NDTV Khabar

Election Results 2019: दो घंटे चली नितिन गडकरी और RSS नेता की बैठक, प्लान 'B' को लेकर कयास लगने शुरू

नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) के करीबी सूत्रों ने बताया कि आरएसएस नेता के साथ उनकी मुलाकात एग्जिट पोल के संदर्भ में "शिष्टाचार भेंट" थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Election Results 2019: दो घंटे चली नितिन गडकरी और RSS नेता की बैठक, प्लान 'B' को लेकर कयास लगने शुरू

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी. (फाइल तस्वीर)

नई दिल्ली:

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) के खत्म होने के बाद सामने आए एग्जिट पोल के नतीजों से एक दिन बाद आरएसएस (RSS) नेता भैय्याजी जोशी और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी की सोमवार को हुई बैठक को लेकर काफी चर्चा हो रही है. ज्यादात्तर एग्जिट पोल (Exit Polls) में भाजपा नेतृत्व वाले एनडीए की स्पष्ट बहुमत वाली सरकार बनती हुई दिख रही है. वोटों की मतगणना 23 मई को होगी. पोल ऑफ पोल्स के मुताबिक एनडीए (NDA) 300 से ज्यादा सीटों पर जीत हासिल कर सकता है. वहीं कांग्रेस (Congress) और उनके साथी दलों को 122 सीटें मिलती हई दिखाई गई थीं और अन्य दलों को 114 सीटें मिल सकती हैं.

नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) के करीबी सूत्रों ने बताया कि आरएसएस नेता के साथ उनकी मुलाकात एग्जिट पोल के संदर्भ में "शिष्टाचार भेंट" थी. सूत्रों ने बताया कि अगली सरकार में नितिन गडकरी भूमिका के बारे में चर्चा हुई. साथ ही बताया कि नितिन गडकरी आरएसएस के करीबी हैं, इसलिए उन्हें भरोसा दिलाया गया है कि उन्हें सरकार में 'अहम भूमिका' मिलेगी. करीब दो घंटे चली बैठक में भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने मीडिया से कहा कि वहां एक सरकारी स्कीम पर चर्चा की गई. 

Exit poll में मोदी सरकार की वापसी की संभावना, फिर भी BJP कर रही प्लान 'B' की तैयारी, जानें क्या है वजह...


वहीं केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने सोमवार को कहा है कि एग्जिट पोल अंतिम परिणाम नहीं हैं लेकिन राजग सरकार द्वारा किए गए विकास कार्यों के दम पर भाजपा के एक बार फिर से सत्ता में आने का संकेत देते हैं. भाजपा के वरिष्ठ नेता गडकरी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की बायोपिक ‘पीएम नरेन्द्र मोदी' का पोस्टर जारी होने के मौके पर बोल रहे थे. यह बायोपिक इसी शुक्रवार को प्रदर्शित होने जा रही है.

क्या बेमन हुई विपक्ष की बैठक? सोनिया, राहुल, माया, अखिलेश और ममता सहित कई बड़े नेता नदारद, जानें कौन-कौन हुआ शामिल

एक सवाल के जवाब में गडकरी ने कहा, ‘एग्जिट पोट अंतिम निर्णय नहीं हैं लेकिन संकेत हैं. हालांकि, एग्जिट पोल में जो बात सामने आती है, वह कमोबेश नतीजों में भी झलकती है.'' अधिकतर एग्जिट पोल में मोदी के दूसरी बार प्रधानमंत्री बनने का अनुमान जाहिर किया गया है. इनमें से कुछ एग्जिट पोल में भाजपा की अगुवाई वाले राजग को लोकसभा में जरूरी बहुमत का आंकड़ा 272 को पार कर जाने और 300 से अधिक सीटें मिलने की बात कही गई है.

Exit Poll के आंकड़े आने के बाद शिवसेना ने की राहुल गांधी और प्रियंका गांधी की तारीफ, जानें क्या कहा

गडकरी ने जोर देकर कहा कि मोदी के नेतृत्व में भाजपा की नयी सरकार का गठन होगा. प्रधानमंत्री पद के लिए उनके नाम पर विचार के बारे में पूछे जाने पर गडकरी ने कहा, ‘मैंने यह करीब 25 से 50 बार स्पष्ट किया है. हमने मोदीजी के नेतृत्व में चुनाव लड़ा है और वह निश्चित रूप से एक बार फिर प्रधानमंत्री बनेंगे. देश के लोग एक बार फिर भाजपा, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और पांच साल में हमारे द्वारा किए गए काम को समर्थन दे रहे हैं... और एग्जिट पोल संकेत हैं.'

टिप्पणियां

किसकी सरकार बना रहा है सट्टा बाजार, जानें- BJP और कांग्रेस को मिलेंगी कितनी सीटें

Video: रणनीति: पोल ऑफ पोल्स में एनडीए की बन रही है सरकार



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement