NDTV Khabar

डिंपल यादव: पहले चुनाव में मिली करारी हार, यहां जानिए- यूपी के सबसे बड़े सियासी कुनबे की बहू का सफर

डिंपल यादव यूपी के सबसे बड़े सियासी कुनबे से ताल्लुक रखती हैं. वह यूपी के पूर्व सीएम मुलायम सिंह यादव की बहू हैं और पूर्व सीएम अखिलेश यादव की पत्नी हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
डिंपल यादव: पहले चुनाव में मिली करारी हार, यहां जानिए- यूपी के सबसे बड़े सियासी कुनबे की बहू का सफर

खास बातें

  1. पहले लोकसभा चुनाव में कांग्रेस नेता राजबब्बर से गई थीं हार
  2. 2014 में मोदी लहर के बावजूद बचा ली थी अपनी सीट
  3. 1999 में 21 साल की उम्र में हुई थी अखिलेश यादव से शादी
नई दिल्ली :

डिंपल यादव यूपी के सबसे बड़े सियासी कुनबे से ताल्लुक रखती हैं. वह यूपी के पूर्व सीएम मुलायम सिंह यादव की बहू हैं और पूर्व सीएम अखिलेश यादव की पत्नी हैं. वह यूपी के कन्नौज से समाजवादी पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ रही हैं. हालांकि उनका सियासी सफर बहुत लंबा नहीं है लेकिन इसमें काफी ट्विस्ट हैं. डिंपल राममनोहर लोहिया को अपना आदर्श मानती हैं. जब उन्होंने अपना पहला चुनाव लड़ा था तो उन्हें हार का सामना करना पड़ा था लेकिन इसके बावजूद वह हिम्मत नहीं हारीं और संयम के साथ आगे बढ़ती रहीं. दरअसल 2009 के लोकसभा चुनावों में अखिलेश यादव ने दो सीटों फिरोजाबाद और कन्नौज से चुनाव लड़ा था, इन दोनों ही सीटों पर अखिलेश को जीत मिली थी. जिसके बाद अखिलेश ने फिरोजाबाद सीट छोड़ दी थी और इस सीट से अपनी पत्नी डिंपल यादव को पहली बार चुनाव में उतारा था. सबको उम्मीद थी कि डिंपल यह सीट जीत जाएंगी लेकिन कांग्रेस नेता राजबब्बर ने उन्हें इस सीट से हरा दिया. 

ये भी पढ़ें: डिंपल यादव के संसदीय क्षेत्र कन्नौज में सपा नेताओं को किया गया नजरबंद


डिंपल ने कैसे जीता पहला चुनाव 
2009 के अपने पहले लोकसभा चुनाव में डिंपल को राजबब्बर के हाथों हार का सामना करना पड़ा था. हालांकि डिंपल ने हिम्मत नहीं हारी और आत्मविश्वास के साथ आगे बढ़ती रहीं. इस बीच जब अखिलेश यादव यूपी के सीएम बने तो उन्होंने अपनी कन्नौज की सीट छोड़ दी जहां 2012 में उपचुनाव हुए. इस सीट से सपा ने डिंपल को चुनाव में उतारा. दिलचस्प यह था कि इस उपचुनाव में बसपा, कांग्रेस और बीजेपी ने उनके खिलाफ कोई प्रत्याशी नहीं उतारा. इसके अलावा दो उम्मीदवारों ने अपना नामांकन वापस ले लिया जिसके बाद डिंपल निर्विरोध सांसद बनीं. हालांकि 2014 में मोदी लहर में भी डिंपल ने अपनी सीट बचा ली. 2019 के लोकसभा चुनावों में डिंपल सपा-बसपा-रालोद गठबंधन की तरफ से मजबूत दावेदारी पेश कर रही हैं.

ये भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश: क्या कहती है कन्नौज की सियासी आबोहवा, डिंपल यादव के प्रचार का आंखों देखा हाल 

डिंपल का शुरुआती जीवन काफी अनुशासन में बीता. उनका जन्म 15 जनवरी 1978 को पुणे में हुआ. उनके पिता आर्मी में थे, उनके ट्रांसफर की वजह से डिंपल की पढ़ाई कई राज्यों में हुई. 1999 में उनकी और अखिलेश यादव की शादी हुई. हालांकि इस शादी के लिए शुरुआत में अखिलेश के पिता मुलायम राजी नहीं थे लेकिन बाद में वह मान गए और इस तरह डिंपल और अखिलेश की लव मैरिज हुई. उनके 3 बच्चे हैं.

VIDEO : पूनम सिन्हा ने कहा कि लखनऊ के लोगों ने उन्हें स्वीकारा

टिप्पणियां


 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement