NDTV Khabar

बीकानेर में आतंक के आकाओं पर गरजे पीएम मोदी, यहां पढ़िए भाषण की 11 बड़ी बातें

राजस्थान के बीकानेर में पीएम मोदी ने विपक्ष पर करारा हमला बोला. इस दौरान उन्होंने कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर बात की. उन्होंने जनता के सामने सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक की कामयाबी के बारे में बताया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बीकानेर में आतंक के आकाओं पर गरजे पीएम मोदी, यहां पढ़िए भाषण की 11 बड़ी बातें
बीकानेर: राजस्थान के बीकानेर में पीएम मोदी ने विपक्ष पर करारा हमला बोला. इस दौरान उन्होंने कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर बात की. उन्होंने जनता के सामने सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक की कामयाबी के बारे में बताया. पाकिस्तान और आतंकवाद पर जमकर निशाना साधा. बेनामी संपत्ति कानून लागू और शत्रु संपत्ति कानून का जिक्र किया. इसके अलावा पीएम सेना की बढ़ती ताकत समेत कई मुद्दों पर जोरदार तरीके से गरजे. उन्होंने कहा, 'जब देश में मजबूत सरकार होती है, तब दुनिया भी भारत की बातों को गौर से सुनती है. जब मजबूत सरकार होती है, तब वन रैंक वन पेंशन का दशकों पुराना वादा पूरा किया जाता है. जब मजबूत सरकार होती है, तब ही दशकों से अटका हुआ बेनामी संपत्ति कानून लागू होता है. आतंकवाद पर हमला बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा, 'सीमापार आतंक के आकाओं को दिन-रात मोदी सपने में आता रहता है. सर्जिकल स्ट्राइक, एयर स्ट्राइक के बाद, परसों आतंक के आका मसूद अजहर पर हुई स्ट्राइक ने पाकिस्तान की हालत खराब कर दी है.'
पीएम मोदी की बीकानेर रैली की खास बातें
  1. देश को सही दिशा देने के लिए, देश के तेज गति से विकास के लिए मजबूत सरकार बहुत जरूरी होती है. जब देश में मजबूत सरकार होती है तब सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक जैसे फैसले लिए जाते हैं. जब देश में मजबूत सरकार होती है, तब डोकलाम जैसे संवेदनशील विषय पर अडिगता दिखाई जाती है. 
  2. बरसों तक कांग्रेस और उसके साथी, उन लोगों की संपत्तियों पर मेहरबान रहे, जो बंटवारे के समय पाकिस्तान चले गए थे. उनकी संपत्ति जब्त होनी थी, लेकिन कांग्रेस इसे भी टालती रही. ये हमारी ही मजबूत सरकार है जिसने शत्रु संपत्ति कानून लागू किया और 1800 करोड़ रुपए से ज्यादा की शत्रु संपत्ति जब्त की है.
  3. जब मजबूत सरकार होती है तब भारत का पानी भारत के ही काम आए, ये प्रबंध किया जाता है. वरना कांग्रेस की सरकारों ने दशकों तक शासन चलाया. भारत के हक का पानी पाकिस्तान जाता रहा. हमारा बीकानेर, हमारा राजस्थान बूंद-बूंद के लिए तरसता रहा. जो पाकिस्तान हमारा खून बहाए, हम अपना पानी बहाकर उसे कैसे दे सकते हैं? 
  4. जो पाकिस्तान भारत को हजारों घाव देने के सपने पाले, उसे हजारों-लाखों लीटर पाने देना क्या सही था? वो भी तब जब उस पानी पर भारत का अधिकार है. हमारे हक का पानी रुकना चाहिए था या नहीं? जो कांग्रेस इतने दशकों तक अपने हक का पानी तक नहीं रोक पाई, वो आतंकवाद को रोक सकती है क्या. आपके इस चौकीदार ने भारत के हक के पानी को और आतंक की कारस्तानी को, दोनों को ही रोकने के लिए काम किया है. 
  5. आजकल आप देख रहे हैं कि सीमापार आतंक के आकाओं को दिन-रात मोदी सपने में आता रहता है. सर्जिकल स्ट्राइक, एयर स्ट्राइक के बाद, परसों आतंक के आका मसूद अजहर पर हुई स्ट्राइक ने पाकिस्तान की हालत खराब कर दी है. आज उनको भी डर लगता है, जो 4 दशक से भारत को डरा रहे थे, दहला रहे थे. पाकिस्तान पर आतंक की फैक्ट्रियों पर ताला लगाने का दबाव जैसा आज है, वैसा पहले कभी नहीं था. ये वही पाकिस्तान है, जो कांग्रेस की मजबूर सरकार के समय में धौंस दिखाता था. ये वही पाकिस्तान है जो हर आतंकी हमले के बाद भारत को ही धमकाता था और कांग्रेस की सरकार जुबानी जमाखर्च करके चुप हो जाती थी.
  6. आज भारत अगर दुनिया में अपना दम दिखा पा रहा है तो वो सिर्फ हवा-हवाई नहीं है. इसके लिए हमने सैन्य नीति से लेकर कूटनीति तक व्यापक बदलाव किए हैं. आज भारत जल, थल, नभ और अंतरिक्ष सब जगह से दुश्मन पर स्ट्राइक करने में सक्षम है. आज कांग्रेस के बोफोर्स घोटाले के 30 साल बाद भारत में पहली बार 155 MM आर्टिलरी तोपों की सेना में तैनाती की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है. मेक इन इंडिया के तहत के-9 वज्र का उत्पादन हो चुका है. भारत की पहली आधुनिक आर्टिलरी गन 'धनुष' को भी सेना में शामिल करने का काम जारी है.
  7. अब हम रूस के सहयोग से AK-47 से भी आगे बढ़कर AK-203 का उत्पादन करने जा रहे हैं. कई दशकों से हमारे सुरक्षाबल इसकी मांग कर रहे थे. ये पूरा करने का काम भी हमारी ही सरकार ने किया है. हमारे देश के गौरव, लड़ाकू विमान 'तेजस' को भी कांग्रेस की सरकार डिब्बे में बंद करने की तैयारी कर चुकी थी. अब वायुसेना में नए तेजस शामिल कराने की प्रक्रिया भी हमारी ही सरकार ने शुरू की है.
  8. आज भारत सौर ऊर्जा के उपयोग के लिए पूरी दुनिया में अग्रणी भूमिका निभा रहा है. इंटरनेशनल सोलर अलायंस यानि ISA के रूप में एक बहुत बड़ा आंदोलन भारत की अगुवाई में चल रहा है. ये पहला अंतर्राष्ट्रीय संगठन है जिसका हेडक्वार्टर भारत में है. दुनिया के दर्जनों देश इसके सदस्य हैं.
  9. अभी 29 अप्रैल को नामदार ने अपने ही जिलाध्यक्ष के साथ जो किया, बाल काटने के बारे में जो बात कही, ये आप सभी ने मीडिया में पढ़ा है. कांग्रेस की यही असलियत है. कामगारों का अपमान करने में इनको बड़ा आनंद आता है. ये गरीब को, मेहनत करने वाले को उसकी हैसियत दिखाने से कभी नहीं चूकते. PM बाल काटने वाला हो, चौकीदार हो या फिर चायवाला, हर कोई अपने कौशल से खाता है. अपने परिश्रम से कमाता है. वो ऐसे नामदारों की कृपा का मोहताज नहीं है.
  10. 10 दिन में कर्ज माफ, नहीं तो मुख्यमंत्री साफ, किसानों को ये नारा किसने दिया था? कर्जमाफी हुई क्या? सीएम साफ हुआ क्या? मुझे बताया गया है कि कांग्रेस के इस झूठ की वजह से यहां बीकानेर में किसान खुदकुशी तक का कदम उठाने लगे हैं. कांग्रेस ने गरीब के जीवन की कभी परवाह नहीं की. ये लोग सिर्फ गरीबी का तमाशा बनाना जानते हैं. एक दौर था जब कांग्रेस के नामदार विदेशी मेहमानों के सामने सांप-नेवलों को नचाकर खुश हुआ करते थे. पूरी दुनिया ये देखकर कहती थी कि भारत तो सिर्फ सांप-नेवलों का देश है. आजादी के बाद भारत की उस समय जो छवि बनाई गई, वो दशकों तक ऐसी ही नहीं रही.नामदार परिवार की चौथी पीढ़ी भी यही काम कर रही है. वो ये भूल रहे हैं कि भारत अब 'स्नेक' से आगे बढ़कर 'माउस' थामकर आगे बढ़ रहा है. वो ये भूल रहे हैं कि भारत का नौजवान, अब कंप्यूटर-माउस- इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी के माध्यम से पूरी दुनिया को दिशा दिखा रहा है. 
  11. दशकों के अपने शासन में कांग्रेस ने कभी नारे दिए, कभी वायदे किए, लेकिन उन्हें पूरा करने का इरादा नहीं दिखाया. गरीब जब बीमार पड़ता था, तो उसे नारा मिलता था. गरीब को रोजगार चाहिए था, तो भी उसे नारा मिला, गरीब को अन्न चाहिए था, तो भी उसे नारा मिला. गरीब को शिक्षा चाहिए थी, तो भी उसे नारा मिला. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
टिप्पणियां

Advertisement