Election Results 2019: क्या चिराग नई सरकार में शामिल होंगे? रामविलास पासवान बोले- 'कौन सा बाप नहीं...'

Election Results 2019: केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान (Ram Vilas Paswan) ने इस बात का संकेत दिए कि उनका बेटा चिराग पासवान (Chirag Paswan) सरकार में शामिल हो सकता है.

Election Results 2019: क्या चिराग नई सरकार में शामिल होंगे? रामविलास पासवान बोले- 'कौन सा बाप नहीं...'

Election Results 2019: चिराग पासवान ने बिहार के जमुई से चुनाव लड़ा है.

नई दिल्ली:

Election Results 2019: केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान (Ram Vilas Paswan) केंद्र में एक बार फिर बीजेपी (BJP) सरकार बनने को लेकर आश्वस्त हैं. चुनावी नतीजे से एक दिन पहले रामविलास पासवान (Ram Vilas Paswan) ने इस बात का संकेत दिए कि उनका बेटा चिराग पासवान (Chirag Paswan) सरकार में शामिल हो सकता है. रामविलास पासवान से जब यह पूछा गया कि क्या नई सरकार में चिराग पासवान (Chirag Paswan) शामिल होंगे? इस पर उन्होंने कहा कि चिराग में लीडर वाले सभी गुण हैं. कौन सा बाप नहीं चाहता है कि उसका बेटा आगे बढ़े, लेकिन पहले रिजल्ट तो आने दीजिए. बता दें कि आखिरी चरण के चुनाव के बाद तमाम एग्जिट पोल में बीजेपी नीत NDA को 300 से ज्यादा सीटें मिलने की बात कही है. बता दें कि चिराग पासवान ने जमुई से चुनाव लड़ा है. 

यह भी पढ़ें: चिराग पासवान ने बिहार में NDA की जीत का किया दावा, कहा- इस बार मिल सकती है इतनी सीटें...

पासवान ने ईवीएम से छेड़छाड़ की खबरों पर कहा कि जो लोग ईवीएम का विरोध करते हैं वो बूथ कैप्चरिंग का दौर वापस लाना चाहते हैं. रिजल्ट से पहले विपक्ष क्यों सवाल उठा रहा है? चोर के दाढ़ी में तिनका! ये लोग धनबल और बाहुबल के युग में देश को वापस ले जाना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि मैंने अपने कार्यकर्ताओं से कहा है कि डिफेंसिव होने की जरूरत नहीं है. ये लोकतंत्र को कमजोर करने की कोशिश है. 

यह भी पढ़ें: जमुई से प्रत्याशी चिराग पासवान की पूरी कहानी, बॉलीवुड में फ्लॉप लेकिन राजनीति में अब तक हिट

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

उधर, चुनाव आयोग के विपक्षी दलों की मतगणना से पहले VVPAT-EVM का मिलान करने की मांग को ठुकरा दिया है. मंगलवार को 22 विपक्षी दलों ने चुनाव आयोग से यह मांग की थी. लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) के नतीजे आने से पहले विपक्ष की VVPAT-EVM का मिलान पहले करने की मांग को चुनाव आयोग ने खारिज कर दिया है. ईवीएम एवं वीवीपीएटी के मुद्दे पर कांग्रेस, सपा, बसपा, तृणमूल कांग्रेस सहित 22 प्रमुख विपक्षी दलों के नेताओं ने मंगलवार को चुनाव आयोग का रुख किया और उससे यह आग्रह किया था कि मतगणना से पहले चुनिंदा मतदान केंद्रों पर वीवीपीएटी पर्चियों का मिलान किया जाए. विपक्षी दलों ने यह भी कहा था कि यदि किसी एक मतदान केंद्र पर भी वीवीपीएटी पर्चियों का मिलान सही नहीं पाया जाता तो संबंधित विधानसभा क्षेत्र में सभी वीवीपीएटी पर्चियों की गिनती की जाए. 

VIDEO:  चिराग पासवान ने कहा-2014 से इस बार और आएंगे नतीजे बेहतर