कुमार विश्वास ने 'आप' और कांग्रेस के बीच गठबंधन की कोशिशों को लेकर कही ये बात, वायरल हो गया Tweet

आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) से दूर होने के बाद कुमार विश्वास (Kumar Vishwas) के तेवर अरविंद केजरीवाल और उनकी टीम के लिए मुश्किल का सबब बन गए हैं

कुमार विश्वास ने 'आप' और कांग्रेस के बीच गठबंधन की कोशिशों को लेकर कही ये बात, वायरल हो गया Tweet

Kumar Vishwas ने एक बार फिर AAP पर साधा निशाना

खास बातें

  • कुमार विश्वास ने AAP पर कसा तंज
  • कांग्रेस के साथ गठबंधन की कोशिश पर किया ट्वीट
  • मनीष सिसोदिया को भी लिया निशाने पर
नई दिल्ली:

आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) से दूर होने के बाद कुमार विश्वास (Kumar Vishwas) के तेवर अरविंद केजरीवाल और उनकी टीम के लिए मुश्किल का सबब बन गए हैं. ट्विटर के माध्यम से कवि कुमार विश्वास (Kumar Vishwas) अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) और उनके करीबियों पर करारा प्रहार करते रहते हैं. इसी कड़ी में उन्होंने एक बार फिर आम आदमी पार्टी (AAP) को निशाने पर लिया है. कुमार विश्वास ने आम आदमी पार्टी और कांग्रेस (Congress) के बीच चल रही गठबंधन की कवायद पर तंज कसा है. कुमार विश्वास (Kumar Vishwas) ने ट्वीट किया कि दरवाजे पर जीभ दरवाज़े पर जीभ निकाल कर खड़े हुए आत्ममुग्ध बौने को जब कांग्रेस ने 50 बार 'लगभग मना' कर दिया तो आज 'लालायित' ने अपने 'निर्वीय-नायब' को जीभ निकलवाकर खड़ा कर दिया ! क्रांति का ऐसा वीभत्स-पतन, विश्व-राजनीति में दुर्लभ है ! बस कुछ दिन और, 100 अपराध पूरे होने वाले हैं... 'शिशुपाल-वध' तय

गौर हो कि दिल्ली में आम आदमी पार्टी  (AAP) और कांग्रेस (Congress) के बीच गठबंधन की संभावनाएं लगभग खत्म हो गई है. इस बीच मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने ट्वीट करते हुए कहा कि उन्होंने कहा कि अभी भी वक़्त है, अगर कांग्रेस (Congress) चाहे तो मोदी और शाह की जोड़ी को 18 सीटों (हरियाणा, दिल्ली और चंडीगढ़) पर हराया जा सकता है. कुमार विश्वास के ट्ववीट को मनीष सिसोदिया के इसी बयान से जोड़ कर देखा जा रहा है. 

बता दें कि आम आदमी पार्टी में नंबर दो की पोजिशन पर माने जाने वाले मनीष सिसोदिया ने कहा मोदी और शाह की जोड़ी देश के लिए खतरनाक है. इसे रोकने के लिए आप सभी भाजपा विरोधी संगठनों के साथ हाथ मिलाने को तैयार है. उन्होंने कहा कि अभी भी वक़्त है, अगर कांग्रेस चाहे तो मोदी और शाह की जोड़ी को 18 सीटों (हरियाणा, दिल्ली और चंडीगढ़) पर हराया जा सकता है. उल्लेखनीय है कि आप अभी तक पंजाब, हरियाणा और दिल्ली की 33 सीटों पर कांग्रेस के साथ गठबंधन की पहल कर रही थी. आप ने शुक्रवार को हरियाणा में जननायक जनता पार्टी (जजपा) के साथ गठबंधन की औपचारिक घोषणा की थी जबकि कांग्रेस ने सिर्फ दिल्ली में आप के साथ गठबंधन करने की मजबूरी को स्पष्ट कर दिया था. उन्होंने कहा कि कांग्रेस के प्रति जन्मजात विरोध के बावजूद आप ने मौजूदा हालात को देखते हुये गठबंधन की पहल की है. सिसोदिया ने कहा कि ये कांग्रेस को तय करना है कि इस समय प्राथमिकता मोदी और शाह की जोड़ी को हराना है या ज्यादा सीटों पर चुनाव लड़ने का रिकॉर्ड बनाना है. 
 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com