NDTV Khabar

EVM स्ट्रॉन्ग रूम पर खुद का ताला लगाना चाहते हैं BJP उम्मीदवार, जानें क्या है वजह

तेलंगाना की 17 लोकसभा सीटों पर 11 अप्रैल को 62.69 प्रतिशत मतदान हुआ. इस चरण में पूर्व केन्द्रीय मंत्री रेणुका चौधरी और ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन औवेसी चुनाव लड़ रहे थे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
EVM स्ट्रॉन्ग रूम पर खुद का ताला लगाना चाहते हैं BJP उम्मीदवार, जानें क्या है वजह

निजामाबाद लोकसभा सीट पर 68.33 प्रतिशत मतदान हुआ. 170 किसानों समेत 185 उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे थे.

निजामाबाद, तेलंगाना:

भाजपा (BJP) के एक उम्मीदवार ने चुनाव अधिकारियों से सोमवार को आग्रह किया कि वह चुनावों में इस्तेमाल हुए ईवीएम (EVM) जिन स्ट्रॉंग रूम में रखे गए हैं उनमें उन्हें अपना ताला लगाने की अनुमति दें. निजामाबाद लोकसभा सीट (Nizamabad Seat) पर 11 अप्रैल को हुए चुनाव में यह उम्मीदवार भी चुनावी मैदान में उतरा था. प्रत्याशी डी. अरविंद ने मीडिया से बात करते हुए कि उन्हें स्ट्रॉंग रूम में रखे गए इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों की सुरक्षा को लेकर कुछ संशय है. 

निजामाबाद के जिलाधिकारी एवं निर्वाचन अधिकारी एम. राम मोहन राव को सौंपे गए एक पत्र में अरविंद ने अधिकारी से स्ट्रॉंग रूम में अपना ताला लगाने की अनुमति देने का अनुरोध किया. इन कमरों में चुनावों के दौरान इस्तेमाल ईवीएम और वीवीपैट रखे गए हैं. उन्होंने पत्र की एक प्रति तेलंगाना के मुख्य निर्वाचन अधिकारी रजत कुमार और भारत चुनाव आयोग को भी भेजी. हाल के चुनावों की प्रक्रिया में शामिल रहे एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि जिन स्ट्रॉंग रूम में ईवीएम रखे गए हैं वहां तीन परतों में सुरक्षा के इंतजाम हैं.

BJP उम्मीदवार को सता रही हार की चिंता, वोटिंग से पहले बोले- मुरादाबाद सीट बचाए रखना मुश्किल


तेलंगाना की 17 लोकसभा सीटों पर 11 अप्रैल को 62.69 प्रतिशत मतदान हुआ. इस चरण में पूर्व केन्द्रीय मंत्री रेणुका चौधरी और ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन औवेसी चुनाव लड़ रहे थे. खम्मम में 75.28 जबकि हैदराबाद में 44.75 प्रतिशत मतदान हुआ. औवेसी हैदराबाद से ही चुनाव लड़ रहे थे.    निजामाबाद लोकसभा सीट पर 68.33 प्रतिशत मतदान हुआ. 170 किसानों समेत 185 उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे थे. 2014 में अविभाजित आंध्र प्रदेश विधानसभा और लोकसभा चुनाव में 70.75 प्रतिशत मतदान हुआ था.

जयपुर में 48 साल बाद महिला उम्मीदवार, 2014 में बीजेपी ने कांग्रेस को 5 लाख से ज्यादा वोटों से दी थी मात

तेलंगाना की निजामाबाद संसदीय सीट का नाम जल्द ही गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में दर्ज किया जा सकता है क्योंकि गुरुवार को हुए मतदान के दौरान रिकॉर्ड संख्या में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) का इस्तेमाल किया गया है. चुनाव आयोग ने इस सीट के प्रत्येक मतदान केन्द्र पर 12 ईवीएम मशीनों का इस्तेमाल किया. ऐसा इसलिये किया गया क्योंकि इस सीट पर 178 किसानों समेत 185 उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे थे. चुनाव अधिकारियों ने एक निर्वाचन क्षेत्र में इतनी बड़ी संख्या में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) के उपयोग के रिकॉर्ड को मान्यता देने के लिए गिनीज बुक से संपर्क किया है. तेलंगाना के मुख्य निर्वाचन अधिकारी रजत कुमार ने कहा कि निज़ामाबाद में लगभग 27,000 मतपत्र इकाइयों का उपयोग किया.

(इनपुट- भाषा)

टिप्पणियां

आखिर पीएम मोदी ने क्यों कहा- किसानों की मौत जब चुनावी मुद्दा तो सैनिकों की शहादत क्यों नहीं?

Video: योगी-माया पर चुनाव आयोग सख्त, आजम के खिलाफ FIR दर्ज


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement