NDTV Khabar

जलपाईगुड़ी में पीएम मोदी की रैली, कहा- चिटफंड घोटाले के पीड़ितों से वादा करता हूं, पाई-पाई का हिसाब लिया जाएगा

पीएम मोदी ने कहा कि सरकार हर वो चीज देने के लिए काम कर ही है जो उनकी पहुंच से बाहर है बीमा योजना का जिक्र करते हुए कहा कि अब तक 3हजार करोड़ रुपये से ज्यादा की मदद की जा चुकी है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नई दिल्ली:

पश्चिम बंगाल से जलपाईगुड़ी में पीएम मोदी ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि जलपाईगुड़ी से अब रेल और हवाई सेवा की कनेक्टिविटी मजबूत हो जाएगी. उन्होंने कहा कि यहां के लोगों का जीवन आसान बनाने के लिए सरकार लगातार काम कर रही है. इसके साथ ही सालों पुरानी मांग हाईकोर्ट बेंच का उद्घाटन किया गया है. आज जो बेंच यहां के लोगों को मिली उसे कलकत्ता हाइकोर्ट ने उसे 20 साल पहले ही मंजूरी दी थी लेकिन यह सपना आज पूरा हुआ है. पीएम ने कहा कि कांग्रेस, टीएमसी और वामपंथी सरकारें जनहित के लिए नहीं सोचती हैं. पीएम मोदी ने जलपाईगुड़ी में आई जनता से कहा, 'आप चाय उगाने वाले हैं और हम चाय बनाने वाले हैं. पता नहीं 'दीदी' (ममता) को चायवालों से क्या दिक्कत है'. उन्होंने कहा कि टीएमसी सरकार ने  माटी को बदनाम कर दिया गया  है और मानुष को मजबूर कर दिया है. उत्तर पश्चिम बंगाल टी, टूरिज्म और टिंबर के लिए जाना जाता है. लेकिन सरकारों की वजह से यहां विकास नहीं हो पाया. पीएम ने कहा चाय के बागानों में काम करने वाले मजदूरों के बैंक खाते खुलवाए गए हैं और बजट में मजदूरों और चाय के बागानों में काम करने वाले  लोगों को लिए पेंशन की व्यवस्था की गई है जिसमें 3 हजार रुपये प्रति माह दिए जाएंगे. 

यह ऐसी 'मिलावट' है कि कौन कहां मिट जाएगा, किसी को नहीं पता : अखिलेश यादव



पीएम मोदी ने कहा कि सरकार हर वो चीज देने के लिए काम कर ही है जो उनकी पहुंच से बाहर है बीमा योजना का जिक्र करते हुए कहा कि अब तक 3हजार करोड़ रुपये से ज्यादा की मदद की जा चुकी है. मैंने यह योजना कोलकाता में शुरू की गई थी. उन्होंने कहा कि रसोई गैस का कनेक्शन, सस्ती दवाइयां मिल रहीं वह सब कुछ दिल्ली से भारत सरकार कर रही है. आवास योजना का जिक्र करते हुए कहा कि जलपाईगुड़ी में 65 हजार लोगों को घर दिए जा चुके हैं. पीएम ने कहा कि 2022 में तक हिंदुस्तान में कोई भी ऐसा परिवार नहीं हो गया है जिनका अपना पक्का घर नहीं होगा.

रॉबर्ट वाड्रा के मामले पर राहुल गांधी ने तोड़ी चुप्पी, जानें पत्रकार के सवाल पर क्या कहा

पीएम मोदी ने कहा कि जिनको आपने कम्युनिस्टों के कुशासन से मुक्ति कराने का जिम्मा दिया उन्होंने भी वैसा ही रुख अपना लिया है. 'दीदी' दिल्ली जाने के लिए परेशान हैं और बंगाल को 'दिल्लीगेट' के सहारे छोड़ दिया. पीएम ने अपने चिरपरिचित अंदाज में पूछा कि बंगाल से अब खून-खराबा खत्म हो चाहिए कि नहीं होना चाहिए.

पीएम मोदी ने कहा कि जो त्रिपुरा में वह पश्चिम बंगाल में भी होने वाला है. त्रिपुरा में बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने लाल झंडा उखाड़ दिया अब वहां सुखा शांति के सूरज उग आया है. पीएम मोदी ने कहा देश के इतिहास में पहली बार है जब आम जनता को लूटने वालों के पक्ष में कोई मुख्यमंत्री धरना देकर बैठ जाए. चिटफंड पीड़ितों से मैं वादा करता हूं कि पाई-पाई का हिसाब लिया जाएगा.

मिशन 2019: लोकसभा में विपक्ष पर बरसे पीएम मोदी

 

टिप्पणियां

 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement