NDTV Khabar

VIDEO: बक्सर में निर्दलीय उम्मीदवार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में लहराया तमंचा, कहा- 'संविधान की रक्षा के लिए...'

Results 2019: बक्सर से चुनाव लड़ रहे निर्दलीय उम्मीदवार रामचंद्र यादव (Ramchandra Yadav) हथियार लेकर कैमूर में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेस में पहुंच गए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

Results 2019: मतगणना से पहले EVM की विश्वसनियता को लेकर हंगामा मचा हुआ है. उपेंद्र कुशवाहा (Upendra Kushwaha) की पार्टी RLSP का  कहना की प्रजातंत्र की रक्षा के लिए हथियार भी उठा सकते हैं, आम आदमी पार्टी के सौरभ भारद्वाज का कहना है कि जान बूझकर हिंसा की स्थिति पैदा किया जा रहा है. इस तरह के सुर सुनाई दे रहे हैं, इसी को देखते हुए गृह मंत्रालय ने हिंसा की आशंका जताई है. गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों के डीजीपी और मुख्य सचिवों को इस सिलसिले में सावधान किया है. इस बीच यूपी में खास तौर पर मेरठ में सपा-बसपा कार्यकर्ता स्ट्रॉन्ग रूम के बाहर जमे हैं. यूपी ही नहीं देश भर में कई जगह इस तरह का मंज़र है. कल रालोसपा अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने अपने समर्थकों से कहा कि अगर ईवीएम को बचाने के लिए हथियार भी उठाना पड़े तो उठाइए. 

VIDEO: RLSP प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा का विवादित बयान, समर्थकों से बोले- EVM बचाने के लिए अगर हथियार...


उनके इस विवादित बयान के बाद बक्सर से चुनाव लड़ रहे निर्दलीय उम्मीदवार रामचंद्र यादव हथियार लेकर कैमूर में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेस में पहुंच गए. बक्सर से निर्दलीय उम्मीदवार रामचंद्र यादव ने कहा कि प्रजातंज की रक्षा के लिए और संविधान की रक्षा के लिए हमलोग लड़ने, मरने और जेल जाने के लिए तैयार हैं. उपेंद्र कुशवाहा जी ने जो बातें कही हैं इसके बाद सभी नेताओं को एकजुट हो जाना चाहिए. 

राबड़ी देवी ने उठाया चुनाव आयोग पर सवाल- ट्रकों में पकड़ी जा रही EVM, ये कहां से आ रही है, कहां जा रही है?

बता दें कि एक दिन पहले RLSP प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा (Upendra Kushwaha) ने अपने समर्थकों से कहा कि कई जगह से खबरें आ रही हैं कि ईवीएम मशीन को अभी इधर से उधर किया जा रहा है. उन्होंने समर्थकों से कहा कि ईवीएम को बचाने के लिए हथियार भी उठाना पड़े तो उठाइए.  

उपेंद्र कुशवाहा (Upendra Kushwaha) ने कहा कि ईवीएम से लदी गाड़ी पकड़ी जाने की खबर से जनता में इतना आक्रोश है कि इसे संभालना मुश्किल हो जाएगा. स्वभाविक रूप से इस तरह की घटना हो रही, इससे लोगों में आक्रोश हो रहा है. इसे संभालने की जिम्मेदारी राज्यों की सरकार, प्रशासन और भारत की सरकार के ऊपर भी है. लेकिन जब यही लोग कर रहे हैं और ये करेंगे तो जनता चुप नहीं बैठेगी, गठबंधन का कार्यकर्ता चुप नहीं बैठेगा.

टिप्पणियां

यह भी पढ़ें: Elections 2019: यूपी-बिहार में EVM की हेराफेरी और मशीनों के दुरुपयोग को लेकर चुनाव आयोग ने दिया यह बड़ा बयान

उन्होंने कहा कि जननायक कर्पूरी ठाकुर के समय में बूथ लूट की घटना होती थी और वह कहते थे कि जिस तरह से हमारे लिए हमारी इज्जत है, रोटी है उसी तरह से वोट है. इस वोट को कोई लूटना चाहे तो जरूरत पड़े तो इसे रोकने के लिए हथियार भी उठाइये. उन्होंने कहा कि आज बूथ लूट की घटना तो नहीं है, लेकिन रिजल्ट लूट की जो घटना की कोशिश हो रही है, अगर ऐसी कोई कोशिश हुई तो हथियार भी उठाना पड़े तो उठाना चाहिए.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement