NDTV Khabar

आचार संहिता उल्लंघन मामले में चुनाव आयोग ने आजम खान पर फिर की कार्रवाई, अब इतने दिनों तक नहीं कर पाएंगे प्रचार

चुनाव आयोग ने उनकी टिप्पणियों के उदाहरण देते हुए कहा था कि एक मौके पर उन्होंने कथित रूप से कहा कि फासीवादी उन्हें मारने का प्रयास कर रहे हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
आचार संहिता उल्लंघन मामले में चुनाव आयोग ने आजम खान पर फिर की कार्रवाई, अब इतने दिनों तक नहीं कर पाएंगे प्रचार

चुनाव आयोग ने आजम खान पर की कड़ी कार्रवाई

खास बातें

  1. आचार संहिता के उल्लंघन का है मामला
  2. रामपुर से सपा के उम्मीदवार हैं आजम खान
  3. पहले भी हो चुकी है इस तरह की कार्रवाई
नई दिल्ली:

चुनाव आयोग ने समाजवादी पार्टी के रामपुर से उम्मीदवार आजम खान (Azam Khan) पर चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन के आरोप में कड़ी कार्रवाई की है. आयोग ने आजम खान (Azam Khan) पर अगले 48 घंटे तक किसी भी तरह के प्रचार से दूर रहने को कहा है. आयोग का यह फैसला बुधवार सुबह से लागू होगा.ध्यान हो कि यह कोई पहला मौका नहीं है जब आजम खान पर आचार संहिता के उल्लंघन या भड़काऊ भाषण को लेकर कोई कार्रवाई की गई हो. आजम खान (Azam Khan) को उत्तर प्रदेश के विभिन्न स्थानों पर पिछले कुछ दिनों के दौरान कथित रूप से भड़काऊ टिप्पणी करने के लिए चुनाव आयोग की ओर से एक नया कारण बताओ नोटिस जारी किया गया था. चुनाव आयोग ने उन्हें नोटिस का जवाब देने के लिए 24 घंटे का समय दिया और कहा कि प्रथम दृष्टया वे आचार संहिता उल्लंघन के दोषी हैं.


चुनाव आयोग ने उनकी टिप्पणियों के उदाहरण देते हुए कहा था कि एक मौके पर उन्होंने कथित रूप से कहा कि फासीवादी उन्हें मारने का प्रयास कर रहे हैं. उन्होंने दूसरे मौके पर कथित रूप से कहा कि प्रधानमंत्री ने मुस्लिमों को मारा है. उन्होंने राजस्थान के राज्यपाल कल्याण सिंह पर परोक्ष रूप से निशाना साधते हुए कथित रूप से कहा था कि अपराधी संवैधानिक पदों पर आसीन हैं.

आजम खान पर क्यों लगा चुनाव आयोग का 'बैन', बेटे अब्दुल्लाह ने बताई वजह...

चुनाव आयोग ने उल्लेखित किया था कि मामलों में उनके खिलाफ भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं और जनप्रतिनिधि कानून के तहत प्राथमिकियां दर्ज की गई हैं. नोटिस में यह भी कहा गया था कि उच्चतम न्यायालय ने कहा है कि चुनाव के दौरान कोई बयान देते समय किसी के द्वारा धर्म या जाति का इस्तेमाल नहीं किया जा सकता. इसमें कहा गया था कि इसलिए आयोग ने मामले पर उपलब्ध सामग्री और वर्तमान निर्देशों पर विचार करने के बाद आपको उपरोक्त बयानों के संबंध में अपना रुख समझाने के लिए एक मौका देने का निर्णय किया है.

टिप्पणियां

बसपा उम्मीदवार ने राज बब्बर को दी 'जूतों' से मारने की धमकी, VIDEO हो गया वायरल

आपकी ओर से स्पष्टीकरण यह नोटिस प्राप्त होने के 24 घंटे के भीतर जमा कराना होगा, ऐसा करने में असफल होने पर आयोग आपको सूचित किये बिना एक निर्णय करेगा. भाजपा उम्मीदवार जया प्रदा के खिलाफ खाकी अंडरवीयर टिप्पणी को लेकर जवाब से असंतुष्ट आयोग ने सोमवार को आजम पर 72 घंटे के लिए प्रचार करने पर रोक लगा दी थी जिसकी अवधि मंगलवार सुबह से शुरू होनी थी. मंगलवार की रोक पूरे भारत के लिए है, लेकिन खान को 2014 में अपनी भड़काऊ टिप्पणी के लिए उत्तर प्रदेश केंद्रित इसी तरह की रोक का सामना करना पड़ा था.(इनपुट भाषा से) 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement