NDTV Khabar

Lok Sabha Election 2019: पार्टी की इच्छा के बावजूद NCP प्रमुख शरद पवार नहीं लड़ेंगे लोकसभा चुनाव, बताई यह वजह

शरद पवार (Sharad Pawar) लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) नहीं लड़ेंगे. शरद पवार ने कहा, 'मुझे लगा कि मेरे परिवार के दो सदस्य इस बार चुनाव लड़ रहे हैं इसलिए मुझे चुनाव न लड़ने का फैसला लेने का यह सही समय लगा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Lok Sabha Election 2019: पार्टी की इच्छा के बावजूद NCP प्रमुख शरद पवार नहीं लड़ेंगे लोकसभा चुनाव, बताई यह वजह

NCP प्रमुख शरद पवार (Sharad Pawar) लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे,

खास बातें

  1. शरद पवार नहीं लड़ेंगे लोकसभा चुनाव
  2. महाराष्ट्र से राज्यसभा सांसद हैं शरद पवार
  3. यूपीए सरकार में कृषि मंत्री रह चुके हैं शरद पवार
नई दिल्ली:

शरद पवार (Sharad Pawar) लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे (Lok Sabha Election 2019). हालांकि शरद पवार की राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी चाहती है कि वह माढ़ा से चुनाव लड़ें, लेकिन पूर्व केंद्रीय मंत्री चुनाव लड़ना नहीं चाहता है. उन्होंने कहा, 'मुझे लगा कि मेरे परिवार के दो सदस्य इस बार चुनाव लड़ रहे हैं इसलिए मुझे चुनाव न लड़ने का फैसला लेने का यह सही समय लगा. उन्होंने कहा कि मैं पहले ही 14 बार चुनाव लड़ चुका हूं.' महाराष्ट्र के सबसे कद्दावर नेताओं में शुमार शरद पवार (NCP Chief Sharad Pawar) फिलहाल महाराष्ट्र से राज्यसभा सांसद हैं. महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री शरद पवार पिछली यूपीए सरकार में कृषि मंत्रालय के साथ-साथ उपभोक्ता, खाद्य एवं पीडीएस मंत्री भी रह चुके हैं.

यह भी पढ़ें: लोकसभा चुनाव के बीच में पड़ रहा है रमजान, मौलानाओं ने जताया ऐतराज


BJP पर बोला हमला
बता दें कि इससे पहले इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (EVM) के साथ छेड़छाड़ के आरोपों के बीच शरद पवार (Sharad Pawar) ने अपनी पार्टी के बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं से मतदान वाले दिन ईवीएम दिखाए जाते समय चौकन्ना रहने को कहा है. अनेक विपक्षी दल आरोप लगाते रहे हैं कि ईवीएम के साथ छेड़छाड़ हो सकती है. शरद पवार ने महाराष्ट्र के बीड जिले में पार्टी कार्यकर्ताओं को वीडियो-कान्फ्रेंसिंग से संबोधित करते हुए कहा था, 'भाजपा पर भरोसा नहीं किया जा सकता. मतदान वाले दिन आप सुबह मतदान केंद्रों पर जाएं और देखें कि मतदान सही तरीके से हो रहा है या नहीं.'

यह भी पढ़ें: बसपा प्रमुख मायावती का मोदी सरकार पर हमला, पूछा- क्या हवा-हवाई विकास हवा खाने गया?

बता दें कि इससे पहले बिहार में बीजेपी की सहयोगी लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के प्रमुख रामविलास पासवान ने भी इस साल चुनाव नहीं लड़ने की घोषणा की है. NDTV से बात करते हुए उन्‍होंने कहा, '50 साल बाद मैं अब अंतत: चुनाव नहीं लड़ूंगा.' पासवान हाजीपुर लोकसभा सीट से चुनाव लड़ते रहे हैं, लेकिन इस बार उन्‍होंने चुनाव नहीं लड़ने का फैसला किया है. बिहार की 40 सीटों में से 6 पर लोजपा चुनाव लड़ेगी और पासवान संभवत: राज्‍यसभा जाएंगे. ऐसे में हाजीपुर से चुनाव कौन लड़ेगा उसपर पासवान का कहना है कि 'हाजीपुर लोकसभा सीट पर मेरा उत्तराधिकारी कौन होगा ये पार्टी तय करेगी.

यह भी पढ़ें: लोकसभा चुनाव से पहले नोटबंदी पर घिर सकती है मोदी सरकार, RTI से हुआ है बड़ा खुलासा

बता दें कि लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) की तारीखों का ऐलान हो चुका है. इस बार कुल सात चरणों में चुनाव कराए जा रहे हैं. पहला चरण 11 अप्रैल को जबकि अंतिम चरण 19 मई को होगा. वोटों की गिनती 23 मई को होगी.

7 चरणों में होंगे लोकसभा चुनाव
चुनाव आयोग ने लोकसभा चुनाव की तिथियों की घोषणा (Lok Sabha Election 2019 Date, Schedule) कर दी है. इस बार 7 चरणों में लोकसभा चुनाव होंगे और 23 मई को नतीजे आएंगे. मुख्य चुनाव आयुक्त ने चुनाव तिथियों की घोषणा करते हुए कहा कि सभी एजेंसियों से राय ली. चुनाव खर्चे पर विशेष निगरानी रखी जाएगी. त्‍योहारों का ध्‍यान रखा गया. उन्होंने कहा कि इस बार चुनाव में 90 करोड़ लोग वोट डालेंगे. मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि हम चुनाव के लिए काफी पहले से ही तैयारी कर रहे थे. सभी राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों के चुनाव आयुक्त से बात की. उन्हें तैयारी करने के लिए कह दिया गया था. लॉ एंड ऑर्डर की सिचुएशन भी जांची गई. यह सब करने के बाद ही आज हम चुनाव की घोषणा करने की स्थित में हैं.

टिप्पणियां

1.5 करोड़ मतदाता पहली बार डालेंगे वोट, कुल 90 करोड़ लोग करेंगे मतदान
लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) की तारीखों का ऐलान हो चुका है. इस बार कुल सात चरणों में चुनाव कराए जा रहे हैं. पहला चरण 11 अप्रैल को जबकि अंतिम चरण 19 मई को होगा. वोटों की गिनती 23 मई को होगी. इस बार भी ऐसे मतदाताओं की संख्‍या बड़ी है जो पहली बार वोट डालेंगे. मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुनील अरोड़ा ने रविवार को कहा कि इस बार लोकसभा चुनाव में मतदान करनेवालों की संख्या लगभग 90 करोड़ होगी. उन्होंने आगामी चुनाव को लोकतंत्र का सबसे बड़ा त्योहार बताया. उन्होंने कहा कि इस बार लगभग 10 लाख मतदान केंद्र होंगे, जो 2014 के आम चुनाव में रहे नौ लाख से अधिक है. कुल मतदाताओं में 1.50 करोड़ मतदाता 18-19 साल उम्र के होंगे. उन्होंने कहा, "निर्वाचन आयोग ने चुनाव के लिए एक बहुत ही व्यापक तैयारी की है."

VIDEO: लोकसभा चुनाव में 90 करोड़ वोटर देंगे वोट


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement