NDTV Khabar

उत्तर प्रदेश : मछलीशहर में बीएसपी से मात्र 181 वोटों से जीती BJP, पढ़ें ऐसी ही सीटें जहां कुछ भी हो सकता था

Election Results 2010 : उत्तर प्रदेश में बीजेपी तमाम कयासों और गढ़बंधन के चक्रव्यूह के बाद भी 62 सीटें  जीतने में कामयाब रही जबकि राजनीतिक पंडित 40 से ऊपर नहीं दे रहे थे.  इन 61 सीटों में तकरीबन 16 ऐसी सीटे हैं जो 50 हज़ार से काम की हार जीत वाली रहीं. जबकि 2 ऐसी है जो 50 हज़ार से ज़्यादा लेकिन 60 हज़ार कम की हार जीत वाली रहीं.  

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
उत्तर प्रदेश : मछलीशहर में बीएसपी से मात्र 181 वोटों से जीती BJP, पढ़ें ऐसी ही सीटें जहां कुछ भी हो सकता था

Lok Sabha Election 2019 : उत्तर प्रदेश में महागठबंधन बुरी तरह से फेल हो गया है (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कई सीटों पर हार-जीत का अंतर काफी कम
  2. बदल सकता था महागठबंधन का भाग्य
  3. कई जगह हुई कांटे की लड़ाई
नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश में बीजेपी तमाम कयासों और गढ़बंधन के चक्रव्यूह के बाद भी 62 सीटें  जीतने में कामयाब रही जबकि राजनीतिक पंडित 40 से ऊपर नहीं दे रहे थे.  इन 61 सीटों में तकरीबन 16 ऐसी सीटे हैं जो 50 हज़ार से काम की हार जीत वाली रहीं. जबकि 2 ऐसी है जो 50 हज़ार से ज़्यादा लेकिन 60 हज़ार कम की हार जीत वाली रहीं.  कहने का मतलब ये कि यहां कांटे की लड़ाई रही इस लड़ाई में भाजपा का पलड़ा ज़्यादा भारी रहा और नतीजों में बीजेपी 62, अपना दल 2, बसपा 10, सपा को 5 सीटें मिलीं. आपको बता दें कि अपना दल ने बीजेपी के साथ मिलकर चुनाव लड़ी हैं.  वहीं हार के बाद बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने एक बार फिर ईवीएम का मुद्दा उठाया है.  मायावती (Mayawati) ने चुनाव परिणाम आने के बाद ईवीएम को लेकर हमला बोलते हुये कहा कि जनता का विश्वास इससे हट गया है. उन्होंने कहा कि गठबंधन ने जो सीटें यूपी में जीती हैं वहां इन लोगों ने ईवीएम (EVM) में गड़बड़ी नहीं कराई ताकि जनता को शक न हो. उन्होंने कहा कि गठबंधन की पार्टियों बसपा (BSP), सपा और रालोद के सभी छोटे बड़े कार्यकर्ताओं ने पूरे तन-मन-धन से मेहनत और लगन से लगातार काम किया है. सभी का आभार प्रकट करती हूं खासकर सपा के प्रमुख अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav), रालोद के अजित सिंह ने अपनी पूरी ईमानदारी से काम किया है. उन्होंने कहा कि भाजपा के पक्ष में आये यह अप्रत्याशित परिणाम जनता के गले नहीं उतर पा रहे हैं. अब गठबंधन सपा, बसपा और रालोद के नेता तथा अन्य नेता आगे के बारे में सोचेंगे. 

हार पर मंथन करेगी कांग्रेस, कल CWC की होगी बैठक, इस्तीफे की पेशकश कर सकते हैं राहुल गांधी


1 हजार से भी कम हार जीत
सबसे पहले एक हज़ार से काम हार जीत वाली सीट देखते हैं ये सीट है मछली शहर की जहां भाजपा के बीबी सरोज ने बसपा केटी राम को मात्र 181 मतों से पराजित किया.  

इस बॉलीवुड एक्ट्रेस ने नरेंद्र मोदी को किया 'साष्टांग दंडवत प्रणाम' तो पीएम का यूं आया जवाब

10 हजार से भी कम हार-जीत का 
10 हज़ार से काम की हार जीत वाली सीट देखते हैं तो 3  ऐसी सीट हैं जो 10 हज़ार से काम हार जीत वाली हैं. इनमे मेरठ में भाजपा के राजेंद्र अग्रवाल बसपा के याकूब कुरैशी को 4729 मतों से पराजित किया तो  मुजफ्फरनगर से  भाजपा के संजय संजीव बालियान ने रालोद के चौधरी अजीत सिंह से 6526 मतों से शिकस्त दी. इसी तरह श्रावस्ती में बीएसपी के राम शिरोमणि में भाजपा के ददन मिश्र को 6768 मतों से हराया.

इन 10 राज्यों की सभी लोकसभा सीटों पर भाजपा का कब्जा, मोदी की आंधी ने सबको उड़ाया

50 के अंतर से हार-जीत 
10 हज़ार के बाद 50 से काम हार जीत वाली सीट पर नज़र डालते हैं तो 12 ऐसी सीट हैं जो 50 हज़ार से काम की हार जीत वाली हैं इनमें कन्नौज में भाजपा के सुब्रत पाठक ने  सपा की डिंपल यादव को 11416 मतों से हराया.   सुल्तानपुर में भाजपा की मेनका गांधी बसपा के चंद्र भद्र सिंह से 13260 मतों से जीतीं.  चंदौली में महेंद्र नाथ पांडे ने सपा के संजय चौहान को 13959 मतों से हराया.  बलिया में भाजपा के वीरेंद्र सिंह मस्त ने सपा के सनातन पांडे को 15519 मतों से हराया. बदायूं में भाजपा की संघमित्रा मौर्य सपा के धर्मेंद्र यादव से 18384 मतों से जीते. सहारनपुर 22417 यहां बसपा के फजलुर रहमान भाजपा के राघव लखन पाल से  बागपत में भाजपा के सत्यपाल सिंह रालोद के जयंत चौधरी से 23128 मतों से जीते.  फिरोजाबाद में भाजपा के चंद्र सेन जादौन सपा के अक्षय यादव से 28781 मतों से जीते बस्ती में भाजपा के हरीश द्विवेदी ने बसपा के रामप्रसाद को 30354 मतों से हराया. संत कबीर नगर में भाजपा के प्रवीण निषाद ने बसपा के भीष्म तिवारी को 35749 मतों से हराया.  कौशांबी में भाजपा के विनोद सोनकर ने सपा के इंद्रजीत सरोज को 39052 मतों से पराजित किया.  भदोही में भाजपा के रमेश बिंद ने बसपा के रंगनाथ मिश्र को 43615 मतों से हराया.

लोकसभा चुनाव : उत्तर प्रदेश में कांग्रेस की बुरी हार, राज बब्बर ने यूपी अध्यक्ष पद से दिया इस्तीफा

टिप्पणियां

60 हजार से अंतर से हार-जीत
इसके अलावा 2 ऐसी सीट भी हैं जिनमें हार जीत का अंतर 60 हज़ार से कम रहा. इनमें एक अमेठी की सीट है जिसमें राहुल गांधी  भाजपा की स्मृति ईरानी से 55120 मतों से हार गए. रॉबर्ट्सगंज में अपना दल के पकौड़ी लाल ने सपा के भाई लाल कोल को 54396 मतों से हराया.   साफ़ है कि इन काम मार्जिन वाली सीट से गढ़बंधन और कांग्रेस दोनों का गणित उत्तर प्रदेश में गड़बड़ाया है.

पीएम मोदी ने लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी से घर जाकर लिया आशीर्वाद​



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement