NDTV Khabar

Lok Sabha Election 2019: क्या पीएम मोदी के गृह राज्य में इस बार भी बीजेपी कर पाएगी करिश्मा, समझें- पूरी गणित

लोकसभा चुनाव की सरगर्मियां बढ़ गई हैं. इस बार भी सबकी निगाहें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गृह राज्य गुजरात (Gujarat) पर टिकी हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Lok Sabha Election 2019: क्या पीएम मोदी के गृह राज्य में इस बार भी बीजेपी कर पाएगी करिश्मा, समझें- पूरी गणित

पिछली बार बीजेपी ने गुजरात (Gujarat) की सभी सीटें जी़त ली थीं.

नई दिल्ली :

लोकसभा चुनाव की सरगर्मियां बढ़ गई हैं. इस बार भी सबकी निगाहें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गृह राज्य गुजरात (Gujarat) पर टिकी हैं. पिछली बार बीजेपी ने राज्य की सभी 26 सीटों पर जीत दर्ज की थी और पार्टी को 60 फीसद वोट मिले थे, लेकिन इस बार स्थिति बदली नजर आ रही है. खासकर 2017 में हुए विधानसभा चुनाव के बाद कांग्रेस गुजरात में मजबूती के साथ सामने आई है. आपको बता दें कि 182 सीटों के लिए हुए विधानसभा चुनाव में जहां बीजेपी को 99 सीटें मिली थीं. तो वहीं कांग्रेस के खाते में 77 सीटें गई थीं. इसके अलावा राज्यसभा के चुनाव में भी बीजेपी को अहमद पटेल से मुंह की खानी पड़ी थी. ऐसे में उम्मीद है कि इस बार गुजरात (Gujarat) की जंग एकतरफा नहीं होगी, बल्कि बीजेपी और मुख्य विपक्षी कांग्रेस के बीच रोचक मुकाबला देखने को मिलेगा. 

4.47 करोड़ मतदाता करेंगे भाग्य का फैसला


गुजरात में 23 अप्रैल को तीसरे चरण में मतदान होगा. राज्य में कुल 4.47 करोड़ मतदाता हैं जिनमें पुरुषों की संख्या 2.33 करोड़ और महिलाओं की संख्या 2.14 करोड़ है. इसके अलावा गुजरात (Gujarat) में इस साल होने वाले लोकसभा चुनाव के मद्देनजर कुल 1054 ट्रांसजेंडर वोटर दर्ज हैं. इनमें से 769 ऐसे वोटर्स हैं जो पहली बार मतदान में 

ये हैं गुजरात के चुनावी मुद्दे 
गुजरात के शहरी मतदाताओं के लिए रोजगार सबसे बड़ा चुनावी मुद्दा है. इसके अलावा सुरक्षा व्यवस्था, फसलों की उचित कीमत और सार्वजनिक परिवहन जैसी सुविधाएं भी चुनावी मुद्दों में शामिल हैं. इसके अलावा गुजरात में अलग-अलग समुदायों द्वारा आरक्षण की मांग अपने आप में बड़ा मुद्दा है.  

लोकसभा चुनाव का 'शंखनाद', हर बूथ में इस बार वोट डालने के बाद मिलेगी पर्ची, 10 बड़ी बातें

गुजरात : एक नजर में
महात्मा गांधी और सरदार पटेल के जन्म स्थान गुजरात (Gujarat History) को महापुरुषों की धरती भी कहा जाता है और यह देश के पश्चिमी भाग का सबसे महत्वपूर्ण राज्य है. गुजरात के पश्चिम में पाकिस्तान का सिंध प्रांत स्थित है, उत्तर में राजस्थान, दक्षिण में महाराष्ट्र राज्य, दमन, दीव और दादरा जैसे केन्द्र शासित प्रदेश और पूर्व में मध्य प्रदेश हैं. गुजरात की राजधानी गांधीनगर है और अहमदाबाद यहां का सबसे मुख्य शहर है. गुजरात का क्षेत्रफल लगभग 196,024 वर्ग किलोमीटर है. 2011 की जनगणना के अनुसार राज्य की कुल जनसंख्या 60,383,628 है. यहां की मुख्य भाषा गुजराती है. 

Lok Sabha Election 2019: आंकड़ों में दुनिया का सबसे बड़ा चुनाव, आइये जानते हैं कैसे है यह खास..

2014 में बीजेपी के 21 करोड़पति सांसद चुने गए थे 

आपको बता दें कि पिछली बार गुजरात की 26 सीटों में से 21 सीटों पर भाजपा के करोड़पति उम्मीदवारों को जीत मिली थी. गुजरात से जीत दर्ज करने वाले करोड़पतियों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी और अभिनेता परेश रावल शामिल थे. इसके अलावा भाजपा के अन्य करोड़पति सांसदों में सीआर पाटिल, पूनम मदाम, केसी पटेल, विमहामेधाल रदाड़िया, रामसिंह रथवा, मोहन कुन्दरिया, नारन कचादिया, कृति सोलंकी और दीप सिंह राठौड़ का नाम भी शामिल था. इनके अलावा जसवंतसिंह भाभोर, दर्शना जारदोश, प्रभु वसावा, हरि चौधरी, लीलाधर वघेला, जयश्री पटेल देवाजी फतेहपुरा और प्रभातसिंह चौहान भी गुजरात के करोड़पति सांसदों की सूची में शामिल थे. 

चुनाव की तारीख से 48 घंटे पहले जारी हों घोषणापत्र, चुनाव आयोग ने राजनीतिक दलों को दिया आदेश

टिप्पणियां

ये हैं गुजरात की लोकसभा सीटें 
1 - खेड़ा, 2- आणंद, 3 - सुरेंद्रनगर, 4 - जामनगर, 5 - पोरबंदर, 6 - भरूच, 7 - गांधीनगर, 8 - अहमदाबाद पूर्व, 9 - अहमदाबाद पश्चिम, 10- राजकोट, 11- भावनगर, 12- कच्छ, 13- पांचमहल, 14- वडोदरा, 15 - मेहसाणा, 16 - अमरेली, 17- छोटा उदयपुर, 18 - सूरत, 19- नवसारी, 20- वलसाड, 21- बनासकांठा, 22- साबरकांठा, 23- पाटन, 24- जूनागढ़, 25 - दाहोद, 26 - बारडोली

VIDEO: लोकसभा चुनाव का हुआ शंखनाद



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement