NDTV Khabar

उत्तराखंड में टिहरी गढ़वाल सीट पर क्या बीजेपी लगा पाएगी जीत की 'हैट्रिक', माला राज्य लक्ष्मी शाह फिर हैं प्रत्याशी

गौरतलब है कि भाजपा (BJP) ने  उत्तराखंड में 11 अप्रैल को पहले चरण में होने वाले चुनाव के लिये सभी पांचों सीटों पर घोषित उम्मीदवारों में दो नये चेहरों पर दांव खेला है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
उत्तराखंड में टिहरी गढ़वाल सीट पर क्या बीजेपी लगा पाएगी जीत की 'हैट्रिक', माला राज्य लक्ष्मी शाह फिर हैं  प्रत्याशी

माला राज्य लक्ष्मी शाह टिहरी गढ़वाल सीट से बीजेपी सांसद हैं

खास बातें

  1. लगातार 2 बार से सांसद हैं माला राज्य लक्ष्मी
  2. इस बार हैट्रिक लगाने की चुनौती
  3. उत्तराखंड में हैं 5 सीटें
नई दिल्ली:

उत्तराखंड में लोकसभा  की 5 सीटें हैं. साल  2014 के चुनाव में बीजेपी ने सभी सीटें जीती थीं और विधानसभा चुनाव में भी कांग्रेस को हराकर राज्य पर पूरी तरह से कब्जा कर लिया था. टिहरी गढ़वाल लोकसभा सीट पर बीजेपी सांसद मालाराज्य लक्ष्मीशाह ने 446733 (57%) वोट पाकर जीत दर्ज की थी.  दूसरे नंबर पर इस सीट पर कांग्रेस थी जिसे 254230 (32.75%) वोट मिले थे. तीसरे नंबर पर आम आदमी पार्टी और चौथे नंबर पर यहां बीएसपी रही थी. टिहरी गढ़वाल सीट से माला राज्यलक्ष्मी दो बार सांसद चुनी जा चुकी हैं और इस बार उनके सामने हैट्रिक लगाने की चुनौती है. कांग्रेस के टिकट पर यहां विजय बहुगुणा 2007 और 2009 में लोकसभा का चुनाव जीत चुके हैं. अब वह बीजेपी में शामिल हो चुके हैं. जबकि 2004 के चुनाव में बीजेपी से मनुजेंद्र शाह ने यहां से चुनाव लड़ा था. बीजेपी के सामने इस चुनाव में राज्य की पांचों सीटें बचाने की चुनौती होगी. 

वोट के लिए अनूठा अभियान, उत्तराखंड के दो DM ने गाना गाकर की लोगों से वोट देने की अपील


टिप्पणियां

गौरतलब है कि भाजपा (BJP) ने  उत्तराखंड में 11 अप्रैल को पहले चरण में होने वाले चुनाव के लिये सभी पांचों सीटों पर घोषित उम्मीदवारों में दो नये चेहरों पर दांव खेला है. इनमें एक वर्तमान प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट हैं और दूसरे पूर्व में प्रदेश इकाई की कमान संभाल चुके तीरथ सिंह रावत हैं . प्रदेश की पांचों सीटों पर काबिज भाजपा ने हालांकि, तीन अन्य सीटों पर अपने पुराने दिग्गजों, टिहरी से माला राज्यलक्ष्मी शाह, अल्मोड़ा से अजय टम्टा और हरिद्वार से रमेश पोखरियाल निशंक, पर ही भरोसा जताया है.

एमपी और उत्तराखंड में भी सपा-बसपा साथ​



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement