NDTV Khabar

Jyotiraditya Scindia: पिता के मौत के बाद राजनीति में उतरे ज्योतिरादित्य सिंधिया, जानें अब तक का सफर

लोकसभा चुनाव में मध्यप्रदेश के गुना-शिवपुरी लोकसभा सीट से कांग्रेस उम्मीदवार ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) की दावेदारी काफी मजबूत दिखाई दे रही है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Jyotiraditya Scindia: पिता के मौत के बाद राजनीति में उतरे ज्योतिरादित्य सिंधिया, जानें अब तक का सफर

ज्योतिरादित्य सिंधिया- (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

लोकसभा चुनाव में मध्यप्रदेश के गुना-शिवपुरी लोकसभा सीट से कांग्रेस उम्मीदवार ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) की दावेदारी काफी मजबूत दिखाई दे रही है. ज्योतिरादित्य सिंधिया गुना-शिवपुरी लोकसभा सीट से साल 2009 से लगातार जीतते आ रहे हैं. 1 जनवरी 1971 को ग्वालियर के सिंधिया राजघराने में जन्म के कारण नाम के आगे सिंधिया लगाते हैं. पैतृक महल जयविलास पैलेस में रहते हैं. इस भवन की कीमत करीब दो सौ मिलियन डॉलर बताई जाती है. करीब चार सौ कमरे वाले इस महल के 40 कमरों में म्यूजियम है. ज्योतिरादित्य सिंधिया ने 2014 की लोकसभा के दौरान जो हलफनामा दिया था, उसके मुताबिक उनके पास 32 करोड़ 64 लाख 412 रुपये संपत्ति है. ज्योतिरादित्य की 1984 बड़ौदा के गायकवाड़ घराने की प्रियदर्शिनी से शादी हुई. ज्योतिरादित्य की एक बुआ यशोधरा राजे शिवराज कैबिनेट में मंत्री रहीं तो दूसरी बुआ वसुंधरा राजे बीजेपी से राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री रहीं हैं.

Digvijay Singh: 50 सालों से कांग्रेस पार्टी में कुछ ऐसा रहा दिग्विजय सिंह का राजनैतिक सफर


ज्योतिरादित्य सिंधिया का राजनैतिक सफर-

पिता माधवराव सिंधिया कांग्रेस के नौ बार रहे सांसद, दादी विजय राजे बीजेपी की कद्दावर नेता रहीं. कभी पिता भी माने जा रहे थे एमपी में सीएम पद के दावेदार, 30 सितंबर 2001 को विमान हादसे में मौत हो गई थी. जब पिता की मौत हुई, तब जाकर विदेश से पढ़ाई कर लौटे ज्योतिरादित्य ने राजनीति में उतरने का फैसला किया. 2002 में पहली बार पिता की परंपरागत गुना संसदीय सीट से चुनाव जीते. 2004 के लोकसभा चुनाव में दोबारा इसी सीट से बने सांसद. यूपीए-1 की मनमोहन सरकार में पहली बार 2007 में  केंद्रीय राज्य मंत्री बने. यूपीए-2 की मनमोहन सरकार में भी 2012 में रहे केंद्रीय राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार. दून स्कूल के बाद अमेरिका के हार्वर्ड यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन और स्टैनफोर्ड स्कूल से की एमबीए की पढ़ाई. 

Asaduddin Owaisi: अधिवक्ता बनने के बाद ओवैसी ने ऐसे शुरू किया राजनीतिक सफर, जानें यहां...

टिप्पणियां

ज्योतिरादित्य सिंधिया की संपत्ति-

ज्योतिरादित्य सिंधिया के पास करोड़ों रुपये की पैतृक संपत्ति है, जिसमें महल, कोठियों के साथ-साथ व्यक्तिगत तीन करोड़ रुपये की एफडीआर शामिल है. उनके पास एक पैतृक बीएमडब्ल्यू कार भी है. लोकसभा चुनाव में सिंधिया ने गुना-शिवपुरी संसदीय क्षेत्र से अपना नामांकन भरा, और इस दौरान दिए शपथ-पत्र में सिंधिया ने खुलासा किया है कि सिंधिया के पास पैतृक संपत्ति में 40 एकड़ में फैला ग्वालियर का जय विलास पैलेस है. इसके अलावा महाराष्ट्र में श्रीगोंड़ा में 19 एकड़ और लिंबन गांव मे 53 एकड़ जमीन है. इसके साथ ही रानी महल, हिरनवन कोठी, रैकेट कोर्ट, शांतिनिकेतन, छोटी विश्रांति, विजय भवन, पिकनिक स्पॉट, बूट बंगला, रेलवे कैरिज घंटी घर, इलेक्ट्रिक पॉवर हाउस रोशनी घर आदि रिहायशी संपत्तियां हैं. इन संपत्तियों की बाजार कीमत 2,97,00,48,500 रुपए है.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement