NDTV Khabar

राहुल गांधी ने 1984 दंगे पर बयान के लिए सैम पित्रोदा को सुनाई खरी-खरी, PM बोले- 'नामदार शर्म तो आपको आनी चाहिए'

पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने पंजाब के बठिंडा में राहुल गांधी (Rahul Gandhi) पर हमला बोला. पीएम मोदी ने कहा कि, 'अरे नामदार, शर्म तो आपको आनी चाहिए.'

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
राहुल गांधी ने 1984 दंगे पर बयान के लिए सैम पित्रोदा को सुनाई खरी-खरी, PM बोले- 'नामदार शर्म तो आपको आनी चाहिए'

Election News: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राहुल गांधी पर बोला हमला.

नई दिल्ली:

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections 2019) के छह चरण पूरे हो चुके हैं. 7वें और अंतिम चरण से पहले सभी पार्टियां पूरे दमखम से प्रचार में जुटी हुई हैं. आखिरी चरण में कुल 59 सीटों पर मतदान होने हैं. नतीजे 23 मई को आएंगे. इन सबके बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी लगातार जारी है. कांग्रेस प्रमुख राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने अपनी पार्टी की ओवरसीज इकाई के प्रमुख सैम पित्रौदा (Sam Pitroda) को खरी खोटी सुनाई और कहा कि उन्हें (पित्रौदा को) 1984 के सिख विरोधी दंगे पर अपनी 'पूरी तरह गलत टिप्पणी' को लेकर शर्म आनी चाहिए और देश से माफी मांगनी चाहिए. इसे लेकर पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने पंजाब के बठिंडा में राहुल गांधी (Rahul Gandhi) पर हमला बोला. पीएम मोदी ने कहा कि, 'अरे नामदार, शर्म तो आपको आनी चाहिए.'

1984 को लेकर सैम पित्रोदा ने जो कुछ भी कहा उस पर उनको शर्म आनी चाहिए : राहुल गांधी


पीएम मोदी ने कहा, 'अरे नामदार (राहुल गांधी), शर्म आपको आनी चाहिए. 1984 के सिख दंगों को आज 35 साल हो रहे हैं. कांग्रेस की करतूतों की वजह से, आज तक सभी दंगा पीड़ितों को न्याय नहीं मिल पाया है. इंसाफ के नाम पर कांग्रेस वाले कमेटी बनाते गए, कमीशन बनते गए, इतने गंभीर मामले को रफा-दफा करते रहे. इतना ही नहीं, गंभीर आरोप वालों को कांग्रेस ने केंद्र में मंत्री बनाया. गंभीर आरोप वालों को चुनाव की बड़ी जिम्मेदारियां दी गईं, पंजाब का प्रभारी बनाया गया. उन्होंने कहा कि जब इसकी आलोचना हुई, पंजाब में जबरदस्त विरोध हुआ तो आपको उन्हें हटाना पड़ा था, लेकिन फिर आपने क्या किया? सारी आपत्तियों को नजरअंदाज, पंजाब की भावनाओं का अपमान करके, आपने उसी व्यक्ति को मध्य प्रदेश का मुख्यमंत्री बना दिया. नामदार, शर्म आपको आनी चाहिए.

अमित शाह ने पित्रोदा के 'हुआ तो हुआ' बयान को लेकर कांग्रेस पर तीखा हमला बोला 

पीएम मोदी ने कहा कि 1984 में जो कुछ हुआ, उसने पूरी इंसानियत को तार-तार कर दिया था. आपके इस चौकीदार ने इंसाफ का वादा आपसे किया था. उन्होंने कहा, 'आज मैं संतोष के साथ कह सकता हूं कि एक को फांसी के फंदे तक पहुंचाया है, बाकियों को उम्र कैद मिली है. जो अभी बचे हैं, वो भी ज्यादा दिन बाहर नहीं रह पाएंगे. उन्होंने कहा कि कांग्रेस की एक और ऐतिहासिक गलती है, जिसको सुधारने का काम अब हो रहा है.

सिख दंगों पर बयान से बवाल : बीजेपी ने कहा, पित्रोदा को कांग्रेस निकाल बाहर करे; सोनिया और राहुल माफी मांगें

पीएम मोदी ने कहा कि 1947 में कांग्रेस ने बंटवारा तो करा दिया, लेकिन हमारी आस्था के केंद्र करतारपुर जी साहिब को कुछ ही किलोमीटर के फासले से पाकिस्तान में जाने दिया. ये हमारी आस्था के प्रति कांग्रेस की असंवेदनशीलता का प्रतीक है. आज हम यहां कॉरीडोर बनाने का काम रहे हैं, तब भी कांग्रेस के लोग पाकिस्तान के गुण गा रहे हैं. उन्होंने कहा कि हुआ तो हुआ, वाले अहंकार में ही कांग्रेस ने अपना मेनिफेस्टो- अपना ढकोसला पत्र भी बनाया है. उसमें कहा गया है कि जान हथेली पर रखने वाले हमारे जवानों को हिंसा वाले इलाकों में जो विशेष अधिकार मिलता है वो हटा देंगे.

कांग्रेस नेता सैम पित्रोदा सिख दंगों पर बोले- 84 में हुआ तो हुआ, आपने क्या किया?

टिप्पणियां

पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस चाहती है कि आतंक के पैरोकारों और पत्थरबाज़ों को हमारे जवानों को लहुलुहान करने का लाइसेंस मिल जाए. जवानों के साथ-साथ किसानों के साथ भी कांग्रेस ने हमेशा ठगी ही की है. उन्होंने कहा कि
10 साल में एक बार कर्जमाफी का ढिंडोरा पीटते हैं और उसमें भी घोटाला कर देते हैं. यहां पंजाब में भी तो कांग्रेस ने किसानों से कर्जमाफी की बात थी. उसकी क्या सच्चाई है, ये भी आप अच्छी तरह जानते हैं. एक तरफ कांग्रेस के झूठे वायदे हैं, तो दूसरी तरफ हमारे ईमानदार प्रयास. हमने संकल्प लिया है 2022 तक किसान की आय दोगुनी करने का. इसके लिए बीज से बाज़ार तक काम हम कर रहे हैं.

VIDEO: सैम को शर्म आनी चाहिए: राहुल गांधी



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement