खान ने यह भी आरोप लगाया कि रामपुर को छावनी में बदल दिया गया है. उन्होंने कहा कि यह किस तरह का लोकतंत्र है, जहां रामपुर में प्रशासन ने आतंक का राज फैलाया है. मझसे प्यार करने वाले और मेरे झंडे उठाने वालों के घरों के ताले तोड़े गए और उनके परिवारों की महिलाओं के साथ दुर्व्यवहार किया गया. बता दें कि 15 अप्रैल को रामपुर में एक रैली के दौरान आजम खान ने जयाप्रदा के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी की थी. 

चुनाव में हेट स्पीच पर EC की कार्रवाई से सुप्रीम कोर्ट संतुष्ट, कहा- लगता है हमारे आदेश के बाद चुनाव आयोग जाग गया

टिप्पणियां

आजम खान ने खाकी अंडरवियर वाले बयान के बाद उन्हें चुनाव आयोग ने 72 घंटे के लिए चुनावी रैली करने से बैन कर दिया था. इतना ही नहीं, महिला आयोग ने भी आजम खान को नोटिस जारी किया था. बता दें कि रामपुर लोकसभा सीट पर तीसरे चरण में 23 अप्रैल को चुनाव होना है. (इनपुट एएनआई)

VIDEO: जया प्रदा पर विवादित बयान को लेकर आज़म ख़ान के खिलाफ़ FIR दर्ज



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement