NDTV Khabar

PM मोदी आज बिहार में फूकेंगे चुनावी बिगुल, जमुई और गया में मांगेंगे सहयोगी दलों के लिए वोट

जमुई से भाजपा की सहयोगी पार्टी लोजपा के संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष चिराग पासवान मैदान में हैं वहीं गया से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जदयू ने पूर्व सांसद भगवती देवी के बेटे विजय कुमार मांझी को चुनावी मैदान में उतारा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
PM मोदी आज बिहार में फूकेंगे चुनावी बिगुल, जमुई और गया में मांगेंगे सहयोगी दलों के लिए वोट

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी. (फाइल तस्वीर)

पटना:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) बिहार में अपने लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) अभियान की शुरूआत मंगलवार को जमुई और गया लोकसभा क्षेत्र में जनसभाओं के संबोधन के साथ करेंगे. प्रधानमंत्री मंगलवार दोपहर जमुई में एक रैली को संबोधित करेंगे, जहां पार्टी (BJP) के राष्ट्रीय महासचिव और बिहार भाजपा के प्रभारी भूपेंद्र यादव और राज्य अध्यक्ष नित्यानंद राय भी उपस्थित रहेंगे. जमुई के बाद प्रधानमंत्री की गया में एक और रैली होगी, जहां उनके साथ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar), केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान और उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी मंच साझा करेंगे. 

बता दें, इन दोनों लोकसभा क्षेत्रों से भाजपा का कोई भी उम्मीदवार चुनाव नहीं लड़ रहा है. जमुई से भाजपा की सहयोगी पार्टी लोजपा के संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष चिराग पासवान मैदान में हैं वहीं गया से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जदयू ने पूर्व सांसद भगवती देवी के बेटे विजय कुमार मांझी को चुनावी मैदान में उतारा है. बिहार में लोकसभा चुनाव के सभी सात चरणों में वोट डाले जाएंगे. जमुई और गया में पहले चरण में यानी 11 अप्रैल को मतदान होना है.

'सब हिन्दू हैं...' क्या राहुल गांधी ने यह बयान देकर लोकसभा चुनाव का एजेंडा तय कर दिया है?


बिहार से पहले मंगलवार को पीएम मोदी ने ओडिशा में एक रैली को संबोधित किया था. ओडिशा में पीएम मोदी ने तीव्र विकास लाने में केंद्र का ‘सहयोग नहीं' करने को लेकर नवीन पटनायक सरकार की मंगलवार को आलोचना की और कहा कि उन्होंने उड़िया लोगों के कल्याण के लिए केंद्रीय योजनाओं का सहारा लिया. मोदी ने ओडिशा के इस पश्चिमी शहर में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा, ‘ओडिशा सरकार ने हमारे साथ सहयोग नहीं किया. उसकी उदासीनता के बावजूद हमने राज्य में विकास परियोजनाएं शुरू करने में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास किया.' उन्होंने कहा कि इस चौकीदार ने उड़िया लोगों का कल्याण सुनिश्चित करने के लिए केंद्र की योजनाओं का सहारा लिया.

कांग्रेस का घोषणा-पत्र: किसानों के लिए होगा अलग बजट, कर्ज नहीं चुकाया तो नहीं जाएंगे जेल, 10 बड़ी बातें

टिप्पणियां

उन्होंने दावा किया कि अगर 2014 के चुनाव के बाद ओडिशा में भाजपा ने सरकार बनाई होती तो राज्य में ‘सभी क्षेत्रों में तीव्र विकास' हुआ होता. केंद्र और राज्य में भाजपा की डबल-इंजन सरकार के लिए लोगों से वोट देने की अपील करते हुए मोदी ने कहा कि ओडिशा को 2017 में उत्तर प्रदेश और 2018 में त्रिपुरा द्वारा रचा गया इतिहास दोहराना चाहिए. अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए उन्होंने कहा कि राजग सरकार ने आठ लाख परिवारों के लिए पक्के मकान बनवाए, 24 लाख घरों में बिजली के कनेक्शन मुहैया कराए, 40 लाख माताओं और बहनों को गैस कनेक्शन दिए. उन्होंने कहा, ‘पिछले पांच वर्षों में हमने एक करोड़ 40 लाख लोगों के लिए बैंक खाते खोले, 50 लाख मकानों में शौचालय बनवाए, महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित की.'

लोकसभा चुनाव से पहले मायावती को झटका: BSP विधायक मौलाना जमील ने इस्तीफा देकर थामा कांग्रेस का हाथ



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement