NDTV Khabar

Elections 2019: पीठासीन अधिकारी ने की डेटा में गड़बड़ी की कोशिश, चांदनी चौक के एक बूथ पर दोबारा हुई वोटिंग

आयोग ने प्रारूप में गलत जानकारी भरने के कारण पीठासीन अधिकारी को कारण बताओ नोटिस जारी किया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Elections 2019: पीठासीन अधिकारी ने की डेटा में गड़बड़ी की कोशिश, चांदनी चौक के एक बूथ पर दोबारा हुई वोटिंग

चुनाव आयोग ने 19 मई को हुए चुनाव को फिर से कराने का आदेश दिया था.

नई दिल्ली:

चांदनी चौक संसदीय सीट के बूथ नंबर 32 पर पीठासीन अधिकारी की गड़बड़ी की वजह से चुनाव आयोग को दोबारा मतदान कराना पड़ा. दरअसल इस बूथ के पीठासीन अधिकारी ने ईवीएम परीक्षण के लिए डाले गए वोट को डिलीट नहीं किया और अपनी गलती छिपाने के लिए वोटिंग डेटा में हेरफेर करने की कोशिश की. अधिकारियों ने सोमवार को बताया कि चुनाव आयोग ने पीठासीन अधिकारी के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करने और 19 मई को हुए चुनाव को फिर से कराने का आदेश दिया था.

यह भी पढ़ें: कांग्रेस नेता ने की बीजेपी कार्यकर्ता की गोली मारकर हत्या

अधिकारियों ने बताया कि ऐसा पाया गया कि पीठासीन अधिकारी ने 12 मई को परीक्षण के लिए डाले गए मतों को नहीं हटाने (डिलीट) की गलती को छिपाने के लिए प्रारूप 17ए में भरे विवरणों में हेरफेर की कोशिश की.


टिप्पणियां

यह भी पढ़ें: वोट डालकर आ रहे व्यक्ति की गोली मार कर हत्या, दोस्त गिरफ्तार

एक अधिकारी ने कहा कि परीक्षण के लिए डाले गए मतों को डिलीट नहीं करने के लिए उन्हें सजा नहीं होती लेकिन उन्होंने डेटा में हेरफेर करने की कोशिश की जो गंभीर अपराध है. उन्होंने कहा, 'उन्होंने प्रारूप में गलत जानकारी भरी. उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है और उनके खिलाफ कड़ी अनुशासनात्मक कार्रवाई शुरू की जाएगी.'  (इनपुट-भाषा)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement