NDTV Khabar

विपक्षी पार्टियों का 'महा-मिलावट' तेल-पानी का मेल है, जो किसी काम नहीं आएगा : पीएम मोदी

Mera Booth Sabse Mazboot : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(PM Modi) ने मेरा बूथ-सबसे मजबूत कार्यक्रम में विपक्ष पर करारा वार किया. विपक्षी दलों के महागठबंधन को महा-मिलावट करार दिया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
विपक्षी पार्टियों का 'महा-मिलावट' तेल-पानी का मेल है, जो किसी काम नहीं आएगा : पीएम मोदी

Mera Booth Sabse Mazboot : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मेरा बूथ-सबसे मजबूत कार्यक्रम में विपक्ष पर निशाना साधा.

खास बातें

  1. पीएम नरेंद्र मोदी ने मेरा बूथ-सबसे मजबूत कार्यक्रम को किया संबोधित
  2. विपक्ष के महागठबंधन को बताया महा-मिलावट
  3. पीएम मोदी ने पार्टी कार्यकर्ताओं को दिए टिप्स
नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विपक्षी पार्टियों के महागठबंधन पर आज जमकर निशाना साधा. मौका था 'मेरा बूथ सबसे मजबूत' अभियान के तहत भारतीय जनता पार्टी (BJP) के कार्यकर्ताओं को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए संबोधित करने का. विपक्षी पार्टियों के महागठबंधन पर तंज कसते हुए पीएम मोदी ने कहा कि मिलावटी चीज सेहत के लिए खराब होती है और यह महामिलावट तो देश को ICU में डाल सकती है. पीएम मोदी ने कई उदाहरण भी दिए और कहा, ''याद करें कि कैसे कांग्रेस ने देवेगौड़ा जी का अपमान किया था? याद करें कि शरद राव पवार ने कांग्रेस क्यों छोड़ी थी? याद करें कि वामपंथियों ने ममता दीदी के साथ कैसा व्यवहार किया था और ममता दीदी ने वामपंथियों के साथ कैसा व्यवहार किया था? याद करें कि यूडीएफ और एलडीएफ में कितनी लड़ाईयां थीं?'' पीएम मोदी ने कहा, ''इस महा-मिलावट का हिस्सा कौन हैं? वो जो कभी एक दूसरे से आंख से आंख नहीं मिलाते थे और आज वे एक साथ मंच साझा कर रहे हैं?''  

यह भी पढ़ें- PM मोदी की अपील - विपक्ष को Fake News में महारत हासिल, ऐसी न्यूज शेयर करने से बचें 


अपने संबोधन में पीएम मोदी ने यूपी की राजनीति पर भी जमकर कटाक्ष किया. उन्‍होंने कार्यकर्ताओं को सपा और मायावती की कहानी याद दिलाई. पीएम मोदी ने कहा, ''याद करें कि सपा के लोगों ने मायावती जी के साथ कैसा व्यवहार किया था?'' पीएम मोदी ने कहा, ''यह महा-मिलावट तेल और पानी का मेल है. तेल और पानी के मेल से क्या होता है? इसके बाद न तो तेल किसी काम का रह जाता है और न ही पानी.'' 

यह भी पढ़ें- मायावती-अखिलेश ने पीएम मोदी को घेरा: देश में जंगी संकट के बादल छाए हैं और आप पार्टी की चिंता कर रहे

पीएम मोदी ने 1998-1999 में पचमढ़ी में आयोजित कॉन्क्लेव में कांग्रेस द्वारा पारित एक प्रस्ताव का जिक्र करते हुए कहा कि उस प्रस्ताव में उनका घमंड साफ झलक रहा था. उस प्रस्‍ताव में उन्होंने कहा थी कि हमें किसी सहयोगी की जरूरत नहीं है! हम अकेले ही ठीक हैं. पीएम मोदी ने कहा, ''एकला चालो रे... से लेकर 'हम साथ साथ है', यह कांग्रेस की मजबूरी की कहानी है.'' उन्‍होंने कहा कि महा-मिलावट के प्रभाव के बारे में पूछने से पहले, यह समझना जरूरी है कि महा-मिलावट को आगे क्यों किया जा रहा है. पीएम मोदी ने कहा कि अपना अस्तित्व बचाने के लिए कांग्रेस छोटे दलों का लाभ उठा रही है. ये मिलावट कांग्रेस की सरकार बनाने के लिए नहीं है बल्कि कांग्रेस का अस्तित्व बचाने के लिए है.

यह भी पढ़ें- हमारी न गति रुकेगी न प्रगति, पूरा देश जवानों के साथ, चुनाव अपने रंग में दिखेगा: पीएम मोदी

पीएम मोदी ने तमिलनाडु में बीजेपी की स्‍थ‍िति को लेकर कहा कि अब तो हमारा वहां बहुत ही सशक्त गठबंधन भी बन चुका है. लिहाज़ा तमिलनाडु में NDA को व्यापक सफलता मिलना तय है. पीएम मोदी ने केरल का भी जिक्र किया और कहा कि केरल के लोग, विशेष रूप से वहां के शिक्षित युवा एलडीएफ और यूडीएफ से तंग आ चुके हैं. 

पीएम मोदी ने कहा कि आज अगर भाजपा दुनिया का सबसे बड़ा राजनीतिक संगठन बन सका है तो इसकी सबसे बड़ी वजह पार्टी के भीतर का लोकतंत्र है. और अपने कार्यकर्ताओं के इसी सामर्थ्य पर ही 2019 के लोकतंत्र का महापर्व भी हमारे नाम होगा. पीएम मोदी अपने संवाद में कोयला घोटाला, 2-जी घोटाला, कॉमनवेल्थ घोटाले का जिक्र करने से नहीं चूके. उन्‍होंने कहा कि देश अभी इसे भूला नही है. जरा सी चूक हुई तो बिचौलियों की लूट फिर से शुरू हो जाएगी.

टिप्पणियां

वीडियो- पीएम मोदी ने कहा- पूरा देश जवानों के साथ



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement