NDTV Khabar

BJP के संकल्प पत्र को राहुल गांधी ने बताया 'बंद कमरे' में तैयार घोषणा-पत्र, कहा- घमंड झलक रहा है

बीजेपी के संकल्प पत्र पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की पहली प्रतिक्रिया आई है. बीजेपी के घोषणापत्र को राहुल गांधी ने बंद कमरे में तैयार किया गया बताया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
BJP के संकल्प पत्र को राहुल गांधी ने बताया 'बंद कमरे' में तैयार घोषणा-पत्र, कहा- घमंड झलक रहा है

राहुल गांधी (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

लोकसभा चुनाव 2019 के लिए सोमवार को भारतीय जनता पार्टी ने चुनावी घोषणा-पत्र के तौर पर अपना संकल्प पत्र जारी किया. बीजेपी के संकल्प पत्र पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की पहली प्रतिक्रिया आई है. बीजेपी के घोषणापत्र को राहुल गांधी ने बंद कमरे में तैयार किया गया बताया है. इतना ही नहीं, उन्होंने कहा कि कांग्रेस का घोषणा-पत्र चर्चा के माध्यम से तैयार किया गया है और यह सशक्त भारतीयों की आवाज है, मगर बीजेपी का घोषणा-पत्र एक बंद कमरे में तैयार किया गया है, जो अलग-थलग पड़ चुके आदमी की आवाज है. बता दें कि भाजपा ने संकल्प पत्र में देश के विभिन्न हिस्सों में चरणबद्ध तरीके से घुसपैठियों को निकालने के लिये एनआरसी लागू करने, जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा संबंधी अनुच्छेद 370, 35ए समाप्त करने तथा अयोध्या में राम मंदिर के शीघ्र निर्माण सहित कई वादे किये.


राहुल गांधी ने अपने ट्विटर अकाउंट से ट्वीट कर कहा कि 'कांग्रेस का घोषणापत्र विचार-विमर्श के माध्यम से तैयार हुआ. इसमें 10 लाख से अधिक भारतीय नागरिकों की आवाज शामिल है. यह समझदारी भरा और प्रभावशाली दस्तावेज है.'    उन्होंने दावा किया, ''भाजपा का घोषणापत्र बन्द कमरे में तैयार किया गया है। इसमें एक अलग-थलग पड़ चुके व्यक्ति की आवाज है. यह अदूरदर्शी और अहंकार भरा है.' गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव के लिए भाजपा ने सोमवार को 'संकल्प पत्र' के नाम से अपना घोषणापत्र जारी किया. इसमें भाजपा ने राष्ट्रीय सुरक्षा पर जोर देने के साथ आतंकवाद के खिलाफ ''जीरो टॉलरेन्स'' की प्रतिबद्धता दोहराई है.

क्या है बीजेपी के घोषणापत्र में

बीजेपी ने अपने घोषणापत्र ((BJP Manifesto) 2019) में छोटे और सीमांत किसानों को पेंशन देने वादा किया है. 60 वर्ष से उपर के किसानों को पेंशन मिलेगा. पार्टी का यह वादा मास्टर स्ट्रोक माना जा रहा है.छोटे और सीमांत किसानों के अलावा बीजेपी ने छोटे व्यापारियों को भी पेंशन देने का वादा किया है.पार्टी की इस घोषणा को एक बड़े कदम के तौर पर देखा जा रहा है. पार्टी ने अलग से जल शक्ति मंत्रालय भी बनाने का वादा किया है. इसके अलावा बीजेपी ने वादा किया है कि किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड पर एक लाख तक का  जो लोन मिलता था, उस पर अगले पांच साल के लिए कोई ब्याज नहीं देना होगा. उद्योग-धंधों की सुगमता के लिए राष्ट्रीय व्यापार आयोग के गठन का भी वादा किया गया.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने ‘संकल्प पत्र' जारी किया जिसमें किसानों एवं अन्य वर्गो के लिये अनेक कल्याण योजनाओं, आधारभूत ढांचा क्षेत्र में 100 लाख करोड़ रूपये के पूंजीगत निवेश और अगले पांच वर्षो में मध्यम वर्ग पर कर के बोझ को खत्म करने की दिशा में पहल करने का वादा किया गया है. इस अवसर पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘‘ देश को सभी क्षेत्रों में मजबूत बनाने में ‘राष्ट्रवाद हमारी प्रेरणा, अन्त्योदय दर्शन और सुशासन मंत्र' है ।'' उन्होंने कहा कि पार्टी भारत को 2047 तक विकसित राष्ट्र बनाना चाहती है जब देश आजादी के 100 वर्ष पूरा करेगा । मोदी ने कहा कि हम देश को समृद्ध बनाने, सामान्य लोगों के सशक्तीकरण को लेकर जन भागीदारी, लोकतांत्रिक मूल्यों को बढ़ावा देते हुए ‘एक मिशन, एक दिशा'को लेकर आगे बढ़ेंगे । 

भाजपा ने जोर दिया है कि 2022 में जब आजादी के 75 साल होंगे तब आजादी की जंग लड़ने वाले महापुरूषों के सपनों का भारत बनाने के लिए पार्टी ने 75 लक्ष्य तय किये हैं. इनमें कृषि, युवा एवं शिक्षा, आधारभूत ढांचा, रेलवे, स्वास्थ्य, अर्थव्यवस्था, सुशासन, समावेशी विकास, महिला सशक्तिकरण और सांस्कृतिक धरोहर का विषय शामिल है. संकल्प पत्र में कहा गया है कि ये 75 नियम एवं समयबद्ध लक्ष्य लोगों को 2022 तक उनकी सरकार के अंतरिम मूल्यांकन का अवसर प्रदान करेंगे. पार्टी के ‘संकल्प पत्र' में हाल ही में हुए सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक का जिक्र करते हुए आतंकवाद के खिलाफ ‘कतई बर्दाश्त नहीं करने' की नीति दृढ़ता से जारी रखने पर जोर दिया गया है.

भाजपा ने कहा है, ‘हमारी सुरक्षा नीति केवल राष्ट्रीय सुरक्षा के विषयों द्वारा निर्देशित होगी. इसके उदाहरण हाल ही में किये गए सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक हैं. हम आतंकवाद के विरूद्ध ‘जीरो टालरेंस' की नीति को पूरी दृढ़ता से जारी रखेंगे.' प्रधानमंत्री ने कहा कि देश आतंकवाद के समक्ष नहीं झुकेगा जो शांतिपूर्ण माहौल को खराब करते हैं और ऐसी ताकतों को पूरा जवाब दिया जायेगा. राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) के संदर्भ में ‘संकल्प पत्र' में कहा गया है कि घुसपैठ से कुछ क्षेत्रों की सांस्कृतिक और भाषायी पहचान में भारी परिवर्तन हुआ है और स्थानीय लोगों की आजीविका तथा रोजगार पर प्रतिकूल प्रभाप पड़ा है. ऐसे क्षेत्रों में प्राथमिकता पर एनआरसी का कार्य किया जायेगा. देश में चरणबद्ध तरीके से चिन्हित करके इसे लागू करेंगे. 

भाजपा के संकल्प पत्र में जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा देने संबंधी अनुच्छेद 370 तथा जम्मू कश्मीर के गैर स्थायी निवासियों को परिभाषित करने वाले अनुच्छेद 35ए को समाप्त करने का वादा किया तथा कश्मीरी पंडितों की घाटी में वापसी की दिशा में काम करने का संकल्प व्यक्त किया. इसमें तीन तलाक, निकाह..हलाला जैसी प्रथाओं का उन्मूलन करने और उन पर रोक लगाने के लिए एक कानून पारित करने का संकल्प व्यक्त किया. पार्टी ने संसद और राज्य विधानसभाओं में महिलाओं के लिये संविधान संशोधन के जरिये 33 प्रतिशत आरक्षण देने का भी अपने संकल्प पत्र में वादा किया. 

भाजपा का संकल्प पत्र ‘‘संकल्पित भारत, सक्षम भारत'' में तीन पन्ना किसानों को समर्पित है. इसमें 2022 तक किसानों की आय को दुगना करने के कार्य को मिशन रूप में पूरा करने की प्रतिबद्धता व्यक्त की है. साथ ही 60 वर्ष आयु पूरा करने वाले छोटे एवं सीमांत किसानों के लिये पेंशन योजना का वादा किया. प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना' का दायरा बढ़ाकर इसे देश के सभी किसानों के लिए लागू करने पर जोर दिया गया है. इसमें कहा गया है कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में स्थायी सदस्यता के लिये पूरा प्रयास किया जायेगा. संकल्प पत्र में 1 लाख रूपये तक के कृषि रिण को ब्याज मुक्त बनाने, 2025 तक देश को 5 लाख डालर की अर्थव्यवस्था बनाने, कर की घटी दर रखने तथा 2024 तक बुनियादी ढांचा क्षेत्र में 100 लाख करोड़ रूपये का पूंजीगत निवेश करने का वादा किया गया है.

टिप्पणियां

Video: संकल्प पत्र में जन-मन की बात



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement