NDTV Khabar

मुझे PM नहीं बनना, अगर राहुल गांधी PM बने, तो उनकी बगल में बैठ जाऊंगा : एच.डी. देवेगौड़ा

पूर्व प्रधानमंत्री एच.डी. देवेगौड़ा का कहना है कि सक्रिय राजनीति से संन्यास लेने की उनकी कोई योजना नहीं है, लेकिन उन्हें दोबारा प्रधानमंत्री बनने की ख्वाहिश भी नहीं है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मुझे PM नहीं बनना, अगर राहुल गांधी PM बने, तो उनकी बगल में बैठ जाऊंगा : एच.डी. देवेगौड़ा

एच.डी. देवेगौड़ा का कहना है कि सक्रिय राजनीति से संन्यास लेने की उनकी कोई योजना नहीं है.

खास बातें

  1. पूर्व पीएम एचडी देवगौड़ा का बड़ा बयान
  2. कहा- राजनीति से सन्यास लेने की योजना नहीं
  3. पीएम पद के लिए राहुल गांधी को समर्थन
नई दिल्ली :

तीन साल पहले चुनाव नहीं लड़ने की घोषणा करने के बावजूद कर्नाटक के तुमकुर संसदीय क्षेत्र से लोकसभा चुनाव लड़ रहे पूर्व प्रधानमंत्री एच.डी. देवेगौड़ा ( HD Deve Gowda) का कहना है कि सक्रिय राजनीति से संन्यास लेने की उनकी कोई योजना नहीं है, लेकिन उन्हें दोबारा प्रधानमंत्री बनने की ख्वाहिश भी नहीं है. उन्होंने गुरुवार को कहा, "अगर (कांग्रेस अध्यक्ष) राहुल गांधी प्रधानमंत्री बन जाते हैं, तो मैं उनकी बगल में बैठूंगा..."जनता दल सेक्युलर (JDS) प्रत्याशी के रूप में चुनाव लड़ रहे एच.डी. देवेगौड़ा को तुमकुर सीट पर BJP के जी.एस. बसवराज से मुकाबला करना होगा. JDS प्रमुख एच.डी. देवेगौड़ा ( HD Deve Gowda) ने समाचार एजेंसी ANI से कहा, "मैंने तीन साल पहले घोषणा की थी कि मैं चुनाव नहीं लड़ूंगा... अब ऐसे हालात हैं, जिनमें मुझे चुनाव लड़ने के लिए विवश होना पड़ा... छिपाने के लिए कुछ नहीं है... कुछ भी बनने की ख्वाहिश नहीं है, लेकिन जो मैं हमेशा कहता रहा हूं, वह यही है कि मैं सक्रिय राजनीति से संन्यास नहीं ले रहा हूं..." 

पूर्व पीएम एचडी देवगौड़ा ने इन्हें बताया भविष्य के प्रधानमंत्री, फिर आया ये रिएक्शन


कर्नाटक के मुख्यमंत्री तथा अपने पुत्र एच.डी.कुमारस्वामी द्वारा जताई गई दोबारा एच.डी. दैवेगौड़ा के प्रधानमंत्री बनने की संभावना पर उन्होंने कहा, "मुझे इसकी चिंता नहीं है... मेरी चिंता है कि (प्रधानमंत्री नरेंद्र) मोदी दोबारा संसद पहुंचेंगे... मुझमें इतनी हिम्मत है कि मैं उनके मुंह पर यह बात कह सकता हूं... मुझमें हिम्मत है... अगर (कांग्रेस अध्यक्ष) राहुल गांधी प्रधानमंत्री हनते हैं, तो मैं उनकी बगल में बैठ जाऊंगा... प्रधानमंत्री बनना ज़रूरी नहीं है..."

----- अपनी लोकसभा सीट के बारे में जानें -----

पिछले साल कर्नाटक विधानसभा चुनाव में त्रिशंकु परिणाम आने के बाद JDS ने कांग्रेस के साथ मिलकर राज्य सरकार का गठन किया था. एच.डी. दैवेगौड़ा ने कहा, "भले ही हम छोटी पार्टी हैं, फिर भी मैडम सोनिया गांधी ने देवेगौड़ा को समर्थन देने का फैसला किया था... अब मेरी ज़िम्मेदारी है कि कांग्रेस के साथ मिलकर आगे बढ़ूं, हालांकि मैं मानता हूं कि कुछ राज्यों में गठबंधन का सवाल ही पैदा नहीं होता... लेकिन तमिलनाडु में, कांग्रेस और DMK के बीच गठबंधन है, औऱ महाराष्ट्र में उनका गठबंधन शरद पवार की पार्टी (NCP) के साथ है..." 

पीएम मोदी भारत को 'हिंदू राष्ट्र' बनाने की कोशिश कर रहे हैं : एचडी देवगौड़ा 

BJP द्वारा इस बार चुनाव में नहीं उतारे गए पार्टी संस्थापकों में से एक तथा पूर्व उपप्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी की ओर इशारा करते हुए एच.डी. दैवेगौड़ा ने कहा कि उनकी 'लालकृष्ण आडवाणी की तरह रिटायर होने' की कोई योजना नहीं है, और वह 'पहले अपनी पार्टी को बचाना चाहते हैं, और ऑफिस की इमारत को अंत में...'उन पर पार्टी के स्थान पर 'परिवार को बचाने' का आरोप लगता रहा है. इस पर एच.डी. दैवेगौड़ा ने कहा, "मेरे साथ मिलकर काम करते रहे कई नेता छोड़कर जा चुके हैं... कुछ कांग्रेस में हैं, कुछ BJP में... मैं पार्टी को सुरक्षित रख पाया, लेकिन मुकसान झेला है... मैंने अपने परिवार के किसी सदस्य को पार्टी का अध्यक्ष नहीं बनने दिया..." (इनपुट ANI से भी) 

टिप्पणियां

VIDEO: देवगौड़ा को अगली पीढ़ी की चिंता. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement