NDTV Khabar

कांग्रेस की 'न्याय' योजना पर बोले पी चिदंबरम: भारत के पास इस योजना को लागू करने की क्षमता, अर्थशास्त्रियों से ली सलाह

लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा ऐलान किए गए न्यूनतम आय गारंटी योजना को पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरमन ने चेन्नई में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर विस्तार से समझाया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कांग्रेस की 'न्याय' योजना पर बोले पी चिदंबरम: भारत के पास इस योजना को लागू करने की क्षमता, अर्थशास्त्रियों से ली सलाह

पी चिदंबरम (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कांग्रेस की न्याय योजना को पी चिदंबरम ने विस्तार से समझाया.
  2. उन्होंने कहा कि भारत के पास इस योजना को लागू करने की पूरी क्षमता.
  3. उन्होंने कहा कि हम 20 फीसदी सबसे गरीब परिवारों को चिन्हित करेंगे.
नई दिल्ली:

लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा ऐलान किए गए न्यूनतम आय गारंटी योजना को पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरमन ने चेन्नई में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर विस्तार से समझाया. कांग्रेस की 'न्याय' योजना  यानी न्यूनतम आय गारंटी योजना पर पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने कहा कि हम देश के 20 फीसदी सबसे गरीब परिवारों की पहचना करेंगे. साथ ही घोषणा पत्र में भी इस योजना को शामिल करेंगे. भारत के पास क्षमता है कि इस योजना को लागू कर सके. एक्पर्ट का एक पैनल इसे डिजाइन करेगा. पी चिदंबरम ने एक प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि इस योजना को चरणबद्ध तरीके से लागू किया जाएगा और इसके लिए अर्थशास्त्रियों से भी हमने सलाह ली है. 

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता तथा पूर्व केंद्रीय वित्तमंत्री पी. चिदम्बरम ने पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा घोषित की गई न्याय योजना को विस्तार से समझाते हुए चेन्नई में कहा, "न्याय योजना को चरणबद्ध तरीके से लागू किया जाएगा. इससे पांच करोड़ गरीब परिवारों को प्रतिवर्ष 72,000 रुपये दिए जाएंगे और 25 करोड़ लोगों को इसका फायदा मिलेगा.


कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कहा कि न्यूनतम आय योजना (Minimum Income Guarantee Scheme) के लिए उनकी पार्टी ने रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन (Raghuram Rajan) सहित दुनियाभर के प्रमुख अर्थशास्त्रियों से चर्चा की थी. राजस्थान के जयपुर में रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कांग्रेस पार्टी छह महीने से इस विचार पर काम कर रही थी, क्योंकि वह प्रधानमंत्री मोदी के '15 लाख रुपये बैंक खाते में डालने के झूठ को सच्चाई में बदलना चाहती थी.'

इस वादे की घोषणा के वक्त कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा था कि उनकी पार्टी की सरकार बनने पर देश के हर गरीब परिवार को सालाना 72 हजार रुपये दिए जायंगे. कांग्रेस की कार्य समिति की बैठक के बाद गांधी ने संवाददाताओं से कहा, '' पिछले पांच वर्षों में देश की जनता को बहुत मुश्किलें सहनी पड़ी हैं. हमने निर्णय लिया और हम हिंदुस्तान के लोगों को न्याय देने जा रहे हैं. यह न्याय न्यूनतम आय गारंटी है. ऐसी योजना दुनिया में कहीं नहीं है. 

राहुल गांधी ने कहा कि कहा, '' हम 12000 रुपये महीने की आय वाले परिवारों को न्यूनतम आय गारंटी देंगे. कांग्रेस गारंटी देती है कि वह देश में 20 फीसदी सबसे गरीब परिवारों में से प्रत्येक को हर साल 72000 रुपये देगी. यह पैसा उनके बैंक खाते में सीधा डाल दिया जाएगा.'' 

राहुल गांधी ने कहा, ''अगर मोदी जी सबसे अमीर लोगों को पैसा दे सकते हैं तो कांग्रेस भी सबसे गरीब लोगों को पैसा देगी.' इसे दुनिया की सबसे बड़ी न्यूनतम आय योजना करार देते हुए उन्होंने कहा कि यह गरीबी पर आखिरी हमला है। यह योजना चरणबद्ध तरीके से चलाई जाएगी. ‘‘यह बहुत ही प्रभावशाली और सोची समझी योजना है. हमने योजना पर कई अर्थशास्त्रियों से विचार विमर्श किया है.' गांधी ने कहा कि पूरा आकलन कर लिया गया. सब कुछ तय कर लिया गया. उन्होंने कहा कि इससे पांच करोड़ परिवार यानी 25 करोड़ लोगों को फायदा होगा.

टिप्पणियां

VIDEO: राहुल गांधी ने किया न्यूनतम आय गारंटी का वादा



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement