NDTV Khabar

अमित शाह का गांधी परिवार पर तंज, 'भाई की शादी नहीं हुई, इसलिए बहन आई है'

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) नजदीक आते ही बयानबाजी भी तेज हो गई है. आरोप-प्रत्यारोप का दौर लगातार जारी है. सभी पार्टियां एक दूसरे पर लगातार हमला बोल रही है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अमित शाह का गांधी परिवार पर तंज, 'भाई की शादी नहीं हुई, इसलिए बहन आई है'

लखनऊ में रोड शो के दौरान भाई राहुल के साथ प्रियंका गांधी.

खास बातें

  1. अमित शाह का गांधी परिवार पर हमला
  2. 'भाई की शादी नहीं हुई, इसलिए बहन आई है'
  3. 'कांग्रेस में प्रधानमंत्री की सीट जन्मजात आरक्षित'
गोधरा:

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) नजदीक आते ही बयानबाजी भी तेज हो गई है. आरोप-प्रत्यारोप का दौर लगातार जारी है. सभी पार्टियां एक दूसरे पर लगातार हमला बोल रही है. इसी क्रम में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah) ने कांग्रेस पर तंज कसा है. गांधी परिवार को निशाना बनाते हुए भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने दावा किया कि कांग्रेस में प्रधानमंत्री की सीट 'जन्मजात आरक्षित' है. उन्होंने पूछा कि क्या इस पार्टी का कोई कार्यकर्ता कभी शीर्ष पद पाने की सोच सकता है. इसके अलावा शाह ने कहा कि क्योंकि 'भाई' राहुल गांधी की शादी नहीं हुई है, इसलिए अब 'बहन' (प्रियंका गांधी) (राजनीतिक मैदान में) आई है.

यह भी पढ़ें: प्रियंका गांधी वाड्रा के आने से समीकरणों पर असर? अखिलेश यादव ने कहा- गठबंधन में कांग्रेस भी शामिल, 10 बड़ी बातें


उन्होंने दावा किया कि भाजपा में उनके जैसा एक आम बूथ कार्यकर्ता पार्टी का अध्यक्ष बन सकता है और एक 'चायवाला' (मोदी) प्रधानमंत्री बन सकता है. शाह ने पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा, 'मैं भाजपा का एक बूथ कार्यकर्ता था. मैं पार्टी का अध्यक्ष बन गया. चायवाला देश का प्रधानमंत्री बन गया.'

यह भी पढ़ें: प्रियंका गांधी के आने से कांग्रेस को मिल सकती है 'संजीवनी', अमेरिकी पत्रिका ने किया दावा

उन्होंने पूछा, 'क्या कांग्रेस का कोई कार्यकर्ता प्रधानमंत्री बनने की सोच सकता है? उस पार्टी में यह सीट जन्मजात आरक्षित है.' शाह ने कहा कि भाजपा के किसी कार्यकर्ता को बड़े पदों पर पहुंचने के लिए किसी खास परिवार में जन्म लेने की आवश्यकता नहीं है. लोकसभा चुनाव से पहले प्रियंका गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पार्टी महासचिव एवं पूर्वी उत्तर प्रदेश की प्रभारी नियुक्त किया है.

सोमवार को लखनऊ में रोड शो में के बाद हुई रैली में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ऐलान किया कि प्रियंका और ज्योतिरादित्य सिंधिया अब उत्तर प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनावाएंगे. राहुल का संकेत साफ है कि अब उत्तर प्रदेश में कांग्रेस अपना विस्तार करेगी और अपने दम पर संगठन खड़ा करेगी. हालांकि बहुत कुछ लोकसभा चुनाव के नतीजे पर भी निर्भर करेगा. अगर कांग्रेस प्रियंका और ज्योतिरादित्य सिंधिया की अगुवाई में अपेक्षित प्रदर्शन करती है तो उत्तर प्रदेश में कांग्रेस का चेहरा प्रियंका गांधी होंगी इसमें कोई दो राय नहीं होगी. प्रियंका के आने के बाद से उत्तर प्रदेश में कई बड़े बदलाव देखने को मिल सकते हैं.

टिप्पणियां

VIDEO: प्रियंका गांधी के आने से किसको फायदा?​

(इनपुट: भाषा)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement