NDTV Khabar

लालकृष्ण आडवाणी के नाम मुरली मनोहर जोशी ने लिखा खत? जानें वायरल पत्र की सच्चाई

सोशल मीडिया पर वायरल यह चिट्ठी पूरी तरह से फर्जी है और इसकी शिकायत खुद मुरली मनोहर जोशी ने मुख्य चुनाव आयुक्त को पत्र लिख कर की है. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
लालकृष्ण आडवाणी के नाम मुरली मनोहर जोशी ने लिखा खत? जानें वायरल पत्र की सच्चाई

मुरली मनोहर जोशी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी का लालकृष्ण आडवाणी के नाम एक पत्र सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसमें ऐसे आरोप लगाए गए हैं कि बीजेपी ने उन दोनों मसलन मुरली मनोहर जोशी और लालकृष्ण आडवाणी को चुप करा दिया और उन्हें अपमानित कर पार्टी से बाहर निकाल दिया. मगर सोशल मीडिया पर वायरल यह चिट्ठी पूरी तरह से फर्जी है और इसकी शिकायत खुद मुरली मनोहर जोशी ने मुख्य चुनाव आयुक्त को पत्र लिख कर की है. 

मुरली मनोहर जोशी ने मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा को एक पत्र लिखा है. इस पत्र में उन्होंने चिट्ठी की जांच कराने की मांग की है. मुख्य चुनाव आयुक्त को लिखे चिट्ठी में मुरली मनोहर जोशी ने लिखा है कि - मेरे एक मित्र ने मुझे फोन पर बताया है कि सोशल मीडिया पर एक पत्र वायरल हो रहा है, जिसमें ऐसा चल रहा है कि मैंने लालकृष्ण आडवाणी के नाम यह चिट्ठी लिखी है.' उन्होंने आगे कहा कि मैंने इस प्रकार का कोई भी पत्र आडवाणी जी को नहीं लिखा है और कृपया इसकी जांच कराएं कि आखिर यह पत्र कहां से आया जो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया.'

दरअसल, शनिवार-रविवार को सोशल मीडिया पर लोगों ने मुरली मनोहर जोशी का पत्र समझ कर उनके फेक पत्र को शेयर किया. लोकसभा चुनाव में कानपुर से बीजेपी की ओर से टिकट नहीं दिए जाने की वजह से मुरली मनोहर जोशी पार्टी से नाराज चल रहे हैं. यही वजह है कि लोगों ने भी इस फेक पत्र पर विश्वास कर लिया. विश्वास करने की एक और वजह यह भी थी कि फर्जी पत्र लिखने वाले ने इस पर समाचार एजेंसी एनआई का लोगो लगा रखा था. हालांकि, बाद में एएनआई ने भी इसे फर्जी बताया था. 


टिप्पणियां

पिछले समय जब बीजेपी ने टिकट नहीं दिया था तो पार्टी के फैसले के बाद मुरली मनोहर जोशी ने कानपुर में अपने मतदाताओं को एक पत्र लिखा था और कहा था कि रामलाल ने उनसे चुनाव न लड़ने के लिए कह रहे हैं. बताया जा रहा है कि बीजेपी ने उम्र का हवाला देकर लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी समेत कई बुजुर्ग नेताओं के टिकट काटे हैं. 

बता दें कि इस बार पार्टी ने लालकृष्ण आडवाणी की जगह गांधीनगर से अमित शाह को टिकट दिया है. यह सीट 1991 से लालकृष्ण आडवाणी के नाम रही थी. गौरतलब है कि कुछ दिन पहले ही लोकसभा चुनाव 2019 के मद्देनजर भाजपा ने उत्तर प्रदेश के लिए 40 स्टार प्रचारकों की लिस्ट जारी की थी. इस लिस्ट में पीएम मोदी समेत कई दिग्गज नेताओं के नाम हैं, मगर लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी का नाम नहीं था. 
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement