NDTV Khabar

कांग्रेस प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने आखिर क्यों दिया इस्तीफा? ये है अंदर की कहानी

प्रियंका चतुर्वेदी के इस्तीफे के पीछे कई राजनीतिक कारण भी बताए जा रहे हैं. प्रियंका खुद चुनाव लड़ना चाहती थीं और उनकी नजर यूपी की मथुरा सीट पर थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कांग्रेस प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने आखिर क्यों दिया इस्तीफा? ये है अंदर की कहानी

प्रियंका चतुर्वेदी मथुरा से लोकसभा चुनाव लड़ना चाहती थीं.

खास बातें

  1. मथुरा से चुनाव लड़ना चाहती थीं प्रियंका चतुर्वेदी
  2. इसलिये राफेल पर प्रेस कॉन्फ्रेंस के लिए मथुरा को चुना था
  3. हालांकि पार्टी ने उन्हें नहीं दिया टिकट
नई दिल्ली :

प्रियंका चतुर्वेदी ने कांग्रेस के प्रवक्ता सहित पार्टी के सभी पदों से इस्तीफ़ा दे दिया है. प्रियंका चतुर्वेदी ने कल ही कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को अपना इस्तीफ़ा सौंपा था. इससे पहले बुधवार को उन्होंने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा की गई बदसलूकी को लेकर निराशा जाहिर की थी. प्रियंका चतुर्वेदी पिछले दिनों यूपी के मथुरा में थीं. यहां राफेल डील को लेकर हुई एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने उनके साथ अभद्र व अमर्यादित व्यवहार किया था. जिस पर उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने आरोपी कार्यकर्ताओं के विरूद्ध त्वरित कार्रवाई की थी. हालांकि बाद में घटना पर खेद प्रगट करते हुए कार्रवाई को निरस्त कर दिया गया था. इस पूरे मसले पर प्रियंका चतुर्वेदी ने  अफसोस प्रकट करते हुए दुख जाहिर किया. हालांकि प्रियंका चतुर्वेदी के इस्तीफे के पीछे कई राजनीतिक कारण भी बताए जा रहे हैं. प्रियंका खुद चुनाव लड़ना चाहती थीं और उनकी नजर यूपी की मथुरा सीट पर थी.

कांग्रेस प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने नाराज होकर पार्टी से इस्तीफा दिया


यही वजह है कि जब राफेल पर प्रेस कॉन्फ्रेंस करने की बात हुई तो उन्होंने मथुरा को चुना, लेकिन मथुरा की सीट कांग्रेस ने महेश पाठक को दे दी थी जो मुंबई के बिजनेसमैन हैं. अब सवाल उठता है प्रियंका के साथ मथुरा में जो बदसलूकी हुई उसके पीछे कौन है? प्रियंका मुंबई की एक और सीट से चुनाव लड़ना चाहती थीं जो संजय निरूपम को मिल गई. वजह ये बताई गई कि संजय निरूपम मुंबई प्रदेश अध्यक्ष के नाते पिछले 5 सालों से सड़कों पर आंदोलन करते रहे हैं. दूसरा, कांग्रेस ने मुंबई में प्रिया दत्त और उर्मिला मातोंडकर यानी दो महिलाओं को टिकट दे दिया था. तीसरी महिला उम्मीदवार के लिए अब वहां जगह नहीं बन रही थी. राजनीति के जानकार मानते हैं कि प्रियंका के इस तात्कालिक फ़ैसले के पीछे भले ही मथुरा की घटना हो लेकिन उसके पीछे एक गहरी राजनीतिक सोच भी है. 

प्रियंका चतुर्वेदी के साथ कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने की बदसलूकी, ट्विटर पर छलका दर्द 

टिप्पणियां

Video: कांग्रेस प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी को ट्विटर पर धमकी



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement