NDTV Khabar

कन्हैया कुमार ने नामांकन पत्र में खुद को बताया 'बेरोजगार', पिछले दो साल में किताबों और भाषणों से कमाए 8.58 लाख रुपये

कन्हैया कुमार का गृहजिले बेगूसराय में मुख्य मुकाबला भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह से है. राजद ने यहां तनवीर हसन को फिर अपना उम्मीदवार बनाया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कन्हैया कुमार ने नामांकन पत्र में खुद को बताया 'बेरोजगार', पिछले दो साल में किताबों और भाषणों से कमाए 8.58 लाख रुपये

कन्हैया कुमार (फाइल फोटो)

बेगूसराय:

जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार (Kanhaiya Kumar) ने बेगूसराय लोकसभा सीट से भाकपा उम्मीदवार के तौर पर मंगलवार को नामांकन पर्चा भरा. इस मौके पर बेगूसराय (Begusarai Lok Sabha Seat) पहुंचने वालों में बॉलीवुड अभिनेत्री स्वरा भास्कर, मानवाधिकार कार्यकर्ता तीस्ता सीतलवाड, गुजरात से विधायक एवं दलित नेता जिग्नेश मेवाणी, जेएनयू की पूर्व छात्र नेता शेहला राशिद आदि शामिल रहे. कुमार इस सीट से केंद्रीय मंत्री एवं भाजपा उम्मीदवार गिरिराज सिंह (Giriraj Singh) को चुनौती दे रहे हैं. नामांकन के लिए पेश किए गए हलफनामे में कन्हैया कुमार ने साल 2018-19 में अपनी कुल आय 2,28,290 रुपये थी. वहीं 2017-18 में यह आंकड़ा 6,30,360 था. नामांकन पत्र में पिछले पांच सालों के मांगे गए ब्योरे में उन्होंने इन्हीं दो वित्त वर्ष की जानकारी दी है. 

दिए गए हलफनामे में कन्हैया कुमार ने बताया कि अभी उनके पास 24,000 रुपए नगद हैं, जबकि एक बैंक अकाउंट में 16,3647 और दूसरे में 50 रुपये जमा हैं. उन्होंने अपने आय का स्रोत किताबों और व्याख्यानों की रॉयल्टी बताया है. पेशे के कॉलम में उन्होंने खुद को 'बेरोजगार और स्वतंत्र लेखन' बताया है. इसके साथ ही उन्होंने बताया कि उनके खिलाफ पांच आपराधिक मामले लंबित हैं. 

यहां देखें कन्हैया कुमार का नामांकन पत्र


अपना बर्थ-डे सेलिब्रेट करने के बजाय कन्हैया कुमार के लिए प्रचार करने बेगूसराय पहुंची ये एक्ट्रेस, समर्थकों ने कहा-शुक्रिया

कन्हैया कुमार मंगलवार को गांव बीहट में स्थित अपने घर से निकलने से पहले कुमार ने सोशल मीडिया पर एक तस्वीर साझा की जिसमें वह अपनी मां मीना देवी और जेएनयू से लापता हुए छात्र नजीब अहमद की मां फातिमा नफीसा से आशीर्वाद लेते दिख रहे हैं. कुमार जुलूस के साथ कलेक्ट्रेट पहुंचे और रास्ते में उन्होंने बेगूसराय जिले से ताल्लुक रखने वाले हिन्दी के जाने-माने कवि रामधारी सिंह दिनकर को श्रद्धांजलि दी. 

रवीश कुमार का ब्लॉग: बिहार के 'लेनिनग्राद' बेगूसराय से कन्हैया ने ठोकी ताल

नामांकन पर्चा भरने के बाद कुमार रैली स्थल पर पहुंचे जहां उक्त लोग भी मौजूद थे और वहां ‘लेके रहेंगे आजादी' के नारे लगा रहे थे. उन्होंने पत्रकारों से कहा, ‘मेरी लड़ाई किसी खास व्यक्ति से नहीं है बल्कि एक विचारधारा के खिलाफ है जो संविधान को खत्म करने की कोशिश में है.' कुमार ने कहा कि उनकी लड़ाई उन लोगों के खिलाफ है जो लोगों को बिना मतलब के मुद्दों में फंसाते हैं जबकि असल मुद्दे रोज़ी-रोटी, सेहत, शिक्षा और सामाजिक न्याय का है. गिरिराज सिंह ऐसी ताकतों के एक प्रतीक हैं.

कन्हैया कुमार ने नामांकन के बाद पीएम पर साधा निशाना, कहा - बेगूसराय से हूं इसलिए मोदी से नहीं डरता

कन्हैया कुमार का गृहजिले बेगूसराय में मुख्य मुकाबला भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह से है. राजद ने यहां तनवीर हसन को फिर अपना उम्मीदवार बनाया है. कन्हैया ने कहा है कि उनकी लड़ाई सिर्फ भाजपा से है. महागठबंधन के साथ सीटों की साझेदारी की बात न बन पाने पर वामदलों ने अपना साझा उम्मीदवार उतारने का फैसला लिया. बेगूसराय में चौथे चरण में 29 अप्रैल को मतदान होना है और परिणाम 23 मई को आना है.

टिप्पणियां

IDEO: बेगूसराय सीट से पर्चा भरने निकले कन्हैया, लाल झंडे और लाल सलाम के नारों संग सड़कों पर दिखा लोगों का हुजूम

Video: प्राइम टाइम: बीजेपी और महागठबंधन से भिड़ रहे हैं कन्हैया



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement