Election Results 2019: किसकी सरकार बना रहा है सट्टा बाजार, जानें- BJP और कांग्रेस को मिलेंगी कितनी सीटें

चुनाव 2019: ज्यादातर एक्जिट पोल में भाजपा को अकेले बहुमत के करीब दिखाया गया है, वहीं सट्टा बाजार में यह आंकड़ा कुछ कम है.

Election Results 2019: किसकी सरकार बना रहा है सट्टा बाजार, जानें- BJP और कांग्रेस को मिलेंगी कितनी सीटें

NDTV के पोल ऑफ पोल्स के अनुसार केंद्र में एक बार फिर मोदी सरकार की वापसी हो रही है.

नई दिल्ली:

एग्जिट पोल (Exit Poll Results) के ज्यादातर नतीजों की तरह सट्टा बाजार में भी 2019 लोकसभा चुनाव में भाजपा (BJP) की जीत बताई जा रही है, लेकिन वे एग्जिट पोल की तुलना में कुछ कम सीटें दे रहे हैं. सात चरणों में संपन्न हुए लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections) में कई शहरों के सट्टा बाजार भाजपा को 238 से 245 सीटें दे रहे हैं. राजस्थान में सट्टेबाज भाजपा को 242-245 सीटें दे रहे हैं, जबकि दिल्ली के सट्टा बाजार में यह संख्या 238-241 है. करीब-करीब यही आंकड़ा मुंबई का भी है. वर्ष 2014 के चुनाव में भाजपा ने 282 सीटें जीती थी, जबकि अन्य सहयोगी दलों के साथ राजग की कुल 336 सीटें थीं.

ज्यादातर एक्जिट पोल में भाजपा को अकेले बहुमत के करीब दिखाया गया है, वहीं सट्टा बाजार में यह आंकड़ा कुछ कम है. लेकिन राजग (NDA) को वे पूर्ण बहुमत दे रहे हैं. आईएएनएस-सीवोटर के एक्जिट पोल में भाजपा को 236 सीटें मिलने का अनुमान है. यह सट्टा बाजार के आकलन के करीब है. सट्टा बाजार का मानना है कि कांग्रेस (Congress) 75-82 सीटें जीत सकती है. कई एक्जिट पोल के नतीजे बताते हैं कि राजग को 312, संप्रग को 110 और अन्य को 98 सीटें मिल सकती हैं.

Exit Poll Results 2019: एनडीए को मिल सकती हैं 300 से ज्यादा सीटें, देखिए राज्यों के हिसाब से पूरा आंकड़ा

बता दें, NDTV ने सभी एक्जिट पोल्स (Exit Polls) को मिलाकर पोल ऑफ पोल्स (Poll Of Polls) बनाया. NDTV के पोल ऑफ पोल्स के अनुसार केंद्र में एक बार फिर मोदी सरकार की वापसी हो रही है. पोल ऑफ पोल्स के अनुसार बीजेपी गठबंधन को 300 से अधिक सीटें मिलती दिख रही हैं. वहीं, यूपीए 122 और अन्य 118 सीटों पर सिमटते दिख रहे हैं.

ब्लॉग: एग्ज़िट पोल्स को लेकर कई सवाल भी उठ रहे हैं...

2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी 435 सीटों पर लड़ी है और बाकी सीटें उसने सहयोगियों के साथ बांटी हैं. जबकि कांग्रेस कुल 420 सीटों पर चुनाव लड़ी है. बीजेपी की अगुवाई में एनडीए में इस बार 21 पार्टियां शामिल हैं. बिहार में उसको नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू के आने से मजबूती मिली है और वोट प्रतिशत के हिसाब से उसका पलड़ा भारी है. वहीं यूपीए में इस बार कांग्रेस की अगुवाई में 25 पार्टियां शामिल हैं. 

(इनपुट- आईएएनएस)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

एग्जिट पोल के आंकड़ों पर रवीश कुमार का विश्‍लेषण

Video: रणनीति: पोल ऑफ पोल्स में एनडीए की बन रही है सरकार