मसूद अजहर घोषित हुआ वैश्विक आतंकी तो बीजेपी ने राहुल गांधी से कहा- दिल टूट गया होगा, है ना?

मसूद अजहर(Masood Azhar) के वैश्विक आतंकी घोषित होने पर बीजेपी(BJP) ने राहुल गांधी(Rahul Gandhi) पर निशाना साधते हुए पूछा है- दिल टूट गया होगा, है ना?

मसूद अजहर घोषित हुआ वैश्विक आतंकी तो बीजेपी ने राहुल गांधी से कहा- दिल टूट गया होगा, है ना?

आतंकी सरगना मसूद अजहर की फाइल फोटो.

नई दिल्ली:

जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को आखिरकार संयुक्त राष्ट्र ने वैश्विक आतंकवादी घोषित कर ही दिया. भारत की लंबी कोशिशों के बाद अजहर के खिलाफ मिली सफलता पर भारतीय कूटनीतिज्ञों ने प्रशंसा की है पर साथ ही यह शंका भी प्रकट की है कि इससे क्या आतंकवाद को एक नीति के तौर पर अपनाने वाले पाकिस्तान पर उसे त्यागने का दबाव बनेगा. उधर बीजेपी ने राहुल गांधी पर इस बहाने निशाना साधते हुए पूछा है- दिल टूट गया होगा, है ना? आज भारत खुश और गौरवान्वित है. आपको भी मुस्कुराने की कोशिश करनी चाहिए. बीजेपी ने राहुल गांधी के उस पुराने बयान के आधार पर निशाना साधा है, जिसमें उन्होंने पिछली बार चीन के अडंगा डालने पर मसूद अजहर के वैश्विक आतंकी घोषित न होने पर पीएम मोदी पर निशाना साधा था.चीन द्वारा अड़ंगा लगाए जाने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने आरोप लगाया था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग से डरे हुए हैं और चीन के खिलाफ उनके मुंह से एक शब्द नहीं निकलता है. राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने ट्वीट कर कहा था, ''कमजोर मोदी शी चिनफिंग से डरे हुए हैं. जब चीन भारत के खिलाफ कदम उठाता है तो उनके मुंह से एक शब्द नहीं निकलता है''. राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने दावा किया, ''मोदी की चीन कूटनीति : गुजरात में शी के साथ झूला झूलना, दिल्ली में गले लगाना, चीन में घुटने टेक देना रही''.

यह भी पढ़ें- राहुल गांधी बोले- कमजोर मोदी चीनी राष्ट्रपति से डरे हुए हैं, चीन के खिलाफ उनके मुंह से एक शब्द नहीं निकलता

भारत के लिए बड़ी कूटनीतिक विजय
भारत को उस समय बड़ी राजनयिक विजय हासिल हुई जब बुधवार को संयुक्त राष्ट्र प्रतिबंध समिति ने अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित कर दिया। इससे पहले चीन ने उसे प्रतिबंधित करने वाले प्रस्ताव पर लगी रोक को हटा लिया.    अजहर पर प्रतिबंध लगने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये, पूर्व विदेश सचिव सलमान हैदर ने कहा कि वह इसे एक ‘‘पक्ष में उठे बहुत बड़े कदम'' के रूप में देखते हैं.उन्होंने कहा कि भारत पिछले कुछ समय से इसकी कोशिश कर रहा था. चीन इसमें रोड़े अटका रहा था और भारत बार बार इसका प्रयास कर रहा था.पाकिस्तान में भारत के पूर्व उच्चायुक्त गोपालस्वामी पार्थसारथी इसे ‘‘बहुत बड़ी सफलता'' के रूप में देखते हैं. उन्होंने कहा, “इससे पाकिस्तान निश्चित रूप से अलग-थलग पड़ेगा. यह सवाल भी है कि क्या (पाकिस्तानी) सेना आतंकवाद का राजकीय नीति के एक तंत्र को तौर पर इस्तेमाल करना बंद करेगी.”राजदूत विष्णु प्रकाश ने कहा है कि यह अच्छा कदम है लेकिन हमें बहुत खुश नहीं होना चाहिये क्योंकि वैश्विक आतंकवादी हाफिज सईद जैसे आतंकवादी खुले आम घूम रहे हैं.

यह भी पढ़ें- बीजेपी ने चीन के बहाने किया राहुल गांधी पर हमला- 2009 में जब China ने मसूद अजहर पर आपत्ति की थी, तब ट्वीट किया था क्या?

यह प्रतीकात्मक जीतः उमर अब्दुल्ला
नेशनल कांफ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने बुधवार को कहा कि जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को संयुक्त राष्ट्र का द्वारा वैश्विक आतंकवादी घोषित करना सिर्फ ‘एक प्रतीकात्मक जीत' है, क्योंकि उसे वैश्विक आतंकी घोषित करने में पुलवामा हमले या कश्मीर में दहशतगर्दी का कोई उल्लेख नहीं किया गया है. उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘ कश्मीर में आतंकवाद या पुलवामा का कोई जिक्र नहीं है. यह चौंका देने वाला है कि प्रतीकात्मक जीत के लिए इतनी जल्दी सीआरपीएफ के जवानों की कुर्बानी को भुला दिया गया है.''जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री अब्दुल्ला ने कहा कि चीनी राजनयिकों के शब्दों के खेल ने भारत और पाकिस्तान, दोनों को कूटनीतिक जीत का दावा करने का मौका दे दिया है.    हालांकि उन्होंने माना कि संयुक्त राष्ट्र द्वारा अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करने का फैसला भाजपा के ‘कमजोर' प्रचार अभियान को गति देगा.    

वीडियो- बीजेपी ने चीन और मसूद अजहर को लेकर राहुल गांधी पर निशाना 

Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com