NDTV Khabar

जानिए कौन हैं तुषार वेल्लापल्ली, राहुल गांधी के खिलाफ वायनाड सीट पर होंगे एनडीए के प्रत्याशी

वहीं बीजेपी भी कई सालों से केरल में अपना जनाधार बढ़ाने की कोशिश कर रही है उसको खासी सफलता नहीं मिल पाई है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जानिए कौन हैं तुषार वेल्लापल्ली, राहुल गांधी के खिलाफ वायनाड सीट पर होंगे एनडीए के प्रत्याशी

एनडीए प्रत्याशी तुषार वेल्लापल्ली राहुल गांधी के खिलाफ वायनाड सीट से लड़ेंगे

नई दिल्ली:

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी गुरुवार को केरल की वायनाड  सीट से पर्चा भरने पहुंच सकते हैं. कांग्रेस महासचिव और केरल के पूर्व मुख्यमंत्री ओमन चांडी ने सोमवार को यह जानकारी दी. चांडी ने बताया कि बुधवार रात राहुल के कोझिकोड पहुंचने और फिर अगले दिन वायनाड की यात्रा करने की उम्मीद है. चांडी ने कहा, "अगर संयोग से वह बुधवार को नहीं आते हैं तो वह गुरुवार सुबह पहुंचेंगे और वायनाड के लिए रवाना होंगे. लोकसभा चुनाव के लिए नामांकन दाखिल करने से पहले वह एक रोड शो करेंगे." चांडी ने कहा कि राहुल की उम्मीदवारी के कारण दक्षिण भारत में पूरा चुनावी परिदृश्य काफी बदल गया है.  उन्होंने कहा, "राहुल के वायनाड आने से एक जोरदार व स्पष्ट संदेश जाता है कि कांग्रेस एक ऐसी पार्टी है जो पूरे देश को एक के रूप में देखती है. उनकी उम्मीदवारी केरल, कर्नाटक और तमिलनाडु में कांग्रेस की सफलता को बढ़ाएगी." वायनाड जिला कर्नाटक और तमिलनाडु दोनों के साथ सीमा साझा करता है. राहुल के इस सीट से चुनाव लड़ने के फैसले सीपीआईएम ने नाराजगी जताई है और कहा कि ऐसा लग रहा है कि कांग्रेस अब बीजेपी को छोड़ लेफ्ट से दो-दो हाथ करना चाहती है.

अमित शाह ने बताया कारण, क्यों वायनाड से चुनाव लड़ने जा रहे हैं राहुल गांधी


टिप्पणियां

वहीं बीजेपी भी कई सालों से केरल में अपना जनाधार बढ़ाने की कोशिश कर रही है उसको खासी सफलता नहीं मिल पाई है. फिलहाल उसने वायनाड से सीट राहुल गांधी के खिलाफ भारत धर्म जन सेना के उम्मीदवार तुषार तुषार वेल्लापल्ली को समर्थन देने का फैसला किया है और पार्टी के कार्यकर्ता अब तुषार के लिए वोट मांगेंगे अमित शाह ने ट्वीट कर कहा,' हम गर्व के साथ घोषणा करते हैं कि भारत धर्म जन सेना के अध्यक्ष श्री तुषार वेल्लापल्ली एनडीए के वायनाड सीट से प्रत्याशी होंगे'. आपको बता दें कि तुषार इझावा समुदाय के कल्याण के लिए काम करने वाले संगठन श्री नारायण धर्म परिपल्लना योगम के महासचिव के बेटे हैं. इझावा केरल के पिछड़ी जातियों में आती है जिनकी संख्या केरल में अच्छी-खासी है.

इंडिया नौ बजे: हार के डर से भागे हैं राहुल- शाह​
 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement