BJP को हमेशा 'सांप्रदायिक पार्टी' माना, कांग्रेस से भी 'बड़ा खतरा' है NDA: नवीन पटनायक

ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने एनडीटीवी से कहा कि उन्होंने 'भाजपा को हमेशा एक सांप्रदायिक पार्टी माना है.'

BJP को हमेशा 'सांप्रदायिक पार्टी' माना, कांग्रेस से भी 'बड़ा खतरा' है NDA: नवीन पटनायक

नवीन पटनायक ने एनडीए को खतरा बताया.

नई दिल्ली:

ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने एनडीटीवी से कहा कि उन्होंने 'भाजपा को हमेशा एक सांप्रदायिक पार्टी माना है.' हालांकि, उन्होंने अपने पुरानी सहयोगी पार्टी बीजेपी के साथ साझेदारी को लेकर कहा कि वे (बीजेपी) पहले बहुत कम सांप्रदायिक थे. इतना ही नहीं, नवीन पटनायक ने एनडीए को कांग्रेस से बड़ा खतरा बताया. दरअसल, 1998 से 2009 के बीच तक नवीन पटनायक की बीजू जनता दल (BJD) भाजपा के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) सरकार की सहयोगी पार्टी थी. 

आखिर ओडिशा की राजनीति में जीरो से हीरो कैसे बने नवीन पटनायक, पढ़ें- पूरी कहानी

मुख्यमंत्री पटनायक ने कहा कि 2009 में कंधमाल क्षेत्र में सांप्रदायिक हिंसा भड़कने के बाद उन्हें भाजपा के 'असली रंग' का पता चला, जिसके बाद उन्होंने भाजपा के साथ अपने संबंधों को समाप्त कर दिया. बता दें कि विश्व हिंदू परिषद के नेता की हत्या के बाद भड़के दंगों में स्थानीय ईसाईयों को भीड़ ने निशाना बनाया था. 

देखें नवीन पटनायक की एनडीटीवी से खास बातचीत:

चुनाव से ठीक पहले नवीन पटनायक की पार्टी को लगा बड़ा झटका, उपाध्यक्ष ने पार्टी से दिया इस्तीफा

हालांकि, बीजेडी एनडीए का कोई औपचारिक सदस्य नहीं है, लेकिन ऐसी उम्मीद जताई जा रही है कि बीजद ही एक ऐसी पार्टी है, जिसकी ओर बीजेपी रुख कर सकती है अगर वह बहुमत के संख्या बल से दूर रहती है तो. लेकिन जब नवीन पटनायक से पूछा गया कि क्या बीजेडी द्वारा बीजेपी को समर्थन देने में क्या भाजपा का 'सांप्रदायिक स्वभाव' आड़े आएगा, तो इस पर उन्होंने कहा कि हां, यह जरूर आएगा. 

ओडिशा की नवीन पटनायक सरकार पर पीएम मोदी ने किए तीखे प्रहार, पूछे ये 5 सवाल

ओडिशा में लोकसभा की 21 सीटें हैं और विधानसभा की 147 सीटे हैं, जहां एक साथ चार चरणों में चुनाव होंगे. ओडिशा में 11, 18, 23 और 29 अप्रैल को चुनाव होने हैं. 72 वर्षीय नवीन पटनायक राज्य में पांचवीं बार सत्ता में आने के लिए चुनावी मैदान में लड़ाई लड़ रहे हैं. 2014 के चुनावों में बीजद ने 21 संसदीय सीटों में से 20 सीटें जीती थीं. वहीं, भाजपा को महज एक सीट पर संतोष करना पड़ा था. इस बार विश्लेषकों को बीजद के वोट में स्विंग होने की उम्मीद दिख रही है और क्योंकि भाजपा पूर्वी राज्य में लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रही है. 

चुनाव से पहले नवीन पटनायक का बड़ा ऐलान: लोकसभा चुनाव में महिलाओं को 33 फीसदी सीटें देगी BJD

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

इससे पहले बीजू जनता दल के अध्यक्ष एवं ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने आरोप लगाया कि पूर्व सांसद बैजयंत पांडा उनके स्वास्थ्य के बारे में अफवाह फैला रहे हैं. पटनायक का बयान तब आया जब पांडा ने भाजपा उम्मीदवार के रूप में केंद्रपाड़ा लोकसभा सीट से पर्चा भरा. पांडा बीजद के टिकट पर चार बार सांसद रहे. पिछले साल उन्होंने पार्टी छोड़ दी थी. 

नवीन पटनायक ने एनडीटीव से कहा कि वह एनडीए को कांग्रेस के मुकाबले "बड़े खतरे" के रूप में देखते हैं. मैं उनमें से किसी (कांग्रेस या भाजपा) को दुश्मन नहीं मानता, लेकिन न ही मैं उन्हें दोस्त मानता हूं.' हालांकि, फिलहाल उन्होंने स्वीकार किया कि एनडीए बड़ा खतरा है.'