राबड़ी देवी ने उठाया चुनाव आयोग पर सवाल- ट्रकों में पकड़ी जा रही EVM, ये कहां से आ रही है, कहां जा रही है?

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) के मतगणना से ठीक पहले यूपी-बिहार समेत देशभर में EVM और वीवीपैट की आवजाही पर राष्ट्रीय जनता दल (RJD) की नेता व लालू यादव की पत्नी राबड़ी देवी ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर चुनाव आयोग पर बड़ा सवाल उठाया है.

राबड़ी देवी ने उठाया चुनाव आयोग पर सवाल- ट्रकों में पकड़ी जा रही EVM, ये कहां से आ रही है, कहां जा रही है?

राबड़ी देवी (फाइल फोटो) व एवीएम बरामद होने की तस्वीर

खास बातें

  • राबड़ी देवी का आरोप
  • चुनाव आयोग पर उठाए सवाल
  • ट्विटर पर किए कई ट्वीट्स
नई दिल्ली:

लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) के मतगणना से ठीक पहले यूपी-बिहार समेत देशभर में EVM और वीवीपैट की आवजाही पर राष्ट्रीय जनता दल (RJD) की नेता व लालू यादव की पत्नी राबड़ी देवी ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर चुनाव आयोग पर बड़ा सवाल उठाया है. राबड़ी का आरोप है कि देशभर के स्ट्रॉन्ग रूम्स के आसपास ईवीएम की बरामदगी हो रही है. ट्रकों और निजी वाहनों में ईवीएम पकड़ी जा रही है. ये कहां से आ रही है, कहां जा रही है? कब, क्यों, कौन और किसलिए इन्हें ले जा रहा है? इनके अलावा राबड़ी ने तीन अन्य ट्वीट भी किए, जिसमें उन्होंने तेजस्वी यादव और बेटी रोहिणी के वोटिंग से जुड़े समस्या पर भी सवाल उठाया है.

यूपी और बिहार में EVM की 'संदिग्ध आवाजाही' से विपक्ष सकते में, चुनाव आयोग ने कहा- आरोप बेबुनियाद

राबड़ी देवी ने अपने पहले ट्वीट में लिखा, ''देशभर के स्ट्रॉन्ग रूम्स के आसपास ईवीएम की बरामदगी हो रही है. ट्रकों और निजी वाहनों में ईवीएम पकड़ी जा रही है. ये कहाँ से आ रही है, कहां जा रही है? कब, क्यों, कौन और किसलिए इन्हें ले जा रहा है? क्या यह पूर्व निर्धारित प्रक्रिया का हिस्सा है? चुनाव आयोग को अतिशीघ्र स्पष्ट करना चाहिए.'' उन्होंने दूसरे ट्वीट में लिखा, ''सीबीआई, ED की तरह चुनाव आयोग ने भाजपा से पहले गठबंधन किया, अब उसमें विलय कर बेशर्मी से काम कर रहा है. वोटिंग के दिन तेजस्वी यादव को फ़र्ज़ी तरीके से फंसाने और बदनाम करने के लिए उसकी जगह किसी और का फोटो लगा दिया गया ताकि बेवजह विवाद उत्पन्न कर नकारात्मकता व विघ्न पैदा किया जाए.''

राबड़ी देवी ने अपने तीसरे ट्वीट में तेजस्वी यादव द्वारा मतदान न कर पाने पर भी सवाल उठाया है. उनका कहना है कि ''नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के साथ चुनाव आयोग का ऐसा सलूक दुर्भाग्यपूर्ण है. सोचिए आम मतदाता के साथ कैसा होगा? चुनाव आयोग ने तेजस्वी की जगह किसी और का फोटो लगाने के मामले में क्या कारवाई की? इसका दोषी कौन है? तेजस्वी के साथ ही ऐसा क्यों किया गया? क्या साजिश रची जा रही थी?''

एग्जिट पोल से 'कहीं खुशी, कहीं गम' : बीजेपी में जश्न मनाने की तैयारी, कांग्रेस और विपक्ष के कार्यकर्ताओं में उत्साह कम


Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


राबड़ी ने आखिरी ट्वीट में अपनी बेटी रोहिणी के मतदाता सूची में नाम न होने पर भी सवाल किया है. उन्होंने लिखा, ''मेरी बेटी रोहिणी मतदान से एक दिन पहले सिंगापुर से चलकर पटना आई, लेकिन मतदाता सूची से उसका नाम नदारद था? भाजपा के कार्यकर्ता सह चुनाव आयोग अधिकारी बताएं उसका नाम सूची से क्यों और किसलिए काटा गया?''