NDTV Khabar

कांग्रेस की महिला वोटरों पर नजर- 'न्यूनतम आय योजना' के बाद राहुल गांधी ने महिलाओं से किया यह वादा

राहुल गांधी (Rahul Gandhi on Reservation) ने कहा कि कांग्रेस सत्ता में आई तो लोकसभा-विधानसभा चुनाव में महिलाओं के लिए 33 फीसदी आरक्षण लागू किया जाएगा साथ ही केंद्र सरकार की नौकरियों में भी महिलाओं को 33 फीसदी आरक्षण का लाभ मिलेगा. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कांग्रेस की महिला वोटरों पर नजर- 'न्यूनतम आय योजना' के बाद राहुल गांधी ने महिलाओं से किया यह वादा

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी. (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने सोमवार को ग़रीबों को 'न्यूनतम आय योजना' (Minimum Income Guarantee Scheme) का वादा करने के बाद मंगलवार को बताया कि पैसा परिवार की गृहिणी के अकाउंट में आएगा. राहुल गांधी (Rahul Gandhi on Reservation) ने राजस्थान के बूंदी में यह भी दोहराया कि कांग्रेस सत्ता में आई तो लोकसभा-विधानसभा चुनाव में महिलाओं के लिए 33 फीसदी आरक्षण लागू किया जाएगा साथ ही केंद्र सरकार की नौकरियों में भी महिलाओं को 33 फीसदी आरक्षण का लाभ मिलेगा. 

यह भी पढ़ें: राहुल गांधी के 'न्यूनतम आय गारंटी' वादे की नीति आयोग ने की आलोचना, बोला- यह कभी लागू नहीं होगा

राहुल गांधी ने गांधी ने रैली में उपस्थिति महिलाओं का जिक्र करते हुए कहा, 'जो न्याय योजना होगी उसके 72,000 रुपये जो बैंक खाते में जाएंगे, वो आपके नाम में जाएंगे. घर में जो महिला होगी, उसके बैंक खाते में सीधा पैसा जाएगा..तो न्याय की शुरुआत आपसे होगी.' राहुल गांधी ने कहा, 'हम संसद और विधानसभा में महिलाओं को 33 प्रतिशत आरक्षण देने का काम करेंगे. 2019 का चुनाव जीतने के बाद 33 प्रतिशत आरक्षण हम आपको दे देंगे और केंद्र सरकार में 33 प्रतिशत आरक्षण महिलाओं को रोजगार में दिया जाएगा.'


यह भी पढ़ें: गरीबों को सालाना 72 हजार रुपए, 25 करोड़ लोगों को लाभ, जानें राहुल गांधी के वादों की 10 बड़ी बातें

इससे पहले कांग्रेस राहुल गांधी (Rahul Gandhi News) ने कहा कि न्यूनतम आय योजना (Minimum Income Guarantee Scheme) के लिए उनकी पार्टी ने रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन (Raghuram Rajan) सहित दुनियाभर के प्रमुख अर्थशास्त्रियों से चर्चा की थी. राजस्थान में रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कांग्रेस पार्टी छह महीने से इस विचार पर काम कर रही थी, क्योंकि वह प्रधानमंत्री मोदी के '15 लाख रुपये बैंक खाते में डालने के झूठ को सच्चाई में बदलना चाहती थी.' उन्होंने कहा, 'छह महीने पहले हमने काम शुरू किया. बैंक खाते में पैसे डालने का, आइडिया तो सही है...मगर इसमें झूठ बोल दिया गया 15 लाख रुपये का. कांग्रेस के लोग बैठे और छह महीने काम किया और मैंने पूछा कि इस आइडिये को सच्चाई में कैसे बदला जाए. नरेंद्र मोदी ने 15 लाख रुपये बैंक खाते में डालने की बात की. इस सोच को कांग्रेस पार्टी पूरा कैसे करे?'

यह भी पढ़ें: राहुल गांधी बोले- 'न्यूनतम आय योजना' रघुराम राजन सहित दुनियाभर के अर्थशास्त्रियों की मदद से हुआ तैयार

उन्होंने कहा, 'छह महीने लगे, बड़े-बड़े अर्थशास्त्रियों से मैंने बात की. बिना किसी को बताए. भाषण नहीं किया. छह महीने से हम लगे हुए हैं. दुनिया के सबसे बड़े अर्थशास्त्रियों की सूची ले लो सबसे बात की...रघुराम राजन. एक के बाद एक करके सबसे बात की और कहा कि विचार अच्छा है. इसको हम पूरा करना चाहते हैं.'

टिप्पणियां

VIDEO: चुनाव से पहले राहुल का 'मास्टर स्ट्रोक'

(इनपुट: भाषा) 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement