NDTV Khabar

पीएम मोदी पर ममता का निशाना, कहा- राजनीतिक फायदे के लिए एक और बेइंतहा नौटंकी

एंटी-सैटेलाइट (ए-सैट) मिसाइल क्षमता के सफल प्रदर्शन के बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने की इसकी घोषणा, ममता बनर्जी ने लगाया आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन का आरोप

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पीएम मोदी पर ममता का निशाना, कहा- राजनीतिक फायदे के लिए एक और बेइंतहा नौटंकी

ममता बनर्जी ने मिशन शक्ति की घोषणा को लेकर पीएम मोदी को निशाना बनाया है.

खास बातें

  1. कहा- सरकार ने अपनी ‘एक्सपायरी डेट’ बीतने के बाद की मिशन की घोषणा
  2. ममता ने कहा कि वे इस बारे में चुनाव आयोग में शिकायत दर्ज कराएंगी
  3. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने डीआरडीओ को बधाई दी
नई दिल्ली:

एंटी-सैटेलाइट (ए-सैट) मिसाइल क्षमता के सफल प्रदर्शन मिशन शक्ति (Mission Shakti) के बाद पीएम मोदी (PM Narendra Modi) की ओर से की गई इसकी घोषणा को लेकर तृणमूल कांग्रेस (TMC) सुप्रीमो और पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने प्रधानमंत्री पर निशाना साधा है. उन्होंने इसे ‘राजनीतिक फायदा लेने के लिए बेइंतहा नौटंकी'कहा है.

देश ने बुधवार को एंटी-सैटेलाइट (ए-सैट) मिसाइल क्षमता का सफल प्रदर्शन किया. इसके बारे में पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की ओर से की गई घोषणा को लेकर उन पर निशाना साधते हुए ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने कहा कि लोकसभा चुनावों से पहले ‘‘राजनीतिक फायदा लेने के लिए की गई यह एक और बेइंतहा नौटंकी'' है.


ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने इसे आदर्श आचार संहिता का घोर उल्लंघन करार देते हुए कहा कि अपनी ‘‘एक्सपायरी डेट'' बीत जाने के बाद सरकार द्वारा इस मिशन की घोषणा की कोई जल्दबाजी नहीं थी. उन्होंने जोर देकर कहा कि ‘‘यह भाजपा (BJP) की डूबती नैया बचाने वाली ऑक्सीजन'' की तरह लग रहा है. ममता ने कहा कि वह इस बाबत चुनाव आयोग (EC) में शिकायत दर्ज कराएंगी.

DRDO हमें आपके काम पर गर्व है और PM को वर्ल्ड थियटर डे की बधाई- राहुल गांधी

उन्होंने कहा, ‘‘भारत का मिशन कार्यक्रम कई सालों से विश्व स्तरीय है. हमें अपने वैज्ञानिकों, डीआरडीओ, अन्य अनुसंधान एवं अंतरिक्ष संगठनों पर हमेशा से गर्व रहा है.'' ममता ने कहा कि अनुसंधान, अंतरिक्ष प्रबंधन और विकास एक सतत प्रक्रिया है जो वर्षों तक चलती है और ‘‘हमेशा की तरह मोदी हर चीज का श्रेय लेना चाहते हैं.'' ममता ने कहा कि इस उपलब्धि का श्रेय हमारे वैज्ञानिकों एवं अनुसंधान करने वालों को दिया जाना चाहिए, क्योंकि वह इसके असल हकदार हैं.

क्या है मिशन शक्ति? जब चीन ने किया था टेस्ट तो हुई थी बड़ी आलोचना, भारत ने कर दिया कारनामा

तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पश्चिम बंगाल के मंत्री फिरहाद हकीम ने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकर को दूसरों द्वारा किए गए काम या उनकी उपलब्धियों का श्रेय लेना बंद करना चाहिए.

VIDEO : भारत दुनिया की चौथी अंतरिक्ष महाशक्ति बना

टिप्पणियां

इस बीच, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एसैट प्रौद्योगिकी का सफल परीक्षण कर एक और मील का पत्थर हासिल करने के लिए रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) और समूचे वैज्ञानिक समुदाय को बधाई दी.

(इनपुट भाषा से)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement