NDTV Khabar

लोकसभा चुनाव 2019: महागठबंधन की पूरी राजनीति अफवाहों पर आधारित, 'नामदार' को हार के दाग से बचाने के लिए बैठक कर रही है कांग्रेस: पीएम मोदी

लोकसभा चुनाव 2019: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने झारखंड के देवघर में आयोजित एक चुनावी जनसभा में कांग्रेस, झारखंड मुक्‍ति मोर्चा समेत महागठबंधन पर जमकर हमला बोला.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
लोकसभा चुनाव 2019: महागठबंधन की पूरी राजनीति अफवाहों पर आधारित, 'नामदार' को हार के दाग से बचाने के लिए बैठक कर रही है कांग्रेस: पीएम मोदी

खास बातें

  1. पीएम ने झारखंड के देवघर में महागठबंधन पर साधा निशाना
  2. कहा- कांग्रेस तैयारी कर रही कि हार के बाद ठीकरा किसके सिर फोड़ें
  3. 'कांग्रेस ये तो कह नहीं सकती कि नामदार की वजह से हारी'
देवघर:

लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण में 19 मई को होने वाले मतदान के लिए सभी राजनीतिक दलों का प्रचार जोरों पर है. इसी क्रम में भारतीय जनता पार्टी के वरिष्‍ठ नेता और देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने झारखंड के देवघर में आयोजित एक चुनावी जनसभा में कांग्रेस, झारखंड मुक्‍ति मोर्चा समेत महागठबंधन पर जमकर हमला बोला. पीएम मोदी ने कांग्रेस के दो नेताओं क्रमश: सैम पित्रोदा और मणिशंकर अय्यर पर निशाना साधने के साथ अपने भाषण की शुरूआत की. पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस (Congress) तैयारी कर रही है कि हार के बाद, उसका ठीकरा पार्टी में किसके सिर फोड़ें? अब कांग्रेस ये तो कह नहीं सकती कि नामदार की वजह से हारी. ये तो वंशवाद के उसूलों के खिलाफ होगा. इसलिए आपने देखा होगा कि पांचवें चरण के बाद ही नामदार परिवार के दो सबसे करीबी दरबारियों ने अपनी तरफ से बैटिंग शुरू कर दी. वरना इनकी हिम्मत नहीं है कि बिना कप्तान से पूछे, मैच खेलने मैदान में उतर जाएं. एक बल्लेबाज तो नामदार के गुरु (सैम पित्रोदा) हैं जिन्हें मैदान में उतारा गया है. इन्होंने सिखों की भावनाओं का मजाक उड़ाते हुए कहा कि 84 का सिख दंगा 'हुआ तो हुआ'! ये जानते हुए भी कि सिख भाई-बहनों के पुराने जख्म हरे होंगे, नामदार ने अपने गुरु से ये बयान दिलवाया. दूसरे बल्लेबाज (मणिशंकर अय्यर), गुजरात चुनाव के दौरान हिट विकेट होने के बाद से ही मैदान से बाहर थे. मुझे गाली देने के बाद से छिपे हुए थे. वो भी अब मैदान में पहुंच गए हैं और जमकर मुझे गालियां दे रहे हैं.

ये भी पढ़ें: बंगाल हिंसा पर गरमाई राजनीति: कोलकाता में TMC और CPI तो दिल्ली में BJP का प्रदर्शन


पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस में इस समय बड़ी-बड़ी बैठकें चल रही हैं, व्यूह रचना की जा रही है कि कैसे नामदार को बचाया जाए, कुछ भी करके कांग्रेस अपने नामदार पर हार की जिम्मेदारी नहीं आने देना चाहती. इसलिए कांग्रेस में अभी नाखून कटाकर शहीद होने वालों की होड़ मची हुई है. अपनी सरकार की तारीफ करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि हमने पांच साल एक ईमानदार, एक पारदर्शी सरकार चलाकर दिखाई है. घोटाले का एक दाग इस सरकार पर नहीं है.

पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस हो या झारखंड मुक्ति मोर्चा, इन महामिलावटी लोगों के पास सिवाय झूठ के, प्रपंच के, ठगी के, कोई सोच नहीं है. इनकी पूरी राजनीति अफवाहों पर आधारित है. उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस ने इतने वर्षों तक देश में शासन किया, लेकिन उसने हमेशा आदिवासी समुदाय को सिर्फ एक वोटबैंक के रूप में इस्तेमाल किया है. जबकि अटल जी ने आदिवासी हितों को ध्यान में रखते हुए झारखंड राज्य ही नहीं बनाया बल्कि जनजातीय मंत्रालय भी उन्हीं की सरकार की देन था.

ये भी पढ़ें: PM की रैली के पास 'इंजीनियरिंग और लॉ ग्रेजुएट' बेच रहे थे 'मोदी पकौड़े', उठाकर ले गई पुलिस, देखें VIDEO

पीएम मोदी ने कहा कि वन-धन और जन-धन योजना के माध्यम से वन उपज का ज्यादा से ज्यादा लाभ आदिवासियों को मिले, उन्‍हें बिचौलियो से मुक्ति मिले, हम ये सुनिश्चित करने का प्रयास कर रहे है. उन्‍होंने कहा कि हमने वन उपज पर MSP का दायरा भी बढाया है. पहले 10 वन उपजों पर ही MSP मिला करता था, अब इसकी संख्या बढ़ाकर 50 कर दी गई है.

पीएम मोदी ने कहा कि एक तरफ हम झारखंड के विकास के लिए समर्पित हैं, वहीं दूसरी तरफ झारखंड मुक्ति मोर्चा और कांग्रेस के लोग घुसपैठियों के साथ खड़े हैं. लेकिन भाजपा का स्पष्ट मत है कि हम देश में एक-एक घुसपैठिए की पहचान करेंगे. ये हमारे संसाधनों के साथ-साथ हमारी सुरक्षा के लिए भी बहुत बड़ा खतरा हैं. उन्‍होंने कहा कि आतंकवाद ऐसी चुनौती है जिसका बहुत कड़ाई से मुकाबला किया जाना जरूरी है. लेकिन कांग्रेस और उसके साथियों की नीतियां ऐसी रही हैं कि वो आतंकवाद और नक्सलवाद को कुचल नहीं सकतीं.

ये भी पढ़ें: ममता बनर्जी मीम: जेल से छूटने के बाद BJP कार्यकर्ता प्रियंका बोलीं- नहीं मांगूंगी माफी

टिप्पणियां

पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस अब देशद्रोह का कानून भी खत्म करना चाहती है. यानी पत्थरबाज़ों, आतंकियों और उनके समर्थकों, नक्सलियों और उन्हें खाद पानी देने वालों को कांग्रेस खुली छूट देना चाहती है. भाजपा इन्हें ऐसा करने नहीं देगी. उन्‍होंने कहा कि हम नई रीति, नई नीति पर चल रहे हैं. हमारी सरकार के दौरान देश के वीर सपूतों ने आतंकियों को घर में घुसकर मारा है.

Video: कोलकाता: अमित शाह की रैली में भिड़े TMC छात्र संघ और BJP कार्यकर्ता



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement