NDTV Khabar

Election 2019 : नए सांसद फाइव स्टार होटलों में नहीं ठहराए जाएंगे, की गई यह व्यवस्था

करीब 250 सांसदों के ठहरने के लिए वेस्टर्न कोर्ट और राज्यों के भवनों में कमरे तैयार कर किए गए, लोकसभा की वेबसाइट पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन होगा

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Election 2019 : नए सांसद फाइव स्टार होटलों में नहीं ठहराए जाएंगे, की गई यह व्यवस्था

प्रतीकात्मक फोटो.

खास बातें

  1. संसद भवन पहुंचते ही तत्काल परमानेंट पहचान पत्र दिया जाएगा
  2. दिल्ली के सभी एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशनों पर स्वागत केंद्र बनाए जाएंगे
  3. पूर्व सांसदों को घर खाली करने के लिए एक महीने का वक्त
नई दिल्ली:

लोकसभा चुनाव के परिणाम (lok sabha election results) आने के बाद 17वीं लोकसभा के नव निर्वाचित होने वाले सांसदों के लिए खास व्यवस्था की गई है ताकि उन्हें किसी परेशानी का सामना न करना पड़े.लोकसभा सचिवालय ने नव निर्वाचित सांसदों के लिए विशेष इंतज़ाम किए हैं. इसकी जानकारी चुनाव आयोग के रिटर्निंग अधिकारियों को दे दी गई है.

लोकसभा की सेक्रेटरी जनरल स्नेहलता श्रीवास्तव ने बताया कि नए सांसदों के रजिस्ट्रेशन के लिए सीमलेस व्यवस्था की गई है.करीब 250 सांसदों के ठहरने के लिए वेस्टर्न कोर्ट और राज्यों के भवनों में कमरे तैयार कर लिए गए हैं. इस बार सांसदों को पांच सितारा होटलों में नही ठहराया जाएगा. पहली बार एडवांस में दस्तावेजों की कॉपी और कई तरह के फॉर्म्स मुहैया कराए जाएंगे. लोकसभा की वेबसाइट पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की सुविधा भी मौजूद होगी. आउटरीच प्लान के तहत देश भर में 56 नोडल अधिकारियों की तैनाती की गई है.

लोकसभा चुनाव 2019 : मतगणना आज सुबह आठ बजे होगी शुरू, नतीजे आने में हो सकता है कुछ विलंब


संसद भवन पहुंचते ही सांसदों को तत्काल परमानेंट पहचान पत्र दिया जाएगा. दिल्ली के सभी एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशनों पर गाइड पोस्ट/स्वागत केंद्र बनाए जाएंगे. सभी स्वागत केंद्र 23 मई से सुबह 6 बजे से 11 बजे तक खुले रहेंगे.

VIDEO : एनडीए के नेताओं को कुर्सी की चाहत

टिप्पणियां

संसद की हेल्प डेस्क भी बनाई गई है जहां सांसद जानकारी ले सकेंगे. आईटीडीसी को कैंटीन की जिम्मेदारी दी गई है. एक सिंगल डेस्क बनाई गई है जहां नए सांसद रजिस्ट्रेशन, सैलरी भत्ते, नॉमिनेशन और ट्रांजिट एकमोडेशन को लेकर कागजी कार्यवाही पूरी कर सकेंगे.पूर्व सांसदों को घर खाली करने के लिए एक महीने का वक्त दिया जाएगा.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement