NDTV Khabar

मीसा भारती: एमबीबीएस की टॉपर मीसा की पाटलिपुत्र में चुनावी परीक्षा, कुछ ऐसा रहा सफर

मीसा भारती (Misa Bharti) न सिर्फ एक राजनेता के तौर पर पहचानी जाती हैं, बल्कि पेशे से वह एक चिकित्सक भी हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मीसा भारती: एमबीबीएस की टॉपर मीसा की पाटलिपुत्र में चुनावी परीक्षा, कुछ ऐसा रहा सफर

मीसा भारती- (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

मीसा भारती (Misa Bharti) न सिर्फ एक राजनेता के तौर पर पहचानी जाती हैं, बल्कि पेशे से वह एक चिकित्सक भी हैं. राष्ट्रीय जनता दल (राजद) प्रमुख लालू प्रसाद यादव और राबड़ी देवी की बेटी मीसा भारती को बेबाक अंदाज में बयान देने और तमाम मुद्दों पर खुलकर बोलने के लिए भी जाना जाता है. मीसा भारती अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर काफी एक्टिव रहती हैं. 22 मई 1976 को बिहार के पटना में जन्मी मीसा ने 1999 को कंप्यूटर इंजीनियर शैलेंद्र कुमार से शादी की. दंपति के एक बेटा व दो बेटियां हैं. मीसा भारती एक चिकित्सक के साथ बिहार राज्य से एक सांसद और राज्यसभा सांसद हैं.

जीतन राम मांझी: मजदूरी से लेकर बिहार के मुख्यमंत्री बनने तक का सफर, ऐसा रहा जिंदगी का उतार-चढ़ाव

मीसा भारती का राजनैतिक सफर:


मीसा भारती ने साल 1993 में टिस्को कोटा के तहत महात्मा गांधी मेमोरियल मेडिकल कॉलेज, जमशेदपुर में एमबीबीएस कोर्स में दाखिला लिया और पटना से एमबीबीएस की परीक्षा में टॉप किया, जब उनकी मां राबड़ी देवी मुख्यमंत्री थीं. 2014 में एक चिकित्सक से राजनीतिज्ञ बनी मीसा भारती ने पाटलिपुत्र की लोकसभा सीट से चुनाव लड़ा. हालांकि यहां पर जीत नहीं पाई. ऐसा इसलिए क्योंकि, राजद पार्टी के बागी नेता राम कृपाल यादव से हार गई थीं, जो भाजपा में शामिल हो गए थे. बिहार के ग्रामीण इलाकों में लैंगिक समानता के लिए, वे महिला सशक्तीकरण, बालिका शिक्षा, महिलाओं के खिलाफ अपराध, राजनीति में महिलाओं की भागीदारी और नीतिगत मामलों में मीसा भारती दिलचस्पी लेती हैं. वह देशों के यात्रा-वृत्तांतों, इतिहास, संस्कृति और भू-राजनीति में भी रुचि रखती है.

Ajay Maken: परिवार से विरासत में मिले राजनीति के गुर, कॉलेज में पड़ी नींव, जानिए पूरा सियासी सफर

टिप्पणियां

लोकसभा चुनाव में मीसा का दांव:

लोकसभा चुनाव 2014 से पहले पाटलिपुत्र सीट पर राम कृपाल यादव का नाम राजद की ओर से तय माना जा रहा था, मगर ऐन वक्त लालू प्रसाद यादव ने राम कृपाल यादव को टिकट न देकर मीसा भारत को टिकट दे दिया, जिसके बाद राम कृपाल यादव बागी हो गए और बीजेपी ने मौके का फायदा उठाकर उन्हें टिकट दिया और वह पाटलिपुत्र से जीत कर लोकसभा पहुंच गए. अब 2019 लोकसभा चुनाव में अब तक जो तस्वीर सामने आई है, उससे साफ है कि इस बार भी पाटलिपुत्र लोकसभा सीट से राजद की ओर से मीसा भारती और भाजपा की ओर से राम कृपाल यादव के बीच ही मुकाबला होगा. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement