NDTV Khabar

102 साल के श्याम सरन नेगी फिर करेंगे VOTE, नहीं छोड़ते पीएम मोदी की 'मन की बात' सुनने का मौका

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के 'मन की बात' (Mann Ki Baat) कार्यक्रम को सुनने का एक भी मौका नहीं गंवाने वाले 102 वर्षीय श्याम सरन नेगी (Shyam Saran Negi) एक बार फिर से वोट डालने के लिए तैयार हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
102 साल के श्याम सरन नेगी फिर करेंगे VOTE, नहीं छोड़ते पीएम मोदी की 'मन की बात' सुनने का मौका

102 साल के श्याम सरन नेगी फिर करेंगे VOTE.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के 'मन की बात' (Mann Ki Baat) कार्यक्रम को सुनने का एक भी मौका नहीं गंवाने वाले 102 वर्षीय श्याम सरन नेगी (Shyam Saran Negi) एक बार फिर से वोट डालने के लिए तैयार हैं. लोकतंत्र में विश्वास रखने वाले श्याम चाहते हैं कि अन्य भारतीय भी मतदान का मौका न गंवाएं. राज्य निर्वाचन आयोग ने अपने एसवीईईवी (व्यवस्थित मतदाता शिक्षा और चुनावी भागीदारी) अभियान के लिए नेगी (Shyam Saran Negi) को ब्रांड एंबेसडर नियुक्त किया है. 

पुलवामा हमले पर ओवैसी ने पीएम मोदी को घेरा, बोले- क्या बीफ बिरयानी खाकर सो गए थे

मुख्य चुनाव अधिकारी गोपाल चंद ने आईएएनएस को बताया कि 19 मई को होने वाले लोकसभा चुनाव में मतदान करने हेतु उनकी ओर से लोगों के लिए एक अपील जल्द ही जारी की जाएगी. नेगी, राज्य की राजधानी से कुछ 275 किलोमीटर दूर किन्नौर जिले के कल्पा गांव में अपने सबसे छोटे बेटे चंद्र प्रकाश के साथ रहते हैं. 80 की उम्र में वर्ष 2014 में अपनी पत्नी को खो चुके नेगी ने कहा कि मतदान करना बहुत जरूरी है.


पीएम नरेंद्र मोदी की बोयोपिक में जावेद अख्तर का नाम देख भड़कीं शबाना आजमी, कह दी यह बड़ी बात...

नेगी ने अपने बेटे प्रकाश के माध्यम से आईएएनएस को बताया, 'मैं सभी मतदाताओं विशेषकर युवा पीढ़ी से अपील करता हूं कि वे समय दें और एक ईमानदार व्यक्ति का चुनाव करें, जो हमारे देश को नई ऊंचाइयों पर ले जा सके.' नेगी एक जुलाई को 103 साल के हो जाएंगे. उन्हें इस उम्र में थोड़ा कम सुनाई देता है. लेकिन उन्हें रेडियो सुनना पसंद है.

बीजेपी पर भड़के शत्रुघ्न सिन्हा, कहा- आपको आपकी ही भाषा में जवाब देने में सक्षम, न्यूटन का तीसरा नियम याद है न...

चुनाव अधिकारियों की एक टीम पिछले सप्ताह उनका हाल-चाल जानने के लिए उनसे मिली थी. 1975 में एक सरकारी स्कूल से कनिष्ठ शिक्षक के रूप में सेवानिवृत्त हुए नेगी स्वतंत्र भारत की पहली लोकसभा में वोट देने वाले नागरिकों में शामिल हैं. उन्होंने 1951 में चिनि निर्वाचन क्षेत्र में मतदान किया था, जिसका बाद में किन्नौर नाम रख दिया गया.

टिप्पणियां

Lok Sabha Election 2019: क्या पीएम मोदी के गृह राज्य में इस बार भी बीजेपी कर पाएगी करिश्मा, समझें- पूरी गणित

नेगी ने 1951 के बाद से प्रत्येक आम चुनाव, विधानसभा चुनाव और पंचायत चुनाव में मतदान किया है. उन्होंने 2019 लोकसभा चुनाव में भी वोट करने का संकल्प लिया है. नेगी ने कहा, "हां, मैं वोट करने वालों में सबसे आगे रहूंगा." चुनाव विभाग के पास 2007, 2012 व 2017 विधानसभा और 2009 व 2014 संसदीय चुनावों का एक वीडियो है, जिसमें नेगी अपना वोट डालते हुए दिखाई दे रहे हैं.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement